लाहान अपने पुराने फर्म में वापस – नेपाल सरकार के मुँह में पोती कालिख

मनोज बनैता, लाहान, ८ मंगसिर ।

l-2
कुछ दिनो से ठंड पड़े लाहान का आन्दोलन बीते हुए दो दिन से अपने जानेवाले गरम मिजाज में दिख रहा है । लाहान की आवाम अब ये महसूस करने लगे हंै कि बगैर लाहान के गर्जन से ये खसवादी सुनने वाले नहीं हंै । मधेशी युवा लाहान के हरेक नुक्कड़ पर सरकार के विरोध में उतर आयी है । आज सवेरे से मधेशी युवा लोग हरेक सरकारी दफतरो के बोर्ड में नेपाल सरकार की जगह मधेश सरकार लिख रहे हंै । हजारों की तादाद में एकत्रित हुवे संर्घषशील युवा यातायात, विधुत, नापी, राजश्व, मालपोत, हुलाक लगायत के सरकारी दफतरो में मधेश सरकार लिखने का काम पूरा कर चुका है ।

l-1
मधेशी युवा धनेश्वर यादव, बिरु यादव, प्रयाग यादव और विजय महतो के नेतृत्व मे बड़ी सयंमता के साथ मधेश सरकार लिखने वाला काम को अंजाम दिया है । धनेश्वर यादव नेपाली प्रशासन को चुनौती देते हुवे कहा है कि “तुम्हारे डंडे और गोलीयों की बौछार से अब हम नहीं हंै डरनेवाले । निर्दोष जनता को सताने का काम बन्द करो वरना मधेशी युवा तुम लोगो को नही बख्सेगा ।”

l-3

संघिय समाजवादी फोरम के युवा नेता विजय महतो का कहना है पुलिस दंगा भड़काने का काम कर रही है । हमारे आन्दोलन में राज्य की तरफ से घुसपैठ करबा के गंगा जैसे पवित्र आन्दोलन को बदनाम करने की साजिश हो रही है । पुलिस गाली गलौज कर के आन्दोलनकारियों को भड़काने में लगे है ।”

l-4युवा नेता बिरु यादव ने कहा है कि अगर सरकार अभी भी अपनी बेबुनियादी हठ त्याग नहीं करता तो मधेश स्वतन्त्र देश बनने में अब ज्यादा समय नहीं लेगा । उनहोने ये भी कहा कि मरता क्या न करता, गान्धीवाद के सिद्धान्त पर चल रहा मधेश आन्दोलन अगर जरुरत पड़ी तो सुभाष चन्द्र बोस को भी जन्म दे सकता है ।

Loading...
%d bloggers like this: