साहित्यकार कमलमणि दीक्षित नही रहे

काठमांडू, २९ दिसम्बर
नेपाली भाषा–साहित्यसेवी कमलमणि दीक्षित का निधन हुआ है । उनके पारिवारिक स्रोत के अनुसार ८६ वर्षीय दीक्षित को ललितपुर स्थित बीएण्डबी हस्पिटल में विहीबार सुबह २ बजकर ४५ मिनट में निधन हुआ है । दीक्षित तीन महिने से क्यासर से पीडित थे । गत सोमबार उपचार के लिए दीक्षित को बीएण्डबी हस्पिटल में ले गया था । स्मरणीय है, उनकी धर्मपत्नी अञ्जु पौडेल को गत साल पौष ३ गते निधन हुआ था
kamalmani-dixit
स्व. दीक्षित द्वारा सम्पादित और लिखित ७५ से ज्यादा पुस्तक प्रकाशित है । विशेषतः वह साहित्यिक अनुसन्धान में ज्यादा दिलचस्पी रखते थे । ‘यस्तो पनि’, ‘कालो अक्षर’, ‘कागतीको सिरप’, ‘चार कन्था’, ‘शाखा सन्तान’ आदि उनका चर्चित पुस्तक है । दीक्षित मदन पुरस्कार गुठी और मदन पुरस्कार पुस्तकालय के संस्थापक है । दीक्षित विभिन्न सामाजिक, साहित्यिक, शैक्षिक और व्यावसायिक संघ–संस्था में भी सक्रिय थे ।
दीक्षित के तीन सन्तानों में बेटा कुन्द दीक्षित और कनकमणि दीक्षित तथा बेटी रूपा जोशी पत्रकारिता में ही क्रियाशील हैं ।
loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz