वर्तमान संविधान सभी को संबोधन करने में सक्षम है : प्रधानमंत्री

विराटनगर फाल्गुन २२ गते ।
kp.oliप्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने कहा है कि संविधान देश में रहने वाले सभी जात जाति को संबोधन करने में सक्षम है । नेकपा एमाले के तीन महीने संविधान अभियान के अन्तर्गत प्रदेश नम्बर १ बिराटनगर में शनिबार हुए आमसभा को समबोधन करते हुए प्रधानमंत्री ओली ने कहा कि वर्तमान संविधान ने आदिबासी जनजाति, मधेशी दलित और महिला सभी के अधिकार को बिना किसी भेदभाव के समेटा है । संविधान ने किसी को निराश नहीं किया है । उन्होंने कहा कि अगर यकीन नहीं होता है तो संविधान पलट कर पढें । सरकार संविधान का कार्यान्वयन करने के लिए प्रतिबद्ध है । संविधान कार्यान्वयन के पथ पर आगे बढ चुका है कानून और आयोग की तैयारी हो रही है । उन्होंने कहा कि संविधान पूरी तैयारी के साथ आया है सिर्फ मधेशी नेताओं ने इसके खिलाफ भ्रम फैलाया है । उन्होंने यह भी दावा किया कि भारत द्वारा किए गए नाका के कारण नेपाल और नेपाली ने बहुत क्षति झेला है किन्तु मेरे भारत भ्रमण से दोनों देशों के बीच सम्बन्ध सुधरा है । उन्होंने दावा किया कि अब सब ठीक हो जाएगा और दोनों देश मिलकर काम करेंगे । 
इसी तरह एमाले के वरिष्ठ नेता माधव नेपाल ने कहा कि वत्र्तमान संविधान ने मधेशियों को विशेष अधिकार दिया है । नेकपा एमाले के वरिष्ठ नेता झलनाथ खनाल ने कहा कि संविधान देश के सभी नागरिक के हाथों में पहुँचाया जाएगा । यह संविधान देश में विकार की राह खोलेगा । 
Loading...
%d bloggers like this: