संसद बैठक विषेश – मधेशीयों के साथ आज भी हैं विभेद : लक्ष्मणलाल कर्ण


हिमालिनी डेस्क
काठमांडू, २७ मार्च ।
प्रतिनिधिसभा की बैठक में राजपा नेपाल के नेता लक्ष्मणलाल कर्ण ने कहा मौजूदा स्थिती में भी मधेशी, मुस्लिम, लगायत पिछडा क्षेत्र विभेद में हैं इसलिए इसपर अपना ध्यान केन्द्रित करने का सरकार से आग्रह किया । सांसदों ने इयू के रिपोर्ट को नेपाल के आन्तरीक मामले में एक बडा हस्तेक्षप बताया हैं ।

बैठक के बिशेष समय में नेकपा एमाले के भीम रावल ने कहा तीनो तहों का चुनाव सम्पन्न होने के बाद देश एक निर्दीष्ट दिशा की ओर आगें बढा हें और इस से नेपाली जनता काफी खुस हैं ।

नेपाली काँग्रेस के ज्ञानेन्द्रबहादुर कार्की ने विते शनिवार सुनसरी निर्वाचन क्षेत्र न ४ में हुई आगलगी के कारण ५० घर जल्कर नष्ट होने की बात बतातें हुए पिडीतों के लिए क्षतीपूर्ती उपलब्ध कराने की माग की । इसीतरहा, नेकपा माओवादी केन्द्र के देवेन्द्र पौडेल ने इयु के रिर्पोट को गलत बताया ।

इसीतरहा, राष्ट्रपति विद्यादेवी भंडारी इसी चैत्र १५ गते गुरुबार संघीय संसद को संबोधीत करेगी । मंत्रीपरीषद की बैठक ने ये कार्यक्रम तय किया हैं । बालुवाटार में सम्पन्न बैठक के बाद संचार तथा सूचना प्रविधि राज्यमंत्री गोकुलप्रसाद बाँस्कोटा ने इस बात की जानकारी दी ।

हाउस रेन्टिंग में में दोहरा कर न लगाने, रानीजमरा सिँर्चाइ परीयोजना के जमीन की क्षतीपूर्ती व्यवस्थापन करने ,चुनाव के दौरान बम हमले और महिला हिंसा के घटनाओं से घायल हुए लोगों के इलाज खर्च देने लगायत के निर्णय बैठक ने किए ।

बैठक ने प्रधानमंत्री के प्रेस सल्लाहकार में डाँ कुन्दन अर्याल और जनसम्पर्क सल्लाहकार में अच्युत मैनाली को नियुक्त किया हैं । प्रतिनिधिसभा की बैठक में सत्य ,निरुपन तथा मेलमिलाप आयोग पहला संशोधन अध्यादेश २०७४ पेश किया गया ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: