स्थानीय स्रोत साधन के परिचालन बढाना होगा : विष्णु प्रसाद कँडेल


साउन १६ , चितवन | विष्णु प्रसाद कंडेल चितवन उद्योग वाणिज्य सङ्घ के तृतीय उपाध्यक्ष और वस्तुगत समन्वय समिति के संयोजक भी हैं । कंडेल कहते हैं कि राज्य ने उद्योगी व्यवसायीयों को प्रोत्साहन देकर एवम् लगानी के वातावरण सृजना करने में राज्यको अग्रसर होना पडेगा । दूसरी बात राज्य को कर का दायरा को बिस्तार करना होगा , जिससे कर सभी को समानुपातिक लगे। फिलहाल राज्य की समस्या घरभाडा कर भी हैं । इस कर से हम लोग परेसानी में पडे हैं । हम लोग घर भाड़ा कर तिरते हैं पर घरधनी द्वारा घर बहाल कर राज्य को नहीं तिरते है और छल के माध्यम से घर धनि लाभ उठाते रहते हैं ।
कंडेल का कहना कि – युवा पलायन से रोक्ने के लिए रोजगारी एवम् लगानी का वातावरण बना देना होगा । कर एक द्वार प्रणाली के होना होगा । देश में हुए स्रोतसाधन को व्यापक परिचालन करना होगा । हाल ही में हुए स्थानीय तह के अधिकार सम्पन्न हो गया हैं इस अवस्था में राज्य द्वारा पूर्वाधार में जोड देने होंगे । पूँजीगत खर्च बढाने के लिए सही समय में सही जगह पर बजेट विनियोजन करके निश्चित समय में निर्माण सम्पन्न करना होगा । व्यवसायीयों को स्वैच्छिक कर तिरने खाल के वातावरण निर्माण करना होगा । कर को जबर्जस्ती कर नहीं लादाना हैं । यह सभी विषयों में राज्य का नजर गया तो अब के ५ वर्ष के अन्दर पक्के ही राज्य ने बदलेंगे । साथही , देश उद्योगमैत्री और लगानीमैत्री दिशा की ओर उन्मुख होंगे ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz
%d bloggers like this: