Sat. Sep 22nd, 2018

सरकार द्वारा घाेषित शहीद गाैचन की जान गुण्डा नायक बसनेत से एक कराेड के लेनदेन के कारण गई

काठमाडौँ ३ दिसम्बर

गुण्डाें के नायक समिरमान सिंह बस्न्यात के साथ एक करोड रुपैया के लेनदेन में बात नहीं मिलने के कारण  निर्माण व्यवसायी शरद कुमार गौचन की जान जाने की बात सामने अाई है जिसे सरका ने शहीद घाेषित किया है ।

घटना के मुख्य योजनाकार समिरमान सिंह के हिरासत में अाने के बाद यह तथ्य सामे अाया है ।

प्रहरी के अनुसार प्रारम्भिक अनुसन्धान में गौचन द्वारा सञ्चालन  डाँफे कन्सट्रक्सन का शेयर देने की बात पर गजुरमुखी कन्सट्रक्सन के मुख्य लगानीकर्ता  कुमार श्रेष्ठ (घैँटे) मार्फत दाे करोड पचास लाख रुपैया लेने की बात सामने अा रही है ।

घैँटे की मृत्यु के बाद उक्त रकम में से एक कराेड पर उक्त सम्पूर्ण रकम बराबर का दावा डाँफे कन्सट्रक्सन के सेयर वा रकम वापस करने के लिए बस्न्यात गौचन के साथ बार बार माँग कर रहा था ।

इस पर वीरगञ्ज से विराटनगर जोड्ने हुलाकी मार्ग का ठेका कमिशन बापत का २ प्रतिशत रकम माँग करने पर भी गौचन  द्वारा इस  बात पर ध्यान नहीं देने पर यह विवाद चरम उत्कर्ष में पहुँच गया था । इसी का बदला लेने के लिए असाेज २३ गते गाैचन की बानेश्वर में गाेली मार कर हत्या कर दी गई थी ।

बसनेत काे चितवन नारायणघाट से हिरासत में लिया गया है । बसनेत की अन्य कई हत्याकाँड में भी संलग्नता का खुलासा हाे रहा है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of