२० वर्ष पूर्व जनयुद्ध के समय बन्द हुआ अस्पताल आज भी संचालन में नहीं है

मालिनी मिश्र, काठमांडू, २४ अगस्त ।
विकट गावों के निवासियों को स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से दक्षिण पर्वत जिले का  मिसन अस्पताल अभी भी संबंधित विभाग के कारण संचालन में नहीं है । लगभग २० वर्ष से संचालन में न आने के कारण लोगों को समस्या का समना करना पड रहा है ।
h
यह अस्पताल, माओवादी जन युद्ध के समय बन्द हुआ था, जिसमें ४ नेपाली व २ अमेरिकी  काम करते थे । अभी इस भवन की स्थिति बद से बद्तर हो गयी है । निवेश भी नेपाल सरकार का नहीं था । अमेरिकी कम्पनी ने निवेश किया था । द्वंद काल में अमेरिकी सरकार नें अमेरिकी चिकित्सकों को वापस बुला लिया था और अब इस अस्पताल का कोई अस्तित्व ही नहीं रह गया है ।
 तत्कालीन समय में इस अस्पताल से स्यांजा, पर्वत, गुल्मी जिलों के लगभग १ लाख ५० हजार लोगों को लाभ मिल रहा था । सरकार इस तरफ कोई ध्यान न देने से साधारण जनता को इलाज के लिए पोखरा, पालपा, भैरहवा बुटबल आदि स्थानों पर जाना पड़ता है । इससे उपचार के साथ ही अन्य खर्चो में भी वृद्धी होती है व अन्य समस्याओं का भी सामना करना पडता है ।
Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz