१४ वर्ष बाद अन्ततः आयल निगम हुआ ऋण मुुक्त

१४ वर्ष बाद अन्ततः आयल निगम हुआ ऋण मुुक्त noil
काठमाण्डू, अषाढ २७
नेपाल आयल निगम १४ वर्ष के बाद अन्ततः ऋण मुक्त हो पाया है । निगम सरकार को अन्तिम किस्ता का साँवा ब्याज लगायत १ अर्ब ४१ करोड रुपया भुक्तान करने के बाद ऋण से उऋण हो पाई है ।
निगम के उपर अर्थमन्त्रालय से १२ अर्ब ४६ करोड, नागरिक लगानी कोष का ९ अर्ब ३८ करोड, कर्मचारी संचय कोष के १२ अर्ब ६० करोड तथा विभिन्न बैंक से २ अर्ब २४ करोड रुपये का ऋण था ।
निगम से प्राप्त जानकारी के मुताविक स्वचालित मूल्य के साथ ही अन्तराष्ट्रीय बजार में इन्धन के मूलय घटने के बाद निगम को मुनाफा प्राप्त हुवा जिसके वजह से ऋण भुक्तान करने में सफलता मिली है । बहरहाल अभी भी निगम का मासीक नाफा ७० करोड रुपया है ।

%d bloggers like this: