विश्व की वाे ताकतवर महिलाएँ जिनकी कर दी गइ हत्या

१नवम्बर

पूरी दुनिया में आयरन लेडी के नाम से मशहूर इंदिरा गांधी की 31 दिसंबर 1984 को उनके ही अंगरक्षकों ने हत्या कर दी थी। यह हत्या स्वर्ण मंदिर में चलाए गए सैन्य अभियान का प्रतिशोध लेने के लिए की गई थी। दुनियाभर में ये पहला मौका नहीं है जब महिला राजनीतिज्ञों की हत्या की गई है। इनकी हत्या से पूरी दुनिया को गहरा सदमा लगा था। दुनियाभर में हिंसा की शिकार हुई महिला राजनीतिज्ञों में करीब दस नाम ऐसे हैं जिन्हें पूरी दुनिया ने पहचाना और काफी हद तक सराहा भी। लेकिन इनकी हत्या कर दी गई।

अगाथे विलिंगीयिमाना- रुआंडा की पहली महिला प्रधानमंत्री अगाथे विलिंगीयिामाना की हत्या 7 अप्रैल 1994 को कर दी गई थी। इस दौरान उनके साथ मौजूद दस बेल्जियम शांति सैनिकों की भी हत्या कर दी गई थी, जो उनकी सुरक्षा में तैनात थे। उनकी हत्या रुआंडा के राष्ट्रपति की विमान हादसे में मौत के महज एक दिन बाद कर दी गई थी।

एना लिंध- स्वीडन की विदेश मंत्री एना की 11 सितंबर 2003 में उस वक्त हत्या कर दी गई थी जब वह स्टॉकहोल्म के एक डिपार्टमेंटल स्टोर में खरीदारी कर रही थीं। दो बच्चों की मां रहीं एना को स्वीडन में अगले प्रधानमंत्री के तौर पर देखा जा रहा था। उनके हत्यारे को कोर्ट ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई।

बेनेजीर भुट्टो- दो बार पाकिस्तान की प्रधानमंत्री रहीं बेनजीर भुट्टो की हत्या 27 दिसंबर 2007 को एक चुनावी रैली के दौरान कर दी गई थी। उस वक्त वह रावलपिंडी में चुनावी रैली कर रही थीं। उनकी हत्या वतन लौटने के महज एक सप्ताह बाद ही कर दी गई थी।

 

इसाबेल क्यूरास्को‍- स्पेन में लियोन प्रोविंस की गवर्नर इसाबेल की 12 मई 2014 को उस वक्त हत्या कर दी गई थी जब वह अपनेे घर के नजदीक घूम रही थीं। उनकी हत्या के लिए एक महिला और उनकी पु‍त्री को दोषी ठहराया गया।

जो कॉक्स- ब्रिटेन के यूरोपियन यूनियन में बने रहने का समर्थन करने वाली जो कॉक्स‍ की एक हमलावर ने उस वक्त हत्या कर दी थी जब वह अपने संसदीय क्षेत्र में आम लोगों से मिल रही थीं। 41 वर्ष की कॉक्स लेबर पार्टी की सदस्य कॉक्स को ब्रिस्टॉल में हमलावर ने पहले चाकू से कई वार किए फिर उन्हें गोली मार दी।

अकीला अल हाशिमी- सद्दाम हुसैन की सरकार में शामिल महज एक महिला राजनीतिज्ञ की हत्या 28 जून 2004 को उनके बगदाद स्थित घर में कर दी गई थी।

 

साडो अली वर्सेम- सिंगर से राजनेता बने साडो की हत्या मोगाडिशू में कर दी गई। उनकी हत्या के पीछे अल शबाब ग्रुप को दोषी ठहराया गया था।

हनीफा सफी- अफगान के इस राजनीतिज्ञ को उनकी कार में धमाका कर उस वक्त मार दिया गया जब वह अपने घर से निकल रही थीं। वह महिलाओं के हितों के काम करने वाली महिला के तौर पर जानी जाती थीं।

जारा शाहिद हुसैन- पाकिस्तान की तहरीक ए इंसाफ पार्टी की नेता की हत्या कराची में वर्ष 2013 में कर दी गई थी।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz
%d bloggers like this: