८ सौ निरक्षर लोगों को साक्षर बनाने का कार्यक्रम

DSCN0699नेपालगन्ज, (बाँके) पवन जायसवाल , २०७१ फाल्गुन २२ गते ।
जिला शिक्षा कार्यालय बाँके के सहयोग में बासद्वारा बाँके के आयोजन में उढरापुर गाविस में सञ्चालित साक्षरता कार्यक्रम अन्तरगत गाविस में फाल्गुन २० गते को सम्पन्न शिक्षण सामाग्री बितरण कार्यक्रम में बोलते हुयें जिला शिक्षा अधिकारी खनाल ने कहा कि निरक्षर व्यक्तियों को साक्षर बनाने का महान अभियान में हमे सौंपा गया जिम्मेवारी गहन रुप में पुरा करने के लियें स्वयम् सेवक शिक्षकों को बाँके जिला शिक्षा अधिकारी देबेन्द्रराज खनाल ने अनुरोध किया है ।
शिक्षण सामाग्री बितरण समारोह के प्रमुख अतिथि रहे देबेन्द्रराज खनाल ने शिक्षकों को साक्षरता अभियान का योद्धा रहे है कहते हुयें कहते हुयें युद्ध जीतने के लियें योद्धाओं को सक्रियता अपरिहार्य रहा है  बताया । स्वयम् सेवक शिक्षक उत्साहित होना चाहिए कहते हुयें उन लोगों ने फूल लगाने से लेकर फूल बढाने तक की जिम्मेवारी शिक्षको के हाथों में है उस को पूरा करने के लियें सिखा गया शीप को लागुू करने पर जोड दिया ।
कार्यक्रम को बास के उपनिर्देशक हेमराज भट्ट ने सञ्चालन किया था कार्यक्रम में अतिथि के रुप में जिला शिक्षा समिति सदस्य खुमलाल शर्मा, नेपाल राष्ट्रीय शिक्षक संगठन के अध्यक्ष एक देव पन्थी, नेपाल शिक्षक युनियन बा“के के अध्यक्ष बाबु तरुण गौतम, अखिल नेपाल शिक्षक संघ के अध्यक्ष बुद्धि बन्जाडे, बिद्यालय निरीक्षक उत्तम आचार्य, जिला शिक्षा कार्यालय के प्राबिधिक राम बहादुर बुढा, नेपाल शिक्षक युनियन बँ“के के सदस्य नसिफ खा“, बास के साक्षरता कार्यक्रम की फोकल पर्सन मन्जु बोहरा, गाविस के सामाजिक परिचालक राजेन्द्र वर्मा लगायत लोगों की रही थी । कार्यक्रम के प्रमुख अतिथि तथा अतिथियों ने शिक्षण सामाग्री संयुक्त रुप में बितरण किया था । गाविस में ८० साक्षरता कक्षा मार्फत १ हजार ८ सौ लोग निरक्षर ब्यक्तियों को साक्षर बनाने का कार्यक्रम  है ।
हेमराज भट्ट

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz