item-thumbnail

“डायपर”

0 December 13, 2017

बिम्मी शर्मा इस देश की राजनीति डायपर जैसी हो गई है बदबुदार । इसीलिए नेता बच्चे के डायपर की तरह अपना सिद्धांत और पार्टी बदल रहे हैं । एक छोटा बच्चा एक ...

item-thumbnail

टमाटर प्यारी राज दूलारी हो गई है : बिम्मी शर्मा

0 November 15, 2017

बिम्मी शर्मा, वीरगंज (व्यँग्य ) | देश में चुनाव का मौसम है और नेताओं की जगह पर टमाटर छाया हुआ है । ज्यों ज्यों टमाटर प्यारी का भाव बढ़ रहा है त्यों त्य...

item-thumbnail

गठबंधन नही ठगबंधन – वाम, दाम और नाम का संगम : बिम्मी शर्मा

0 November 7, 2017

बिम्मी शर्मा, वीरगंज, (व्यंग्य) | इस देश में बारबार हो रहे निर्वाचन शादी के सात फेरे जैसी हो गयी है । शादी के ही सीजन में इस देश में निर्वाचन का भी शु...

item-thumbnail

कहीं पे निगाहें कहीं पे निशाना : बिम्मी शर्मा

0 October 6, 2017

दो नंबर प्रदेश प्रदेश पूरी तरह चुनावी रंग मे रंग चुका है । यहां दशहरे के जैसा माहौल है । हर तरफ अस्त व्यस्तता दिखाई देती है । सभी अपने समर्थित दल और उ...

item-thumbnail

कत्ल की रात, आज की रात सभी का गर्दन पैसे की चक्कू से कटेगा

0 September 17, 2017

बिम्मी शर्मा, वीरगंज, १७ सितम्बर | (व्यग्ँय) आज है कत्ल की रात । मतदाताओं की ईमान और विवेक को पैसे कि खंजर से लहुलुहान करने की रात है आज । यह रात कालर...

item-thumbnail

वीरगंज को स्वीटजरलैंड बनाने का वादा तो नहीं करुगां, पर विकास की ताला जरुर खोलूंगा : रहबर

0 September 12, 2017

  राह दिखाने के “राह” में रहबर, वीरगंज में सबसे कम उम्र के मेयर के उम्मीदवार बिम्मी शर्मा, वीरगंज | वह अपने नाम जैसा ही काम करना चाहते हैं । रहबर...

item-thumbnail

वृद्ध भत्ता मछली फंसाने का चारा : बिम्मी शर्मा

0 July 5, 2017

वृद्ध भत्ता नेकपा एमाले के लिए वह दूधारु गाय है जो वह हर निर्वाचन में दूह कर जीतना चाहता है । ०४६ साल में देश में बहूदलीययवस्था आने के बाद नेकपा एमाले...

item-thumbnail

माहामायाजी, जब पद में थी तब किसी को गोद में बिठाया तो किसी को आंख की ओट भी न लगने दी

0 June 13, 2017

बिम्मीशर्मा, बीरगंज , (व्यग्ँय), माहामाया को शेर सवारी कर के उतरे हुए अभी सिर्फ एक ही सप्ताह हुआ है । पर ईन का रोबदाब ऐसा है कि जैसे यह साक्षात महाकाल...

item-thumbnail

स्वर्ग में तो नेकपा एमाले और उसके नए मेयर का ही बोलबाला है : बिम्मी शर्मा

0 June 6, 2017

बिम्मी शर्मा, बीरगंज (व्यग्ँय.) हिंदी में एक कहावत है “गावँ बसा नहीं कि मागने वाले आ गए ।” ठीक उसी तरह का हाल है नेपाल में नए, नवेले नगर, उपमहानगर और ...

item-thumbnail

धृतराष्ट्र सत्ता ! शासन हमेशा अंधा ही होता है : बिम्मी शर्मा

0 May 29, 2017

बिम्मी शर्मा, वीरगंज , २९ मई | ( व्यंग्य) कहते हैं कि सन्तान मोह में मां, बाप अंधे हो जाते हैं । और यह मां, बाप देश के राष्ट्रपति और प्रधान मंत्री हो ...

item-thumbnail

मतपेटिका का पेट गांधारी की तरह होगया, गर्भ है बच्चा पैदा नही हो रहा : बिम्मी शर्मा

0 May 23, 2017

बिम्मी शर्मा, वीरगंज, २३ मई , (व्यग्ँय) | इस मतपेटिका माता के पेट में पता नहीं मतपत्र नाम के कितने बच्चे हैं जो निर्वाचन आयोग नाम का अस्पताल और इसके न...

item-thumbnail

देख भाई देख ! निर्वाचन का तमाशा : बिम्मी शर्मा

1 May 16, 2017

बिम्मीशर्मा,बीरगंज (व्यग्ँय), १६ मई | देख भाई देख ईस देश में स्थानीय तह का निर्वाचन का तमाशा हो रहा है । ईसे आंखे फाड, फड कर देख और अपने सर को पिट । क...

item-thumbnail

लोकतन्त्र जितना मजबूत होगा, निजी क्षेत्र उतना ही ज्यादा उन्नति करेगा : विष्णु अग्रवाल

0 May 11, 2017

लोकतन्त्र के बाद खुलने वाले निजी बैंक और उद्योग व्यवसाय करने वालों को लगानी के लिए अवसर दिया और इसके कारण बाजार विस्तार में मदद मिली । १९९१ के नेपाल–भ...

item-thumbnail

कलियुगी हनुमानों का पेट सुरसा की मुँह की तरह खूल तो जाता है पर कुछ भी खिलाने से भरता ही नहीं

0 May 9, 2017

बिम्मी शर्मा, बीरगंज , (व्यग्ँय) | एक हनुमान वह थे जो त्रेता युग में भगवान राम के भक्त के रूप में पैदा हुए थे । जिन्होनें लंका मे आग लगाई और संजीवनी ब...

item-thumbnail

थाली का बैगन

0 May 6, 2017

अस्पताल या स्वास्थ्य चौकी न होने से गांव में लोग बीमार पड़ रहे हैं, अकाल में मर रहे हैं, कोई बात नहीं । अन्न–बाली में कीड़े लगते हैं, खाद्य की कोई व्य...

item-thumbnail

घोषणापत्र ! जनता को मूर्ख बनाओ, अपना स्वार्थ साधो और मौज करो : बिम्मी शर्मा

0 May 1, 2017

घोषणापत्र है स्थानीय निकाय के चुनाव का । पर उसमे चांद और मंगल ग्रह पर जाने की बात लिखी गई है । बिम्मी शर्मा, वीरगंज, १ मई (व्यग्ँय ) यह घोषणापत्र का म...

item-thumbnail

लोकतंत्र अब लोभतंत्र हो चूका है और जल्द ही लोपतंत्र भी हो जाएगा : बिम्मी शर्मा

0 April 25, 2017

बिम्मी शर्मा, २५ अप्रैल | (व्यंग्य) लोकतंत्र बबुआ को इस देश में पधारे हुए १० साल हो गए पर यह का खाते हैं कि बढत नाहीं । इस के साथ पैदा हुए बांकी सारे ...

item-thumbnail

पड़ोस में भारत न होता तो नेपाल में पत्रकारों को लिखने को समाचार ही नहीं मिलता

0 April 18, 2017

बिम्मी शर्मा , वीरगंज, १८ अप्रैल |( व्यग्ँय..) हमारे पड़ोस में यदि भारत नाम का देश न होता तो सच में हम लोग क्या करते ? नौकरी से तो बेरोजगार हैं ही शायद...

item-thumbnail

दूर्भाग्य है कि आलु मंत्री दूसरे गृह मंत्री को स्पेस ही नहीं दे रहा है : बिम्मी शर्मा

0 April 11, 2017

बिम्मी शर्मा , वीरगंज, ११ अप्रिल | (व्यग्ँय) आलु को हम सभी ने देखा, खरीदा और खाया ही है । बिना आलु के सब्जी सब्जी जैसी नहीं हो पाती । आलु खुद ही एक सब...

item-thumbnail

पत्रकारों का नोटतंत्र

0 March 31, 2017

पत्रकार बनने के लिए पत्रकारिता की एबीससीडी आनी जरूरी नहीं है बस नेता और दल की चापलुसी करनी जरूर आनी चाहिए । महासंघ का भवन बनता है विभिन्न उद्योगी और व...

item-thumbnail

पान खाए सैंया हमार, हमारे देश के सैंया सिर्फ पान ही नहीं कमिशन भी खाते हैं

0 March 27, 2017

बिम्मी शर्मा, वीरगंज ,२७ मार्च | ईस युग के सैंया सिर्फ पान ही नहीं खाते और भी बहुत कुछ खा और पी जाते हैं । बिडी, सिगरेट, सूर्ती, खैनी, गुट्का, सिगार औ...

item-thumbnail

चुनाव ! जहाँ नोट के बदले वोट बिकता आया है : .बिम्मीशर्मा

0 March 22, 2017

बिम्मीशर्मा, वीरगंज ,२२ मार्च (व्यग्ँय) | अन्य देशों मे चुनाव ५ साल में एक बार आता है हमारे देश में यह २० साल में एक बार आता है । अब जो लेट या देरी से...

item-thumbnail

वधशाला ! जहाँ हर नेता कसाई और हर नागरिक मुर्गा, हांस और बकरी है : बिम्मीशर्मा

0 March 19, 2017

बिम्मीशर्मा, बीरगंज , १९ मार्च | (व्यग्ँय) नेपाल के तराई या मधेश से राजधानी काठमाडू के लिए चिनीया परिकार मोमोज बनाने के लिए हरेक दिन भैंस या रागां ले ...

item-thumbnail

ओली एंड कंपनी को मधेश और मधेशी से एलर्जी है : प्रदीप यादव

0 March 17, 2017

प्रदीप यादव, अध्यक्ष, पर्सा,संघीय समाजवादी फोरम नेपाल, १७ मार्च | संघीय समाजवादी फोरम नेपाल पर्सा के अध्यक्ष प्रदीप यादव अपने स्पष्ट दृष्टिकोण के लिए ...

item-thumbnail

तीन देवियां कब तक मूर्ति मानव बन कर रहेंगी ? बिम्मी शर्मा

0 March 15, 2017

तीन देवियां कब तक मूर्ति मानव बन कर रहेंगी ? कब उतरेगी अपने सिंहासन से और देश के नागरिकों का मन जितेंगी । यह मिट्टी या पत्थर की पिंड़ तो नहीं है, तो द...

item-thumbnail

सप्तरी घटना में एमाले के शीर्ष नेताओं का हाथ है : लाल बाबु राउत

0 March 12, 2017

विरगंज, फाल्गुन २९: संघिय समाजवादी फोरम नेपाल के पर्सा क्षेत्र नं. २ का क्षेत्रीय अधिवेशन गा.वि.स चोर्नी में सम्पन्न हुआ। संघिय समाजवादी फोरम नेपाल के...

item-thumbnail

मैला आंचल, महिला को महिला की गरिमा प्रदान करे उसे “मैला” न होने दें : बिम्मी शर्मा

0 March 8, 2017

  बिम्मी शर्मा, बीरगंज , ८ मार्च | आंचल मतलब नारी या नारीत्व का प्रतीक । पर यह प्रतीक धीमे–धीमे मैला हो रहा है । नारी सृष्टि की गरिमा है पर उसी क...

item-thumbnail

बीरगंज में मोटरसाईकल रैली और लाठी जुलुस निकालने का मोर्चा-पर्सा का निर्णय

0 March 5, 2017

बिम्मी शर्मा,,वीरगन्ज, फागुन २२ | संयुक्त लोकतान्त्रिक मधेसी मोर्चा पर्सा में कल्ह हुई बैठक ने दो सुत्रीय निर्णय किया है । संघीय समाजवादी फोरम नेपाल प...

item-thumbnail

देश का प्रतिष्ठित उधोगपति बनने का ख्वाब

0 March 3, 2017

अपने पिता के समय में ५ कर्मचारी रख कर शुरु किए गए खाद्यान्न के व्यवसाय को बेटे सुवोध कुमार गुप्ता ने बढ़ा कर उस व्यवसाय को सौ से ज्यादा को रोजगार देने...

item-thumbnail

बेशर्म नेता ही राजदूत के पद को बिक्री करके लाजदूत बना देते है : बिम्मी शर्मा

0 March 1, 2017

बिम्मी शर्मा, वीरगंज, १ मार्च | (व्यंग्य ) दुसरे देशों में राजदूत विदेश मंत्रालय के उच्च पदास्थ कर्मचारी होते हैं । पर हमारा देश तो दुसरों से निराला ह...

item-thumbnail

आओ नेता बनें और इस देश को खुब लूटें : बिम्मी शर्मा

0 February 21, 2017

बिम्मी शर्मा, वीरगंज,२१ फरवरी, (व्यंग) | इस देश में और इस देश की अवाम को और कुछ नहीं चाहिए सिवा नेता के । यहां चारो ओंर हाय, हाय और हायतौबा भी नेता के...

item-thumbnail

नेपाल–भारत सहयोग मञ्च द्वारा भारतीय महाबाणिज्य दूत सम्मानित

0 February 11, 2017

बिम्मी शर्मा, वीरगंज , ११ फरवरी | नेपाल–भारत सहयोग मञ्च, बिरगंज ने भारतीय महावाणिज्य दूतावास, के नए महावाणिज्य दूत बी.सी.प्रधान का स्वागत और सम्मान कि...

item-thumbnail

अपना हाथ जगन्नाथ, बेचारा एसएसपी कैसे बताएगा ३४किलो सोना खाने वाली बडी मछली कौन है

0 February 7, 2017

बिम्मी शर्मा (व्यग्ंय), वीरगंज , ७ फरवरी |पद, पैसा और पावर वह त्रिवेणी जिस पर नहाने के बाद हर कोई अपना हाथ जगन्नाथ करने के लिए उतावला होता है । यह पैस...

item-thumbnail

शहीद बैंक, जल्द खाता खोलिये, क्या पता बाद में शहीद के कोटे में सिट मिले न मिले ?

0 January 31, 2017

बिम्मीशर्मा, वीरगंज , ३१ जनवरी | (व्यग्ंय.)  एक कहावत है “सारी खुदाई एक तरफ जोरु का भाई एक तरफ । ” यह कहावत नेपाल के तथाकथित शहिदों पर एकदम फिट बैठती ...

item-thumbnail

“जीजिविषा से भरा एक देश” एक नेपाली नागरिक की नजरिए से भारत : बिम्मी शर्मा

0 January 26, 2017

बिम्मी शर्मा, वीरगंज ,२६ जनवरी | किसी भी देश को जानने के लिए उस की विविधताओं को जानने के साथ ही उस देश की अवाम के अंदर की जीजिविषा को जानना और देखना ब...

item-thumbnail

वीरगंज में भारतीय गणतंत्र दिवस पर मणिपूरी लोक नृत्य और गायन का प्रदर्शन

0 January 25, 2017

बिम्मी शर्मा, वीरगंज,  २५ जनवरी | भारतीय गणतंत्र दिवस के अवसर में मंगलवार को वीरगंज में एक भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया । भारतीय सांस्क...

item-thumbnail

खूल्ला शौचालय “पास में नहीं है दाने पर अम्मा चली भूनाने” : बिम्मीशर्मा

0 January 24, 2017

बिम्मीशर्मा, विएग्न्ज , ११ माघ | खूल्ला बिश्वविधालय का नाम तो सभी ने सुनाहोगा ? जहां दूर बैठ कर भी विद्यार्थी अध्ययन करते हैं ज्ञान लेते है । यह बिश्व...

item-thumbnail

आत्महत्या ! रैप गायक किस मानसिक त्रासदी से गुजर रहा था कभी सोचा है ? बिम्मीशर्मा

0 January 20, 2017

बिम्मीशर्मा , वीरगंज,7 माघ |कोई जिदंगी से लाचार हो कर आत्महत्या करता है तो उसे संवेदना या सहानुभूति देने के बजाय सब उस मर चूके ईंसान की खिल्ली उडाते ह...

item-thumbnail

ठंडा मतलब कोकाकोला राष्ट्रवाद मतलब एमाले, संसोधन न करने का हठ : बिम्मीशर्मा

0 January 11, 2017

व्यग्ंय…….बिम्मीशर्मा, वीरगंज , 27 पुस | यह देश अजब, गजब है और यहां की जनता और मीडिया भी वैसी ही है । विभिन्न राजनीतिक दल, नेता और उनके दू...

item-thumbnail

टोपी जो सफेद बाल ही नहीं, अंदर की बेईमानी और भ्रष्टाचार भी छिपा देता है

1 January 3, 2017

टोपी जिंदावाद, ……. बिम्मीशर्मा, वीरगंज, ३ जनवरी |(व्यग्ंय) शरीर में कपडा पहनना उतना जरुरी नहीं है जितना टोपी पहनना । आखिर में ईस देश का दे...

item-thumbnail

लेखक बना ही नही बन गया लेखक संघ का अध्यक्ष यानि आंखे नाहीं चश्मे चांही : बिम्मीशर्मा

0 December 27, 2016

बिम्मीशर्मा, बीरगंज, २७ दिसिम्बर | जिसका आंख कमजोर हो वह पावर वाला चश्मा पहनें तो ठीक है पर जब वह गगल्स या सन गलास पहन लेता है तो क्या होगा ? जिसका पै...

item-thumbnail

ग़रीब कैसे हो गए हमारे प्रधानमंत्री प्रचण्ड, जरुर जनता की खून में मिलावट आ गई है

0 December 20, 2016

बिम्मी शर्मा, वीरगंज, २० दिसिम्बर |  हमारे प्रधान मंत्री तो बहुत ही गरीब हैं भई । दो दो बार प्रधान मंत्री बनने के बाद भी कामरेड प्रचंड के पास सिर्फ एक...

item-thumbnail

पत्रकारिता या जूताकारिता : बिम्मी शर्मा

0 December 12, 2016

बिम्मी शर्मा, बीरगंज , १२ दिसिम्बर | हमारे देश में जूते खाने और खिलाने का एक नया रिवाज शुरु हो गया है । जब खुद जूता खाते हैं किसी से तो यह बात इस तरह ...

item-thumbnail

सिंहदरवार बड़ा पागलखाना है, जहां ६०१ महा पागल बदंर की तरह कुछ न कुछ करते रहते हैं

0 December 7, 2016

    बिम्मी शर्मा,बीरगंज , ७ दिसिम्बर | पागलखाने में रह रहे पागलों से समाज और देश को जितना खतरा नहीं है उतना खतरा बाहर चलते फिरते सामान्य से दिखने वाले...

item-thumbnail

“डियर भूकंप” अगली बार आना तो चुपके से आना

0 November 28, 2016

बिम्मी शर्मा, बीरगंज, २८ ,नवम्बर | “डियर जिंदगी” फिल्म गत शुक्रवार को रिलीज हुई और आज सुबह ही “डियर भूकंप” जीवन का महत्व बताने के लिए आ धमका बिन बुलाए...

item-thumbnail

घूघंट बुरा नहीं है इसे देखने की नजरिया बुरा है : बिम्मी शर्मा

0 November 22, 2016

बिम्मी शर्मा, बीरगंज ,२२ नवम्बर |“घूघंट का पट खोल रे तुझे श्याम मिलेगें । ” इस मशहूर भजन की तरह हम सभी ने चेहरे का घूघंट तो हटा लिया पर मन में लगा हुआ...

item-thumbnail

नेता पद और पावर के मद में इतने चूर हो जाते हैं कि जनता को जन्तु समझते है : बिम्मी शर्मा

0 November 15, 2016

बिम्मी शर्मा, बीरगंज , ३० कार्तिक | नेता रोगी हैं इसी लिए देश भी रोगी है । देश जगह जगह से फट रहा है, देश की अतंडिया फट कर सरे आम बह रही है । देश लकवा ...

item-thumbnail

लोकमान ने देश को जोकमान बनाकर नागरिकों को शोकमान और भोकमान बना दिया

0 October 26, 2016

बिम्मी शर्मा, काठमांडू, २६ अक्टूबर | यह देश जोकरों का है इसी लिए जोकतंत्र यहां फलफूल रहा है । इसी जोकतंत्र में जोकमान जैसे लोग अपना स्वार्थ सिद्ध करने...

item-thumbnail

“पर उपदेश कुशल बहुतेरे”

0 October 25, 2016

उपदेश है भई हर कोई बैठे बिठाए देना चाहता है पर कोई लेटे लिटाए नहीं लेना चाहता । लेने वाला चाहता है सहयोग पर देने वाला सहयोग की मूठ्ठी तो बंद कर देता ह...

item-thumbnail

प्रेम गली अति सांकरी….. :बिम्मी शर्मा

0 October 17, 2016

बिम्मी शर्मा, काठमांडू, १७ अक्टूबर | प्रेम कि गली ईतनी सांकरी होती है कि उसमें एक के सिवा दुसरा कोई समा नहीं पाता या रह नहीं सकता । पर नफरत की गली ईतन...

item-thumbnail

रावण लीला, राम चारो खाने चित्त है और रावण राम की छाती पर खड़ा है

0 October 10, 2016

बिम्मीशर्मा, काठमांडू , १० अक्टूबर | हमारे पडोसी देशों में हर साल दशहरा में रामलीला किया या मनाया जाता है । पर हमलोग हर साल रावण लीला मनाते हैं । हमार...

item-thumbnail

हिंदी के नाम पर १०५ डिग्री का बुखार क्यों चढ़ जाता है ? बिम्मी शर्मा

0 October 4, 2016

बिम्मी शर्मा,काठमांडू ,४ अक्टूबर | भाषा का लफड़ा ….. हमें लड़ने में मजा आता है इसी लिए किसी न किसी बहाने से लड़ते ही रहते हैं । जब लड़ने के लिए कुछ ...

item-thumbnail

मोबाईल मेनिया – शादी का वह लड्डू, जो न खाए पछताए और जो खाए वह भी पछताए

0 September 26, 2016

बिम्मी शर्मा , काठमांडू, २६ सेप्टेम्बर | लोग बाहर जाते समय कपडे पहनना भूल जाएँगें पर मोबाईल साथ ले कर चलना नहीं भूलेंगे । अंतः वस्त्र में ही घर से बाह...

item-thumbnail

संविधान ! मेरा जीवन कोरा कागज, कोरा ही रह गया…. : बिम्मी शर्मा

0 September 20, 2016

बिम्मी शर्मा, काठमांडू, २० सेप्टेम्बर | एक साल पहले आज ही के दिन एक बच्चे का जन्म हुआ था । जिसका नाम उसके जन्म दाता ने “संविधान”  नाम रखा था । आज अपने...

item-thumbnail

अश्वत्थामाकारिता, पत्रकारिता यह चौथा अंग अंगद के पैर की तरह स्थिर है

0 September 12, 2016

 बिम्मी शर्मा, काठमांडू, १२ सेप्टेम्बर | महाभारत के युद्ध को निर्णायक बनाने के लिए गुरु द्रोणाचार्य का मरना जरुरी था । इसी लिए अश्वत्थमा नामक हाथी को ...

item-thumbnail

चश्मा ! ओली के सारे कार्यकर्ता टीन का चश्मा पहनते हैं जिसमें खूद के अलावा कुछ नहीं दिखाई देता

0 September 5, 2016

बिम्मी शर्मा, काठमांडू ,५ सेप्टेम्बर | चश्मा आँख खराब होने पर या कड़ी धूप से बचने के लिए आँख पर लगाया जाता है । पर कई लोग अपने मन की मलीनता और कुत्सित ...

item-thumbnail

राष्ट्रवाद का डी.एन.ए.

0 September 4, 2016

अचानक वही तिलाठी वासी देश प्रेमी और राष्ट्रवादी हो गए ? जब यही तिलाठी मधेश आंदोलन मे पुलिस की लाठी खा रही थी तब कहां था यह राज्य ? तब क्यो नहीं माना ग...

item-thumbnail

हमारा देश महान है, यहां शहीदों का उत्पादन धड़ल्ले से होता है: बिम्मीशर्मा

0 August 22, 2016

बिम्मीशर्मा, काठमांडू, २२ अगस्त | (शहीदों का देश) अन्य देश धान, गेहूं और अन्य अन्न उत्पादन करते हैं । अन्य देश में दाल और सब्जी वगैरह भी उपजाया जाता ह...

item-thumbnail

चित्रगूप्त महाराज मन ही मन सोचते होगें कि नेपाल के लोगों की खोप्डी उल्टी क्यों घूमती है ?

August 15, 2016

बिम्मीशर्मा, काठमांडू ,१५ अगस्त | जिस देश में किसी के जन्मकालाइसेन्स नागरिकाको मानागयाहो वहां पर पत्रकारों को भीलाईसेंस देने किपहल करनाकोई आश्चर्य जनक...

item-thumbnail

नाग (नेता) मुक्त देश : बिम्मी शर्मा

August 8, 2016

 बिम्मी शर्मा, काठमांडू , ८ अगस्त | इस देश को खुलाशौच मुक्त करने के लिए स्थानीय निकाय और आम जनता बडे जोर–शोर से लगे हुए हैं । समाचार आता रहता है कि फं...

item-thumbnail

गमला क्रान्ति

August 2, 2016

बिम्मी शर्मा पिछले साल के धान दिवस में कृषिमंत्री ने “कमला” (महिला) पर अपना प्यार उढेÞला था । इस साल के धानदिवस में कृषिमन्त्री ने अपना प्यार “गमला” प...

item-thumbnail

प्रचंड प्रतापी भूपति, अब शायद राष्ट्रवाद का साईकल पंचर हो गया लगता है : बिम्मी शर्मा

August 1, 2016

बिम्मी शर्मा, काठमांडू, १ अगस्त | हम सभी अपने बचपन में बड़े मनोयोग या बाध्यता से “श्रीमान गंभीर नेपाली प्रचण्ड प्रतापी भूपति” गाया करते थे । अब श्रीमान...

item-thumbnail

एक स्वप्न सम्राट का अवसान : बिम्मी शर्मा

July 25, 2016

बिम्मी शर्मा, काठमांडू ,२५ जुलाई | इस संसार में सभी जीवों या वस्तुओं का एक दिन अंत निश्चित है । पर स्वप्न में ही परिभ्रमण कर रहे एक स्वप्न सम्राट को इ...

1 2