संविधान संशोधन आवश्यक नहीं– झलनाथ खनाल

इलाम, अगहन १ ।
नेकपा एमाले के वरिष्ठ नेता झलनाथ खनाल ने कहा कि संविधान संशोधन करने की आवश्यकता नहीं है । मधेश केन्द्रीत दलों के प्रति लक्षित करते हुए नेता खनाल ने कहा कि किसी के आन्दोल करने से संविधान के मूल्य–मान्यता तथा खरिद–बिकी्र नहीं की जा सकती है ।

jhalanath-khanal
प्रेस चौतारी इलाम द्वारा आज आयोजित एक पत्रकार भेंटघाट कार्यक्रम में नेता खनाल ने कहा कि अभी संविधान संशोधन न होकर कार्यान्वयन की आवश्यकता है । उन्होंने संविधान संशोधन के बदले कार्यान्वयन के लिए एकजुट होने के लिए सभी दलों को आग्रह किया ।
नेता खनाल ने आरोप लगाते हुए कहा अंगीकृत नागरिकताधारी को राष्ट्रप्रमुख बनाने के लिए संविधान संशोधन किया जा रहा हैं । उन्होंने कहा उक्त बात एमाले को मान्य नहीं है ।

loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz