संसद में प्रचण्ड का वक्तव्य

मालिनी मिश्र, काठमाण्डू, ३ अगस्त ।।
 संसद में निर्वाचन शुरु हो चुका है व प्रचण्ड प्रधान मंत्री पद के लिए अकेले उम्मीदवार के रुप में प्रत्याशी हैं । अपने वक्तव्य में प्रचण्ड का कहना है कि बजट जनमुखी होना चाहिए व बनाने में व देशों के साथ संबंध सुधार के विषय में तत्कालीन सत्ता साझेदार की हैसियत से ही माओवादी की भी  भूमिका को नजरअंदाज नही किया जा सकता है ।
prachand
प्रचण्ड ने कहा है कि कुछ समय के लिए जनता को भ्रम में रख सकते हैं पर एतिहासिक तथ्यों को भूल नहीं सकते हैं । प्रचण्ड सरकार ,ओली सरकार के द्वारा जिलाओं  के विकास के लिए निर्धारित बजट का उपयोग भी उसी प्रकार करेगी जिस प्रकार ओली सरकार नें कायान्वित करने का सोचा था ।
। ऐसा न हो कि सरकार बनने के बाद प्रतिनिधी नेता के रुप में न रहकर प्रचण्ड तथा कथित सिर्फ नेता ही रह जाएं ।
Loading...
%d bloggers like this: