item-thumbnail

कहीं पे निगाहें कहीं पे निशाना : बिम्मी शर्मा

0 October 6, 2017

दो नंबर प्रदेश प्रदेश पूरी तरह चुनावी रंग मे रंग चुका है । यहां दशहरे के जैसा माहौल है । हर तरफ अस्त व्यस्तता दिखाई देती है । सभी अपने समर्थित दल और उ...

item-thumbnail

कत्ल की रात, आज की रात सभी का गर्दन पैसे की चक्कू से कटेगा

0 September 17, 2017

बिम्मी शर्मा, वीरगंज, १७ सितम्बर | (व्यग्ँय) आज है कत्ल की रात । मतदाताओं की ईमान और विवेक को पैसे कि खंजर से लहुलुहान करने की रात है आज । यह रात कालर...

item-thumbnail

वीरगंज को स्वीटजरलैंड बनाने का वादा तो नहीं करुगां, पर विकास की ताला जरुर खोलूंगा : रहबर

0 September 12, 2017

  राह दिखाने के “राह” में रहबर, वीरगंज में सबसे कम उम्र के मेयर के उम्मीदवार बिम्मी शर्मा, वीरगंज | वह अपने नाम जैसा ही काम करना चाहते हैं । रहबर...

item-thumbnail

वृद्ध भत्ता मछली फंसाने का चारा : बिम्मी शर्मा

0 July 5, 2017

वृद्ध भत्ता नेकपा एमाले के लिए वह दूधारु गाय है जो वह हर निर्वाचन में दूह कर जीतना चाहता है । ०४६ साल में देश में बहूदलीययवस्था आने के बाद नेकपा एमाले...

item-thumbnail

माहामायाजी, जब पद में थी तब किसी को गोद में बिठाया तो किसी को आंख की ओट भी न लगने दी

0 June 13, 2017

बिम्मीशर्मा, बीरगंज , (व्यग्ँय), माहामाया को शेर सवारी कर के उतरे हुए अभी सिर्फ एक ही सप्ताह हुआ है । पर ईन का रोबदाब ऐसा है कि जैसे यह साक्षात महाकाल...

item-thumbnail

स्वर्ग में तो नेकपा एमाले और उसके नए मेयर का ही बोलबाला है : बिम्मी शर्मा

0 June 6, 2017

बिम्मी शर्मा, बीरगंज (व्यग्ँय.) हिंदी में एक कहावत है “गावँ बसा नहीं कि मागने वाले आ गए ।” ठीक उसी तरह का हाल है नेपाल में नए, नवेले नगर, उपमहानगर और ...

item-thumbnail

धृतराष्ट्र सत्ता ! शासन हमेशा अंधा ही होता है : बिम्मी शर्मा

0 May 29, 2017

बिम्मी शर्मा, वीरगंज , २९ मई | ( व्यंग्य) कहते हैं कि सन्तान मोह में मां, बाप अंधे हो जाते हैं । और यह मां, बाप देश के राष्ट्रपति और प्रधान मंत्री हो ...

item-thumbnail

मतपेटिका का पेट गांधारी की तरह होगया, गर्भ है बच्चा पैदा नही हो रहा : बिम्मी शर्मा

0 May 23, 2017

बिम्मी शर्मा, वीरगंज, २३ मई , (व्यग्ँय) | इस मतपेटिका माता के पेट में पता नहीं मतपत्र नाम के कितने बच्चे हैं जो निर्वाचन आयोग नाम का अस्पताल और इसके न...

item-thumbnail

देख भाई देख ! निर्वाचन का तमाशा : बिम्मी शर्मा

1 May 16, 2017

बिम्मीशर्मा,बीरगंज (व्यग्ँय), १६ मई | देख भाई देख ईस देश में स्थानीय तह का निर्वाचन का तमाशा हो रहा है । ईसे आंखे फाड, फड कर देख और अपने सर को पिट । क...

item-thumbnail

लोकतन्त्र जितना मजबूत होगा, निजी क्षेत्र उतना ही ज्यादा उन्नति करेगा : विष्णु अग्रवाल

0 May 11, 2017

लोकतन्त्र के बाद खुलने वाले निजी बैंक और उद्योग व्यवसाय करने वालों को लगानी के लिए अवसर दिया और इसके कारण बाजार विस्तार में मदद मिली । १९९१ के नेपाल–भ...

item-thumbnail

कलियुगी हनुमानों का पेट सुरसा की मुँह की तरह खूल तो जाता है पर कुछ भी खिलाने से भरता ही नहीं

0 May 9, 2017

बिम्मी शर्मा, बीरगंज , (व्यग्ँय) | एक हनुमान वह थे जो त्रेता युग में भगवान राम के भक्त के रूप में पैदा हुए थे । जिन्होनें लंका मे आग लगाई और संजीवनी ब...

item-thumbnail

थाली का बैगन

0 May 6, 2017

अस्पताल या स्वास्थ्य चौकी न होने से गांव में लोग बीमार पड़ रहे हैं, अकाल में मर रहे हैं, कोई बात नहीं । अन्न–बाली में कीड़े लगते हैं, खाद्य की कोई व्य...

item-thumbnail

घोषणापत्र ! जनता को मूर्ख बनाओ, अपना स्वार्थ साधो और मौज करो : बिम्मी शर्मा

0 May 1, 2017

घोषणापत्र है स्थानीय निकाय के चुनाव का । पर उसमे चांद और मंगल ग्रह पर जाने की बात लिखी गई है । बिम्मी शर्मा, वीरगंज, १ मई (व्यग्ँय ) यह घोषणापत्र का म...

item-thumbnail

लोकतंत्र अब लोभतंत्र हो चूका है और जल्द ही लोपतंत्र भी हो जाएगा : बिम्मी शर्मा

0 April 25, 2017

बिम्मी शर्मा, २५ अप्रैल | (व्यंग्य) लोकतंत्र बबुआ को इस देश में पधारे हुए १० साल हो गए पर यह का खाते हैं कि बढत नाहीं । इस के साथ पैदा हुए बांकी सारे ...

item-thumbnail

पड़ोस में भारत न होता तो नेपाल में पत्रकारों को लिखने को समाचार ही नहीं मिलता

0 April 18, 2017

बिम्मी शर्मा , वीरगंज, १८ अप्रैल |( व्यग्ँय..) हमारे पड़ोस में यदि भारत नाम का देश न होता तो सच में हम लोग क्या करते ? नौकरी से तो बेरोजगार हैं ही शायद...

item-thumbnail

दूर्भाग्य है कि आलु मंत्री दूसरे गृह मंत्री को स्पेस ही नहीं दे रहा है : बिम्मी शर्मा

0 April 11, 2017

बिम्मी शर्मा , वीरगंज, ११ अप्रिल | (व्यग्ँय) आलु को हम सभी ने देखा, खरीदा और खाया ही है । बिना आलु के सब्जी सब्जी जैसी नहीं हो पाती । आलु खुद ही एक सब...

item-thumbnail

पत्रकारों का नोटतंत्र

0 March 31, 2017

पत्रकार बनने के लिए पत्रकारिता की एबीससीडी आनी जरूरी नहीं है बस नेता और दल की चापलुसी करनी जरूर आनी चाहिए । महासंघ का भवन बनता है विभिन्न उद्योगी और व...

item-thumbnail

पान खाए सैंया हमार, हमारे देश के सैंया सिर्फ पान ही नहीं कमिशन भी खाते हैं

0 March 27, 2017

बिम्मी शर्मा, वीरगंज ,२७ मार्च | ईस युग के सैंया सिर्फ पान ही नहीं खाते और भी बहुत कुछ खा और पी जाते हैं । बिडी, सिगरेट, सूर्ती, खैनी, गुट्का, सिगार औ...

item-thumbnail

चुनाव ! जहाँ नोट के बदले वोट बिकता आया है : .बिम्मीशर्मा

0 March 22, 2017

बिम्मीशर्मा, वीरगंज ,२२ मार्च (व्यग्ँय) | अन्य देशों मे चुनाव ५ साल में एक बार आता है हमारे देश में यह २० साल में एक बार आता है । अब जो लेट या देरी से...

item-thumbnail

वधशाला ! जहाँ हर नेता कसाई और हर नागरिक मुर्गा, हांस और बकरी है : बिम्मीशर्मा

0 March 19, 2017

बिम्मीशर्मा, बीरगंज , १९ मार्च | (व्यग्ँय) नेपाल के तराई या मधेश से राजधानी काठमाडू के लिए चिनीया परिकार मोमोज बनाने के लिए हरेक दिन भैंस या रागां ले ...

item-thumbnail

ओली एंड कंपनी को मधेश और मधेशी से एलर्जी है : प्रदीप यादव

0 March 17, 2017

प्रदीप यादव, अध्यक्ष, पर्सा,संघीय समाजवादी फोरम नेपाल, १७ मार्च | संघीय समाजवादी फोरम नेपाल पर्सा के अध्यक्ष प्रदीप यादव अपने स्पष्ट दृष्टिकोण के लिए ...

item-thumbnail

तीन देवियां कब तक मूर्ति मानव बन कर रहेंगी ? बिम्मी शर्मा

0 March 15, 2017

तीन देवियां कब तक मूर्ति मानव बन कर रहेंगी ? कब उतरेगी अपने सिंहासन से और देश के नागरिकों का मन जितेंगी । यह मिट्टी या पत्थर की पिंड़ तो नहीं है, तो द...

item-thumbnail

सप्तरी घटना में एमाले के शीर्ष नेताओं का हाथ है : लाल बाबु राउत

0 March 12, 2017

विरगंज, फाल्गुन २९: संघिय समाजवादी फोरम नेपाल के पर्सा क्षेत्र नं. २ का क्षेत्रीय अधिवेशन गा.वि.स चोर्नी में सम्पन्न हुआ। संघिय समाजवादी फोरम नेपाल के...

item-thumbnail

मैला आंचल, महिला को महिला की गरिमा प्रदान करे उसे “मैला” न होने दें : बिम्मी शर्मा

0 March 8, 2017

  बिम्मी शर्मा, बीरगंज , ८ मार्च | आंचल मतलब नारी या नारीत्व का प्रतीक । पर यह प्रतीक धीमे–धीमे मैला हो रहा है । नारी सृष्टि की गरिमा है पर उसी क...

item-thumbnail

बीरगंज में मोटरसाईकल रैली और लाठी जुलुस निकालने का मोर्चा-पर्सा का निर्णय

0 March 5, 2017

बिम्मी शर्मा,,वीरगन्ज, फागुन २२ | संयुक्त लोकतान्त्रिक मधेसी मोर्चा पर्सा में कल्ह हुई बैठक ने दो सुत्रीय निर्णय किया है । संघीय समाजवादी फोरम नेपाल प...

item-thumbnail

देश का प्रतिष्ठित उधोगपति बनने का ख्वाब

0 March 3, 2017

अपने पिता के समय में ५ कर्मचारी रख कर शुरु किए गए खाद्यान्न के व्यवसाय को बेटे सुवोध कुमार गुप्ता ने बढ़ा कर उस व्यवसाय को सौ से ज्यादा को रोजगार देने...

item-thumbnail

बेशर्म नेता ही राजदूत के पद को बिक्री करके लाजदूत बना देते है : बिम्मी शर्मा

0 March 1, 2017

बिम्मी शर्मा, वीरगंज, १ मार्च | (व्यंग्य ) दुसरे देशों में राजदूत विदेश मंत्रालय के उच्च पदास्थ कर्मचारी होते हैं । पर हमारा देश तो दुसरों से निराला ह...

item-thumbnail

आओ नेता बनें और इस देश को खुब लूटें : बिम्मी शर्मा

0 February 21, 2017

बिम्मी शर्मा, वीरगंज,२१ फरवरी, (व्यंग) | इस देश में और इस देश की अवाम को और कुछ नहीं चाहिए सिवा नेता के । यहां चारो ओंर हाय, हाय और हायतौबा भी नेता के...

item-thumbnail

नेपाल–भारत सहयोग मञ्च द्वारा भारतीय महाबाणिज्य दूत सम्मानित

0 February 11, 2017

बिम्मी शर्मा, वीरगंज , ११ फरवरी | नेपाल–भारत सहयोग मञ्च, बिरगंज ने भारतीय महावाणिज्य दूतावास, के नए महावाणिज्य दूत बी.सी.प्रधान का स्वागत और सम्मान कि...

item-thumbnail

अपना हाथ जगन्नाथ, बेचारा एसएसपी कैसे बताएगा ३४किलो सोना खाने वाली बडी मछली कौन है

0 February 7, 2017

बिम्मी शर्मा (व्यग्ंय), वीरगंज , ७ फरवरी |पद, पैसा और पावर वह त्रिवेणी जिस पर नहाने के बाद हर कोई अपना हाथ जगन्नाथ करने के लिए उतावला होता है । यह पैस...

item-thumbnail

शहीद बैंक, जल्द खाता खोलिये, क्या पता बाद में शहीद के कोटे में सिट मिले न मिले ?

0 January 31, 2017

बिम्मीशर्मा, वीरगंज , ३१ जनवरी | (व्यग्ंय.)  एक कहावत है “सारी खुदाई एक तरफ जोरु का भाई एक तरफ । ” यह कहावत नेपाल के तथाकथित शहिदों पर एकदम फिट बैठती ...

item-thumbnail

“जीजिविषा से भरा एक देश” एक नेपाली नागरिक की नजरिए से भारत : बिम्मी शर्मा

0 January 26, 2017

बिम्मी शर्मा, वीरगंज ,२६ जनवरी | किसी भी देश को जानने के लिए उस की विविधताओं को जानने के साथ ही उस देश की अवाम के अंदर की जीजिविषा को जानना और देखना ब...

item-thumbnail

वीरगंज में भारतीय गणतंत्र दिवस पर मणिपूरी लोक नृत्य और गायन का प्रदर्शन

0 January 25, 2017

बिम्मी शर्मा, वीरगंज,  २५ जनवरी | भारतीय गणतंत्र दिवस के अवसर में मंगलवार को वीरगंज में एक भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया । भारतीय सांस्क...

item-thumbnail

खूल्ला शौचालय “पास में नहीं है दाने पर अम्मा चली भूनाने” : बिम्मीशर्मा

0 January 24, 2017

बिम्मीशर्मा, विएग्न्ज , ११ माघ | खूल्ला बिश्वविधालय का नाम तो सभी ने सुनाहोगा ? जहां दूर बैठ कर भी विद्यार्थी अध्ययन करते हैं ज्ञान लेते है । यह बिश्व...

item-thumbnail

आत्महत्या ! रैप गायक किस मानसिक त्रासदी से गुजर रहा था कभी सोचा है ? बिम्मीशर्मा

0 January 20, 2017

बिम्मीशर्मा , वीरगंज,7 माघ |कोई जिदंगी से लाचार हो कर आत्महत्या करता है तो उसे संवेदना या सहानुभूति देने के बजाय सब उस मर चूके ईंसान की खिल्ली उडाते ह...

item-thumbnail

ठंडा मतलब कोकाकोला राष्ट्रवाद मतलब एमाले, संसोधन न करने का हठ : बिम्मीशर्मा

0 January 11, 2017

व्यग्ंय…….बिम्मीशर्मा, वीरगंज , 27 पुस | यह देश अजब, गजब है और यहां की जनता और मीडिया भी वैसी ही है । विभिन्न राजनीतिक दल, नेता और उनके दू...

item-thumbnail

टोपी जो सफेद बाल ही नहीं, अंदर की बेईमानी और भ्रष्टाचार भी छिपा देता है

1 January 3, 2017

टोपी जिंदावाद, ……. बिम्मीशर्मा, वीरगंज, ३ जनवरी |(व्यग्ंय) शरीर में कपडा पहनना उतना जरुरी नहीं है जितना टोपी पहनना । आखिर में ईस देश का दे...

item-thumbnail

लेखक बना ही नही बन गया लेखक संघ का अध्यक्ष यानि आंखे नाहीं चश्मे चांही : बिम्मीशर्मा

0 December 27, 2016

बिम्मीशर्मा, बीरगंज, २७ दिसिम्बर | जिसका आंख कमजोर हो वह पावर वाला चश्मा पहनें तो ठीक है पर जब वह गगल्स या सन गलास पहन लेता है तो क्या होगा ? जिसका पै...

item-thumbnail

ग़रीब कैसे हो गए हमारे प्रधानमंत्री प्रचण्ड, जरुर जनता की खून में मिलावट आ गई है

0 December 20, 2016

बिम्मी शर्मा, वीरगंज, २० दिसिम्बर |  हमारे प्रधान मंत्री तो बहुत ही गरीब हैं भई । दो दो बार प्रधान मंत्री बनने के बाद भी कामरेड प्रचंड के पास सिर्फ एक...

item-thumbnail

पत्रकारिता या जूताकारिता : बिम्मी शर्मा

0 December 12, 2016

बिम्मी शर्मा, बीरगंज , १२ दिसिम्बर | हमारे देश में जूते खाने और खिलाने का एक नया रिवाज शुरु हो गया है । जब खुद जूता खाते हैं किसी से तो यह बात इस तरह ...

item-thumbnail

सिंहदरवार बड़ा पागलखाना है, जहां ६०१ महा पागल बदंर की तरह कुछ न कुछ करते रहते हैं

0 December 7, 2016

    बिम्मी शर्मा,बीरगंज , ७ दिसिम्बर | पागलखाने में रह रहे पागलों से समाज और देश को जितना खतरा नहीं है उतना खतरा बाहर चलते फिरते सामान्य से दिखने वाले...

item-thumbnail

“डियर भूकंप” अगली बार आना तो चुपके से आना

0 November 28, 2016

बिम्मी शर्मा, बीरगंज, २८ ,नवम्बर | “डियर जिंदगी” फिल्म गत शुक्रवार को रिलीज हुई और आज सुबह ही “डियर भूकंप” जीवन का महत्व बताने के लिए आ धमका बिन बुलाए...

item-thumbnail

घूघंट बुरा नहीं है इसे देखने की नजरिया बुरा है : बिम्मी शर्मा

0 November 22, 2016

बिम्मी शर्मा, बीरगंज ,२२ नवम्बर |“घूघंट का पट खोल रे तुझे श्याम मिलेगें । ” इस मशहूर भजन की तरह हम सभी ने चेहरे का घूघंट तो हटा लिया पर मन में लगा हुआ...

item-thumbnail

नेता पद और पावर के मद में इतने चूर हो जाते हैं कि जनता को जन्तु समझते है : बिम्मी शर्मा

0 November 15, 2016

बिम्मी शर्मा, बीरगंज , ३० कार्तिक | नेता रोगी हैं इसी लिए देश भी रोगी है । देश जगह जगह से फट रहा है, देश की अतंडिया फट कर सरे आम बह रही है । देश लकवा ...

item-thumbnail

लोकमान ने देश को जोकमान बनाकर नागरिकों को शोकमान और भोकमान बना दिया

0 October 26, 2016

बिम्मी शर्मा, काठमांडू, २६ अक्टूबर | यह देश जोकरों का है इसी लिए जोकतंत्र यहां फलफूल रहा है । इसी जोकतंत्र में जोकमान जैसे लोग अपना स्वार्थ सिद्ध करने...

item-thumbnail

“पर उपदेश कुशल बहुतेरे”

0 October 25, 2016

उपदेश है भई हर कोई बैठे बिठाए देना चाहता है पर कोई लेटे लिटाए नहीं लेना चाहता । लेने वाला चाहता है सहयोग पर देने वाला सहयोग की मूठ्ठी तो बंद कर देता ह...

item-thumbnail

प्रेम गली अति सांकरी….. :बिम्मी शर्मा

0 October 17, 2016

बिम्मी शर्मा, काठमांडू, १७ अक्टूबर | प्रेम कि गली ईतनी सांकरी होती है कि उसमें एक के सिवा दुसरा कोई समा नहीं पाता या रह नहीं सकता । पर नफरत की गली ईतन...

item-thumbnail

रावण लीला, राम चारो खाने चित्त है और रावण राम की छाती पर खड़ा है

0 October 10, 2016

बिम्मीशर्मा, काठमांडू , १० अक्टूबर | हमारे पडोसी देशों में हर साल दशहरा में रामलीला किया या मनाया जाता है । पर हमलोग हर साल रावण लीला मनाते हैं । हमार...

item-thumbnail

हिंदी के नाम पर १०५ डिग्री का बुखार क्यों चढ़ जाता है ? बिम्मी शर्मा

0 October 4, 2016

बिम्मी शर्मा,काठमांडू ,४ अक्टूबर | भाषा का लफड़ा ….. हमें लड़ने में मजा आता है इसी लिए किसी न किसी बहाने से लड़ते ही रहते हैं । जब लड़ने के लिए कुछ ...

item-thumbnail

मोबाईल मेनिया – शादी का वह लड्डू, जो न खाए पछताए और जो खाए वह भी पछताए

0 September 26, 2016

बिम्मी शर्मा , काठमांडू, २६ सेप्टेम्बर | लोग बाहर जाते समय कपडे पहनना भूल जाएँगें पर मोबाईल साथ ले कर चलना नहीं भूलेंगे । अंतः वस्त्र में ही घर से बाह...

item-thumbnail

संविधान ! मेरा जीवन कोरा कागज, कोरा ही रह गया…. : बिम्मी शर्मा

0 September 20, 2016

बिम्मी शर्मा, काठमांडू, २० सेप्टेम्बर | एक साल पहले आज ही के दिन एक बच्चे का जन्म हुआ था । जिसका नाम उसके जन्म दाता ने “संविधान”  नाम रखा था । आज अपने...

item-thumbnail

अश्वत्थामाकारिता, पत्रकारिता यह चौथा अंग अंगद के पैर की तरह स्थिर है

0 September 12, 2016

 बिम्मी शर्मा, काठमांडू, १२ सेप्टेम्बर | महाभारत के युद्ध को निर्णायक बनाने के लिए गुरु द्रोणाचार्य का मरना जरुरी था । इसी लिए अश्वत्थमा नामक हाथी को ...

item-thumbnail

चश्मा ! ओली के सारे कार्यकर्ता टीन का चश्मा पहनते हैं जिसमें खूद के अलावा कुछ नहीं दिखाई देता

0 September 5, 2016

बिम्मी शर्मा, काठमांडू ,५ सेप्टेम्बर | चश्मा आँख खराब होने पर या कड़ी धूप से बचने के लिए आँख पर लगाया जाता है । पर कई लोग अपने मन की मलीनता और कुत्सित ...

item-thumbnail

राष्ट्रवाद का डी.एन.ए.

0 September 4, 2016

अचानक वही तिलाठी वासी देश प्रेमी और राष्ट्रवादी हो गए ? जब यही तिलाठी मधेश आंदोलन मे पुलिस की लाठी खा रही थी तब कहां था यह राज्य ? तब क्यो नहीं माना ग...

item-thumbnail

हमारा देश महान है, यहां शहीदों का उत्पादन धड़ल्ले से होता है: बिम्मीशर्मा

0 August 22, 2016

बिम्मीशर्मा, काठमांडू, २२ अगस्त | (शहीदों का देश) अन्य देश धान, गेहूं और अन्य अन्न उत्पादन करते हैं । अन्य देश में दाल और सब्जी वगैरह भी उपजाया जाता ह...

item-thumbnail

चित्रगूप्त महाराज मन ही मन सोचते होगें कि नेपाल के लोगों की खोप्डी उल्टी क्यों घूमती है ?

August 15, 2016

बिम्मीशर्मा, काठमांडू ,१५ अगस्त | जिस देश में किसी के जन्मकालाइसेन्स नागरिकाको मानागयाहो वहां पर पत्रकारों को भीलाईसेंस देने किपहल करनाकोई आश्चर्य जनक...

item-thumbnail

नाग (नेता) मुक्त देश : बिम्मी शर्मा

August 8, 2016

 बिम्मी शर्मा, काठमांडू , ८ अगस्त | इस देश को खुलाशौच मुक्त करने के लिए स्थानीय निकाय और आम जनता बडे जोर–शोर से लगे हुए हैं । समाचार आता रहता है कि फं...

item-thumbnail

गमला क्रान्ति

August 2, 2016

बिम्मी शर्मा पिछले साल के धान दिवस में कृषिमंत्री ने “कमला” (महिला) पर अपना प्यार उढेÞला था । इस साल के धानदिवस में कृषिमन्त्री ने अपना प्यार “गमला” प...

item-thumbnail

प्रचंड प्रतापी भूपति, अब शायद राष्ट्रवाद का साईकल पंचर हो गया लगता है : बिम्मी शर्मा

August 1, 2016

बिम्मी शर्मा, काठमांडू, १ अगस्त | हम सभी अपने बचपन में बड़े मनोयोग या बाध्यता से “श्रीमान गंभीर नेपाली प्रचण्ड प्रतापी भूपति” गाया करते थे । अब श्रीमान...

item-thumbnail

एक स्वप्न सम्राट का अवसान : बिम्मी शर्मा

July 25, 2016

बिम्मी शर्मा, काठमांडू ,२५ जुलाई | इस संसार में सभी जीवों या वस्तुओं का एक दिन अंत निश्चित है । पर स्वप्न में ही परिभ्रमण कर रहे एक स्वप्न सम्राट को इ...

item-thumbnail

हाय रे सावन : बिम्मीशर्मा

July 18, 2016

बिम्मीशर्मा, काठमांडू,१८ जुलाई | हाय रे सावन । यह तूने क्या कर डाला ? सभी तेरे आने की खबर पा कर बौराए हुए है । कोई हाथों में मेहंदी पीस कर मसल रहा है ...

item-thumbnail

अनशन

July 11, 2016

अनशन व्यग्ंय बिम्मी शर्मा इस देश की सरकार देती है जनता को उपहार मे “टेंशन”, सरकारी कर्मचारी खुश होते हैं पा कर “पेंशन”, और देश के सचेत नागरिकों को इन ...

item-thumbnail

अंधेर नगरी चौपट राजा

July 4, 2016

अंधेर नगरी चौपट राजा व्यग्ंय बिम्मी शर्मा एकबार सम्राट अकबर ने मंत्री बीरबल को अपने राज्य में कितने अंधे है, गिनती कर के उनकी संख्या बताने के लिए आदेश...

1 2