वोट का खेल, असमंजस में उम्मीदवार

संविधान सभा निर्वाचन की तिथि मंसीर ४ गते को तय होने के बाद जिले में जो चुनावी र ङ्ग देखने को मिला वह किसी कुम्भ मेले से कम नहीं था ।

vote vote1

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz