Mon. Sep 24th, 2018

सुख की सुखद अनुभूति है भैया जन जन के प्यारे कृष्ण कन्हैया। ___श्रीगोपाल नारसन

 

माँ देवकी वासुदेव आएंगे
कंस जेल मे फिर से भैया
आधी रात को जन्म लेंगे
फिर से  कृष्ण कन्हैया
अत्याचारियो का संघार करेंगे
विकारों का सर्वनाश करेंगे
गोपियो की लाज बचाएंगे
मुरली ज्ञान सबको सुनाएँगे
पतित से पावन हमे बनाएंगे
योगीराज श्री कृष्ण कन्हैया
उनके मुख में ब्रह्माण्ड  मिलेगा
श्रीमद् भगवद् रसपान मिलेगा
जीवन जीना सिखाएंगे कन्हैया
मुरली तान बजायेंगे कन्हैया
सतयुग के आगाज वे ही है
राधा के प्रियतम प्राण वे ही है
सच के सारथी घनश्याम कहलाते
लड्डू गोपाल बन घर घर आ जाते
सुख की सुखद अनुभूति है भैया
जन जन के प्यारे कृष्ण कन्हैया।
___श्रीगोपाल नारसन

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of