वर्ल्ड चैम्पियन बना जर्मनी, गोल्डन बॉल का अवॉर्ड लियोनल मैसी के नाम

german13अतिरिक्त समय में गोएत्जे द्वारा किए गए गोल की बदौलत जर्मनी ने अर्जेटीना को 1-0 से हराते हुए फीफा विश्व कप खिताब अपने नाम कर लिया। बेहद ही कड़े मुकाबले में दोनों टीमें ने कई मौके बनाए लेकिन निर्धारित समय तक कोई भी टीम गोल नहीं कर सकी।

अर्जेटीना की धुरी लियोन मेसी थे तो दूसरी तरफ थॉमस मूलर, मिरोस्लाव क्लोस और शुर्ले की तिकड़ी थी। मुकाबले से पहले जर्मन टीम का पलड़ा भारी बताया जा रहा था, लेकिन एंजिल डि मारिया के बिना कमजोर मानी जा रही अर्जेटीनी टीम ने जर्मनी को बांध सा दिया। 90 मिनट तक चले खेल में तीन-चार ही ऐसे मौके आए जब गोल करने में माहिर जर्मन टीम को गोल करने के बढि़या मौके मिले। जबकि अर्जेटीना ने भी बराबर की टक्कर देते हुए कई मौके बनाए, लेकिन दोनों ही टीमें इन्हें भुनाने में असफल रहीं। अतिरिक्त समय में भी सिर्फ सात मिनट का खेल बचा था और लग रहा था कि खेल भाग्य और मानसिक मजबूती के अखाड़े यानी पेनाल्टी शूटआउट मे चला जाएगा, तभी बायें छोर से शुर्ले तेजी से गेंद लेकर आगे बढ़े और करीब 25-30 मीटर की दूरी तय करने के बाद क्रॉस शॉट खेलकर गेंद को पेनाल्टी एरिया में पहुंचा दिया, जहां गोएत्जे पहुंच चुके थे और उन्होंने गेंद को छाती से रोकने के बाद वॉली पर शॉट लगाकर गेंद को जाल में उलझा दिया। इसके साथ ही जर्मनी दक्षिण अमेरिका में विश्व कप जीतने वाली पहली यूरोपियन टीम बन गई। इससे पहले दक्षिण अमेरिका में खेले गए चार विश्व कप में चारों बार दक्षिण अमेरिकी देश ही चैंपियन बना था।w c-1

पहला हाफ एक्शन से भरपूर रहा। जर्मनी ने गेंद पर ज्यादा देर तक कब्जा जमाए रखा, लेकिन वे गोल करने का ज्यादे मौके नहीं बना सके। वहीं दूसरी तरफ अर्जेटीना मिले मौकों को भुना नहीं सका। जर्मनी ने शुरुआत में मूव बनाए और थॉमस मूलर ने विपक्षी बॉक्स से पहले फ्री किक हासिल की। आठवें मिनट में मेसी करीब हाफ लाइन से गेंद लेकर आगे बढ़े और विपक्षी के पेनाल्टी एरिया में घुस गए, लेकिन उनके क्रॉस को लेने के लिए कोई दूसरा अर्जेटीनी खिलाड़ी वहां मौजूद नहीं था।

दूसरा हाफ शुरू होते ही अर्जेटीनी दर्शकों ने वह नजारा देखा, जिसकी वह कल्पना भी नहीं करना चाहते। मेसी अकेले गेंद लेकर विपक्षी के पेनाल्टी एरिया में प्रवेश कर गए, डिफेंडर उनसे पीछे थे और सामने सिर्फ गोलकीपर। आमतौर पर ऐसे में मेसी को लोग जश्न मनाते हुए देखते हैं, लेकिन गोल चूकने के बाद वह अपना सिर पकड़े बैठे थे।wc-2

मैच के आंकड़े

जर्मनी अर्जेटीना

01 गोल 00

10 कुल शॉट 09

07 लक्ष्य पर शॉट 01

20 फाउल 16

53 प्रतिशत गेंद पर कब्जा 47 प्रतिशत

05 कॉर्नर 03

01 बचाव 06

03 ऑफ साइड 02

00 रेड कार्ड 00

02 यलो कार्ड 02

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz