विराटनगर में फैयाज जिन्दावाद बोलने के साथ ही प्रहरी द्धारा मारपीट , आर्धा दर्जन आन्दोलनकारी घायल

जीतेन्द्र ठाकुर , विराटनगर, ३० सेप्टेम्बर |

birat-1संयुक्त लोकतान्त्रिक मधेशी मोर्चा द्वारा सीमा में किए गए नाकाबन्दी के क्रम में धर्ना में बैठे हुए के ऊपर प्रहरी ने नियोजित रुप में हस्क्षेप करना शुरु कर दिया है । विगत एक हप्ता से मोर्चा आवद्ध कार्यकर्ताओं को हतोत्साह करने के लिए स्थानीय प्रहरी ने विभिन्न प्रकार की प्रचारवाजी करते हुए हस्तक्षेप करना शुरु कर दिया है । सीमावर्ती नाका के इलाका प्रहरी कार्यालय रानी के प्रहरी निरिक्षक गंंगा प्रसाद पौडेल ने अधिकार प्राप्ति के आन्दोलन में सक्रिय होकर लगने वाले को गोली मारने का आदेश जारी किया है और साथ ही, विभिन्न प्रकार का मुद्दा दर्ता किया है और स्थानीय चौक ,चौराहा तथा आसपास में हो हल्ला करते हुए मानसिक यातना देने की जानकारी युवा नेताओं ने दी है । बीती रात धर्ना में बैठे युवाओं मधेशी युवा फोरम के जिला अध्यक्ष मों फैयाज तथा नगर अध्यक्ष समिम कमर जिन्दाबाद , मधेशी युवा जिन्दाबाद का नारा लगाने के साथ ही प्रहरी निरिक्षक पौडेल के नेतृत्व में आए करीब दो दर्जन प्रहरी ने मधेशी के ऊपर विभिन्न गाली देते हुए मारपीट किया है । उन्होंने नारा लगानेवालों को गाली देते हुए गोली मार देने की धमकी दी है यह जानकारी युवा सचिव सुशिल यादवले बताए । प्रहरी के दमन से आधा दर्जन युवा घायल हुए हैं घाइते भएको छ । युवा सचिव यादव के अनुसार इससे पहले भी रास्ते में चलने वालों मधेशी युवाओं को आन्दोलन में आने पर परिणाम अच्छा नहीं होगा कहते हुए मानसिक यातना प्रसनी पौडेल द्वारा दी गई है । यादवने कहा, आन्दोलन में जितना भी चिल्लाओ कुछ नहीं मिलेगा, काम करने जाओ नहीं तो मुद्दा चला दुँगा बार बार ऐसी धमकी दी जा रही है । पौडेल सिमावर्ती नाका में आन्दोलन में सक्रिय युवाओं के अभिभावक को भी यातना और धमकी दे रहा है । युवा मोर्चा के साथ आवद्ध मधेशी युवा प्रशासन के दमन के विरोध में उतर कर अव रात से प्रतिकार करने की चेतावनी दी है । युवा फोरम के सचिव सुशिल यादव ने कहा कि टेन्ट में बैठे लोगों को भी प्रहरी पकड़ रहे हैं किन्तु अब हमलोग भी चुप बैठने वाले नहीं हैं । उनके दमन के साथ ही युवाओं की संख्या बढ गई है । birat-2उधर संयुक्त लोकतान्त्रिक मधेशी मोर्चा ने आज से आन्दोलन को और भी कड़ा बनाने का निर्णय किया है । मोर्चा में आवद्ध तमलोपा के जिला अध्यक्ष मो कादिर ने कहा कि प्रहरी ने अगर दमन नहीं रोका तो खुदरा सामान भी नहीं ले जाने दिया जाएगा । अव भी मधेश के मांग के प्रति राज्य अगर उदासीन रहा तो खुदरा सामान लाने ले जाने में भी नाकाबन्दी की जाएगी । कादिर सहित मोर्चा के अन्य नेता रात भर धर्ना में बैठते हैं । संघीय समाजवादी फोरम नेपाल के जिला अध्यक्ष राजकुमार यादव ने कहा कि अधिकार संविधान में स्थापित नहीं होने तक किसी भी परिस्थिति के साथ सामना करने के लिए मोर्चा तैयार है । विराटनगर के रानी में नाकाबन्दी में मोर्चा के जिला के शीर्ष नेता तथा केन्द्रिय सदस्य, मधेश बचाओ संघर्ष समिति के सयोजक उमेश यादब आदि की संलग्नता है । biratngr

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz
%d bloggers like this: