ल्याेसार की राैनक शुरु

बेसीशहर, लमजुङ –

गुरुङ समुदाय का आदिम स्थान माने जाने वाले  लमजुङ में ल्होसार नयाँ वर्ष की रौनक शुरु  हाे गई है। बौद्ध धर्मअन्तर्गत महायान सम्प्रदाय के सांस्कृतिक पर्व ल्होसार लमजुङ के गुरुङ बस्ती के विभिन्न गाँव में विशेष रौनक देखा जा सकता है ।

गुरुङ समुदाय द्वारा माने जाने वाले तिथि के अनुसार च्यल्हो चरा वर्ग काे बिदा कर खिल्हो कुकुर वर्ग का स्वागत करते हुए शनिवार इस वर्ष का तमु ल्होसार मनाया जाएगा। ‘ल्हो’ का मतलब वर्ष तथा ‘सार’ का अर्थ नया माना जाता है । प्रत्येक वर्ष ल्होसार के अवसर में अपने मान्यजन से आशीर्वाद लिया अाैर शुभकामना आदानप्रदान किया जाता है ।

ल्होसार के अवसर में गुरुङ समुदाय में विविध साँस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किया जाता है । जिला के विभिन्न गाँव में विविध साँस्कृतिक कार्यक्रम अाैर प्रतियोगिता, शुभकामना तथा भोज खाने कार्यक्रम आयोजना हाेता है ।

ल्होसार के अवसर में सदरमुकाम बेसीशहर सहित जिला के भुजुङ, घनपोखरा, ताघ्रिङ, घेर्मु, पसगाउँ, खुदीको सिउरुङ, ढंगै, राइनास, पाचोक, इलमपोखरी लगायत के गाँव में धूमधाम के साथ ल्होसार मनाया जाता है ।

 

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
%d bloggers like this: