शुशिल कोईरालाके जिताने लिए नही बल्की केपी ओलीके हराने के लिए कोईरालाके भोट

ssssssssssssssssssssssssssssssssssउर्मिला यादव यात्री,नवलपरासी,असोज २८ :
तराई मधेस लोकतान्त्रिक पार्टीके वरिष्ठ उपाध्यक्ष हृदयश त्रिपाठीने तिन  दलके एकता तोडनेके लिए प्रधानमन्त्रीके चुनावमे सहभागि हुवा दावि किए है । मधेसमे जारी आन्दोलनको तिन दलोने मिलकर दवाए हुए बताते प्रधानमन्त्री चयनमे सहभागि होकर तिन दलिय एकता तोडा बताए है । नवलपरासीको परासीमे पत्रकार भेटघाटमे बोल्ते हुए नेता त्रिपाठीने यैसा बताया । त्रिपाठीले शुशिल कोईरालाके जिताने लिए नही बल्की केपी ओलीके हराने के लिए कोईरालाके बोट दिया बताए है । पुर्व मन्त्री समेत रहे हुए नेता त्रिपाठीने संसदमे हुवा प्रधानमन्त्रीके चुनावमे सहभागि होकर मधेसी मोर्चाने संविधान स्वीकार्य किया हल्ला भा्रमक हुवा बताते हुए अन्तरिम संविधान अनुसार रुपान्तरित संसद होनेसे खुद उसमे सहभागि हुवा बताया ।
नेत्रा त्रिपाठीने तिउहारके मध्यनजर करते हुउ नाकाबन्दी कुछ सहज बनाया गया जाानकारी दि । मुख्य सिमानाकामे अवरोध जारी रहख्ते हुए अन्य सिमानाकावमे सहज बनाया बताया । अपनेलोगेके आन्दोलन जनता विरुद्ध नहोकर राज्य विरुद्ध होनेसे जनताने राहत महशुस करनेवाली नाका सहज बनाया तर्क किए है ।

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: