Sun. Sep 23rd, 2018

वैशाख मे निर्वाचन की सम्भावना नही रह गयी : प्रचण्ड

२०,पुस, काठमाडू। एकीकृत नेकपा माओवादी के अध्यक्ष प्रचण्ड ने कहा है कि आनेवाले वैशाख मे संविधानसभा का निर्वाचन होने की सम्भावना अब नही रह गयी है ।
प्रचण्ड ने कहा है कि निर्वाचन के लिये आवश्यक ऐन और कानुन संशोधन करने के बारे मे दलों के बीच बात नही मिल पायी है जिसके कारण वैशाख मे  निर्वाचन होने की सम्भावना अब खत्म हो गयी है । यह बात उन्होने शुक्रबार को कृष्णसेन अनलाइन के लिये दयानीधि भट्ट के साथ हुइ बातचीत के दौरान बतायी । अध्यक्ष प्रचण्ड ने कहा कि ‘निर्वाचन के लिये आवश्यक प्रक्रिया का अभी तक कोई समाधान नही हुआ है । प्रचण्ड का कहना था कि निर्वाचन अनिश्चित होने का दोष काँग्रेस और एमाले को लेना परेगा । ‘चुनाव सहित सभी विषय को प्याकेज मे सहमति केरने से काँग्रेस-एमालेले भाग रही है, इसलिये सम्पूर्ण जिम्मेवारी उन्हे ही लेना होगा यह जानकारी प्रचण्ड ने दी ।

कांग्रेस-एमाले  एजेण्डाविहीन
प्रचण्ड ने आरोप लगाया कि इस समय कांग्रेस और एमाले  एजेण्डाविहीन हो गयी है और एकतर्फी ढंग से केवल सरकार का नेतृत्व माग रही है जिससे कि समस्या समाधान नही हो पारही है । प्रचण्ड ने कहा कि हमारे कारण से नही बल्कि काँग्रेस और एमाले की अहमता और घमण्ड के कारण यह सरकार लम्बा समय तक चल सकती है । अध्यक्ष प्रचण्ड ने कहा कि यदपि स्वतन्त्र व्यक्ति के नेतृत्व मे चुनावी सरकार बनाने का विषय उपउुक्त नही होने के बाबजुद भी अन्तिम विकल्प के रूप मे यह विषय आगे लाया गया है । ‘बंगलादेश मे भी पूर्वन्यायाधीश के नेतृत्व मे चुनावी सरकार की गठन हुइ थी । चुनाव के वाद प्राप्त जनादेश अनुसार फिर दलों के नेतृत्व मे ही सरकार बनी । नेपाल मे भी उसी प्रकार करने के लिये यह प्रस्ताव किया हूँ । निर्वाचन प्रयोजन के लिये मात्र गठित वैसी सरकार का औचित्य चुनाव के वाद स्वतः समाप्त हो जाता है।’ एक और जिज्ञाशा के जवाव मे उन्होने कहा कि राष्ट्र संकट मे होने के समय  उन्होने प्रधानमन्त्री और राष्ट्रपति के बीच द्वन्द्व कम करने के लिये की गयी अपनी भूमिका गलत अर्थ लगया गया जिसके लिये वे दुखी हैं ।

महाधिवेशन समय पर
अध्यक्ष प्रचण्ड ने कहा कि एकीकृत माओवादी का महाधिवेशन निर्धारित समय पर ही होगा । व्यवस्थापकीय और प्रचारात्मक काम तीव्र गति मे हो रही है और दस्तावेज भी तैयार हो चुकि है इसलिये किसी भी हालत मे महाधिवेशन नही रुकेगी ।
एकीकृत माओवादी का सातवाँ राष्ट्रीय महाधिवेशन माघ २० गते मकवानपुर के हेटौँडा मे होने जा रहा है । मोहन वैद्य की नेतृत्व वाली नेकपा-माओवादी के साथ फिलहाल एकता की सम्भावना नही होने की बात प्रचण्ड ने बतायी । लेकिन एकता के लिये प्रयास जारी रहेगी ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of