Wed. Sep 26th, 2018

सरकार विरुद्ध कांग्रेस आक्रामक, राष्ट्रीयसभा बैठक अवरुद्ध

काठमांडू, ५ जुलाई । प्रमुख प्रतिपक्षी दल नेपाली कांग्रेस सरकार के विरुद्ध आक्रामक रुप में प्रस्तुत होने लगी है । विशेषतः सरकार द्वारा संसद में प्रस्तुत करने के लिए तैयार चिकित्सा शिक्षा विधेयक प्रस्तिस्थापन विधेयक, डा. गोविन्द केसी का अनशन और माइतघर मण्डला में की गई निषेधाज्ञा को लेकर कांग्रेस ने सदन और सड़क में विरोध प्रदर्शन किया है । ऐसी ही अवस्था में बुधबार आयोजित राष्ट्रीयसभा बैठक भी कांग्रेस ने अवरुद्ध किया ।
राष्ट्रीयसभा बैठक में कांग्रेस संसदीय दल के नेता सुरेन्द्र पाण्डे ने कहा कि सरकार पूर्व राजा ज्ञानेन्द्र शाह की राह पर चलने लगी है । उनका मानना है कि सार्वजनिक स्थलों में प्रदर्शन में रोक लगाकर सरकार ने अपनी तानाशाही प्रवृत्ति को दिखाया है और नागरिक आवाज को कुण्ठित किया है । मंगलबार सम्पन्न कांग्रेस शीर्ष नेताओं की बैठक का कहना है कि अब सार्वजनिक बहस और फोरम को कांग्रेस को सशक्त बनाना है ।
उसी निर्णय के आधार में बुधबार सम्पन्न संसदीय दल का बैठक ने सरकार के विरुद्ध आक्रमक होने का निर्णय लिया है । बैठक ने डा. गोविन्द केसी की स्वास्थ्य अवस्था के बारे में जानकारी लेने के लिए ३ सदस्यीय संसदीय प्रतिनिधि जुम्ला भेजन का निर्णय भी लिया है । उक्त टोली में प्रकाश रसाइली, रंगमती शाही और दिनबन्धु श्रेष्ठ हैं । इसीतरह वीर हस्पिटल में अनशनरत गंगामाया अधिकारी की स्वास्थ्य अवस्था के बारे में जानकारी लेने खातिर पार्वता डी.सी. चौधरी, अमेरशकुमार सिंह और देवप्रसाद तिमिल्सिना को परिचालन करने का निर्णय भी बैठक ने किया है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of