संविधान की असन्तुष्टि को सम्बोधन कर समस्याओं का सामाधान कीया जाएगा– निधि

 पोखरा, साउन २८ |
उपप्रधान तथा गृहमन्त्री विमलेन्द्र निधि ने देश की उपलब्धियों को संस्थागत करने के लिए संविधान का कार्यान्वयन आवश्यक है बताया है ।
रामजी पौडेल बादल मेमोरियल ट्रस्ट द्वारा आज आयोजित नेपाली कांग्रेस के नेता एवम् समाजसेवी स्व. रमजी पौडेल के प्रथम वार्षिक स्मृति सभा में बोलते हुए उपप्रधानमन्त्री ने संविधान के सम्बन्ध में दिख रहें असन्तुष्टि को सम्बोधन कर विद्यमान समस्याओं का सामाधान की जाने की बात बताई ।

pkk|wfgdGqL lglw pkk|wfg Pjd u[xdGqL ljdn]Gb| lglw z'qmaf/ /fdhL kf}8]nʿafbnʾ d]df]l/on 6«i6åf/f kf]v/fdf cfof]lht g]kfnL sfFu|];sf g]tf Pjd ;dfh;]jL :j=/fdhL kf}8]nʿafbnʾsf] k|yd jflif{s :d[lt ;efdf cfˆgf] dGtJo JoQm ug'{x'Fb} . tl:a/M jf;'b]j kf}8]n, kf]v/f, /f;;
माओवादी केन्द्र के साथ हुई सात बुंदे सहमति तथा मधेसी मोर्चा के साथ हुई तीन बुंदे सहमति सरकार की भावी कार्यदिशा की गन्तव्य विन्दु है कहते हुए निधि ने कहा सभी प्रकार के समस्या सामाधान करते हुए संविधान के प्रभावकारी कार्यान्वयन तथा भूकम्प बाद की पुर्ननिर्माण में सरकार सक्रियता के साथ आगे बढेगी ।
उन्होंने २०७४ माघ ७ गते तक सभी तह के निर्वाचन सम्पन्न नहीं किया गया तो संविधान धराप में पडने की बात कही ।
उक्त अवसर में बादल स्मृति दर्पण का विमोचन करते हुए उपप्रधानमन्त्री निधि ने राजनीति अपराधमुक्त करने तथा समाज में रहने वले सुरक्षीत बनने की बात बताई ।
रहस्यात्क रुप में हुए बादल की हत्या से नेपाली कांग्रेस के साथ समग्र राष्ट्र तथा लोकतन्त्र ने क्षति महशुस किया है बताते हुए हत्या के दोषी को सजाय जरुर मिलेगी जिस के लिए छानविन के सम्बन्ध में अदालत की जारी प्रकृया एवम् कारवाही में सरकार सहयोग करेगी बताया ।
कार्याक्रम में ट्रष्ट के सदस्य ने भी अपना विचार प्रस्तुत किया ।

Loading...
%d bloggers like this: