हुलाकी राजमार्ग के आसपास बनेंगें एैसा दश नई सहर जिस से खिल उठेगा तराई–मधेश

town
हिमालिनी डेस्क
काठमांडू, ९ मई ।

तराई मधेश क्षेत्र को व्यस्थित करनें के लिए और तराई को भी समृद्धि की ओर लेजानें के लिए दश व्यस्थित सहर बनाने के लिए सरकार नें नई अवधारणा आगे लाया हैं ।
तराई– मधेस क्षेत्र मे निर्माण हो रहे हुलाकी राजमार्ग के आसपास बस्ती विस्तार करके और व्यवस्थित सहरीकरण को बसाने के लिए सरकार नें नई दश सहर बनाने के लिए तयारी कर रहें हैं । हुलाकी राजमार्ग को आधार बनाकर निर्माण करेंगें नई सहर ।
सहर को व्यवस्थित रुप से तराई– मधेस क्षेत्र मे बस्ती विस्तार करेगें और अव्यवस्थित बस्ती निर्माण कार्य को भी सरकार अन्तय करनें के लिए प्रतिवद्धता जताया हैं ।
हुलाकी राजमार्ग पूर्व–पश्चिम राजमार्ग के समानान्तर करिब २० से ३० किमी दक्षिण की ओर फैला तराई–मधेस के जिल्ला जोड्ने बाले पहुँच मार्गका रुप मे रहा हैं । उस राजमार्ग ने पूर्व मे झापा जिला के मुख्यालय भद्रपुर से सुरु होकर पश्चिम मे कञ्चनपुर जिला के भारतीय सीमा तक फैला हैं जिस नें तराई के २० जिलाओं को जोडा हैं ।
हुलाकी राजमार्ग तराई के मुख्य मुख्य बजार और नगर जोडे हैं जिस के कारण इस मार्ग को तराई के जीवन रेखा के मार्ग के रुप में भी जाने जाते हैं ।

राजमार्ग के आस पास व्यवस्थित सहर के निर्माण के आवश्यताओं को मद्दयें नजर करतें हुयें राजमार्ग के ३ किलोमिटर दायाँ और बाँया में १० वस्ती विस्तार करनें के लिए सरकार के अवधारणा होने के बात की जानकारी सहरी विकासमन्त्री अर्जुननरसिंह केसी ने दी ।

छनोट हुआ १० नई बस्ती और नगरपालिका को समुच्च एक योजना एकाइ मानी एकीकृत सहरी विकास योजना तयार करेगें, सहरी पूर्वाधार तथा विकास योजना छनोट करेंगें तथा आव २०७४÷७५ से बजट के भी व्यवस्था करनें की जानकारी मन्त्री केसी ने दी ।
उस सहर को निर्माण करते वक्त जमिनाें व्यवस्था, जनसंख्या, जनघनत्व, सम्पर्क क्षेत्र, आर्थिक विकास के सम्भावना, गैरकृषि कार्य मे शामिल रहें जनसंख्या, खानेपानी के स्रोत, सरकारी सेवा के अवस्था, साक्षरता और सडक के पहुँच लगायत के ११ सूचकों को अधार माना गया हैं । छनोट किया गया सहर में से १ नं प्रदेश मे दों सहर शामिल होगें ।

दश सहर इन स्थानों पर किया जाएगा

प्रदेश नंम्बर १ में झापा के गौरीगन्ज और मोरङ के रङ्गेली, प्रदेश नं २ में बारा के महागढीमाई, सर्लाही के ईश्वरपुर, सप्तरी के शम्भुनाथ तथा महोत्तरी के बल्वा और सरपल्लो हैं । इसी तरहा, प्रदेश नं ५ मे बर्दिया के राजापुर और नवलपरासी के बर्दघाट तथा प्रदेश नं ७ मे कञ्चनपुर के बेलौरी और कैलाली के भजनी त्रिशक्ति हैं ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz