सरकार अाैर डा. केसी बीच का वार्ता असफल

काठमांडू, १७ जुलाई । १८ दिनों से जुम्ला में अनशनरत डा. गोविन्द केसी पक्षधर और सरकार बीच आज आयोजित वार्ता बिना–निष्कर्ष खत्म हो गया है । शिक्षा मन्त्रालय में ३ घण्टा तक जारी वार्ता में कोई भी सहमति नहीं हो पाई । डा. केसी पक्षधर का मानना है कि मुख्य विषय चिकित्सा शिक्षा विधेयक के प्रति सरकारी वार्ता टोली गम्भीर न होने के कारण वार्ता बिना निष्कर्ष खत्म हो गया है ।
डा. केसी की ओर से वार्ता में सहभागी प्रितम सुवेदी के अनुसार डा. केसी की ओर से संसद में पेश विधेयक वापस करने के लिए कहा गया था । सुवेदी के अनुसार उक्त विधेयक वापस कर अध्यादेश को हुबहु पास करना चाहिए । लेकिन सरकार की ओर से कहा गया कि सर्वप्रथम डा. केसी को उपचार के लिए काठमांडू लाना चाहिए । दोनों पक्ष अपने–अपने अडान में रहने के कारण वार्ता आगे नहीं बढ़ पाया ।
वार्ता में सरकार की ओर से शिक्षा सचिव खगराज बराल, गृह मन्त्रालय के सह–सचिव केदार न्यौपाने और स्वास्थ्य सेवा विभाग के महानिर्देशक डा. गुणराज लोहनी सहभागी थे । इसीतरह डा. केसी की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता डा. सुरेन्द्र भण्डारी, अधिवक्ता ओमप्रकाश अर्याल, डा. अभिषेकराज सिंह और प्रितम सुवेदी सहभागी हुए थे । स्मरणीय है, कर्णाली स्वास्थ्य विज्ञान प्रतिष्ठान जुम्ला में अनशनरत डा. केसी की अवस्था दिन प्रति दिन नाजुक बनता जा रहा है । लेकिन सरकार उसके प्रति जिम्मेवार नहीं दिखाई दे रहा है ।

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: