Fri. Sep 21st, 2018

समृद्धि के लिए शासकीय स्वरुप में परिवर्तन आवश्यक : बाबुराम भट्टराई

गोरखाःपूस ४ गते

baburam

नयाँ शक्ति पार्टी नेपाल को संयोजक डा. बाबुराम भट्टराई ने कहा है कि संविधान संशोधन कर कार्यकारी राष्ट्रपति प्रणाली में जाना चाहिए ।
नयाँ शक्ति विद्यार्थी युनियन द्वारा रविवार गोरखा कैम्पस में आयोजित ‘विद्यार्थी के साथ डा बाबुराम भट्टराई’ शीर्षक अन्तरक्रिया को सम्बोधित करते हुए उन्होंने उक्त धारणा रखी ।
‘उन्होंने कहा कि संविधान संशोधन कर प्रत्यक्ष कार्यकारी राष्ट्रपति प्रणाली के पक्ष में जाना पडेगा, ‘विकास ओर समृद्धि के लिए शासकीय स्वरुप परिवर्तन करना होगा।’
मधेसी, थारु, आदिवासी जनजाति, महिला और दलित के अधिकार अपूर्ण है इसलिए संविधान संशोधन कर सभी को कार्यान्वयन में जुटना होगा ।
संविधान जारी हुए १६ महीना हो चुके हैं किन्तु इसका कार्यान्वयन नहीं हो पाया है इसपर उन्होंने चिन्ता व्यक्त की । भट्टराई ने कहा कि, ‘मधेसवादी शक्ति को भी सहमति में लाकर संविधान संशोधन कर के कार्यान्वयन की ओर जाना होगा ।’

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of