लोक संस्कृति राष्ट्र की अतुलनीय सम्पत्ति है

लोक संस्कृति राष्ट्र की अतुलनीय सम्पत्ति है
नेपालगन्ज ÷(बाँके) पवन जायसवाल ।
111नेपाल सरकार के शान्ति तथा पुनर्निर्माण मन्त्री एकनाथ ढकाल ने काभ्रे में एक कार्यक्रम में कहा कि लोक संस्कृति राष्ट्र की अतुलनीय सम्पत्ति रही है इस लिये इस की सभी लोगों ने प्रवद्र्धन करना एकदम जरुरी है ।
बनेपा में काभ्रेली कलाकार समाज के द्वारा आयोजित अन्तर्राष्ट्रीय लोक
साँस्कृतिक महोत्सव–२०१६ की उद्घाटन करते हुये शान्ति तथा पुनर्निर्माण मन्त्री ढकाल ने कहा नेपाल एक बहु–साँस्कृतिक मुलूक होेने के कारण से लोक संस्कृति में विश्व के ही एक धनी राष्ट्र के रुप में नेपाल परिचित है, लेकिन पर्याप्त प्रचार प्रसार के IMG_8095अभाव में सीमित दायरा के भीतर रहना वाध्य है उन्हों ने बताते हुये अन्तर्राष्ट्रीय महोत्सव ने नेपाल कीे सही पहचान अन्तर्राष्ट्रीय क्षेत्र में देने में मदद पहुँचेगी उन्होंने विश्वास व्यक्त किया ।
अन्तर्राष्ट्रीय लोक साँस्कृतिक महोत्सव में भारत, नेपाल, इण्डोनेशिया,
मेक्सिको, बंगलादेश, श्रीलंका, इस्टोनिया लगायत के देशों से आये लोक सा“स्कृतिक
कलाकारों की उल्लेख्य सहभागिता रही थी । हजारों दर्शकों के वीच में विभिन्न देश के कलाकारों ने अपनी –अपनी रोचक और मौलिक लोक संस्कृति प्रस्तुत
किये थे । महोत्सव में सहभागी हुये कलाकारों को शान्ति तथा पुनर्निर्माण मन्त्री एकनाथ ढकाल ने प्रमाण–पत्र तथा Kalakarप्रशंसा पत्र वितरण किया था ।Kalakar _n

Loading...
%d bloggers like this: