Tue. Sep 18th, 2018

१ लाख रीश्वत सहित लेखापाल और ना.सु पडा अख्तियार के फन्दा में


हिमालिनी डेस्क
काठमांडू, २८ जुलाई ।
पर्सा की धोवनी गावँपालीका के लेखापाल और नायब सुब्बा को अख्तियार दुरुपयोग अनुसन्धान आयोग की टोली ने वीरगंज से रीस्वत समेत गीरफ्तार किया हैं ।लेखापाल कृष्णनन्दन राय यादब और नासु ऐनामुल हम अंसारी को एक सेवाग्रही से एक लाख १० हजार रीस्वत की रकम लेतें हुए गीरफ्तार किया गया हैं ।
इसितरहा, प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली ने राज्य के निर्देशक सिद्धान्त , नीति और दायित्व कृयान्वय के लिए सरकार द्धारा किए गए कामों का बार्षिक रिर्पोट राष्ट्रपति विद्यादेवी भंडारी के समक्ष पेश किया है ।
राष्ट्रपति कार्यालय शितल निवास में आयोजीत कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ओली ने आर्थिक बर्ष २०७३ और ७४ का रिर्पोट राष्ट्रपति के समक्ष पेश किया ।प्रधानमंत्री ओली ने कहा कि देश में उपलब्ध स्रोत साधन का अधिकतम परिचालन करने विकास के कार्यक्रमों का प्राथमिकीकरण किया गया है ।
प्रतिवेदन ग्रहण करतें हुए राष्ट्रपति विद्यादेवी भंडारी ने कहा कि देश में विद्यमान गरिबी , बेरोजगारी, असामनता और अनेक विसंगती का निराकरण करने की ओर संबद्ध सभी को ध्यान देने की जÞरुरत हैं ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of