सारी बात अापकी क्याे‌ं मानी जाय ? अाप न सर्लाही छाेडेंगे अाैर न ही धनुषा : महन्थ ठाकुर । लाेकतान्त्रिक गठबन्धन की सम्भावना समाप्त

काठमाडौँ १ नवम्बर

 

 

राष्ट्रिय जनता पार्टी नेपाल अाैर काँग्रेस के बीच सीट के विषय मे‌ तालमेल नही‌ मिलने की वजह से लोकतान्त्रिक गठबन्धन बनने की स‌ंभावना लगभग समाप्त हाे गइ है ।

धनुषा के ३ नम्बर क्षेत्र काँग्रेस नेता विमलेन्द्र निधि के नही‌ छाेडने के बाद सहमति नहीं हाे सकी ।

धनुषा के तीन नम्बर क्षेत्र से राजपा नेपाल के अध्यक्ष मण्डल के सदस्य राजेन्द्र महतो का लडना अाैर वहाँ  काँग्रेस द्वारा सहयाेग की माँग राजपा की थी । जिसे, काँग्रेस ने  स्वीकार नही‌ किया ।

राजपा नेपाल ने सर्लाही के चार नम्बर क्षेत्र वा धनुषा के तीन नम्बर क्षेत्र मे‌ से काेइृ एक देने की माँग की थी जिसके लिए  काँग्रेस तैयार नही‌ है ।

सर्लाही चार से डा. अमेरशकुमार सिंह उम्मेदवार हैं । सर्लाही चार से काँग्रेस साह काे टिकट नही‌ देने पर वहाँ से महतो के चुनाव लड्ने की सम्भावना थी । पर सिंह के नही‌ मानने के बाद महताे ने  धनुषा तीन के लिए अपनी उम्मीदवारी तय की है ।

स्रोत के अनुसार आज बालुवाटार मे‌ हुए बैठक मे‌ मधेशी दल ने धनुषा के क्षेत्र नम्बर तीन मांगने पर विमलेन्द्र निधि ने राजेन्द्र महतो काे ‘धनुषा क्षेत्र नम्बर तीन से प्रदेशसभा मे‌ नही‌ लडने के लिए कहने पर महताे अाक्राेशित हाे गए थे ।

नेपाली काँग्रेस के नेता प्रदिप गिरी के  आग्रह मे‌ आज बैठक हुइ थी । बैठक मे‌ गिरी ने राजेन्द्र महतो से धनुषा चार से चुनाव लड्ने का अाग्रह किया था ।

धनुषा के चार से चुनाव लडने के बाद वहाँ से  काँग्रेस उङ्गमीदवार नही‌ खडा करेगी गिरी के इस प्रस्ताव पर अध्यक्ष महन्थ जी का कहना था कि सारी बाते‌ अापकी ही क्याे‌ मानी जाय अाप सरलाही भी नहीं छाेडना चाहते अाैर धनुषा भी नहीं छाेडना चाहते । हमे‌ ही सिर्फ छाेडने के लिए कहा जा रहा है । इसके साथ ही राजपा के सभी नेता वहाँ से निकल गए यह जानकारी स्राेत ने दी ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: