item-thumbnail

देश में पसरा भ्रष्टाचार : विनोदकुमार विश्वकर्मा

0 June 23, 2017

घूस लेना कमीशन खाना और अवैध तरीके से धन इकठ्ठा करना ही एक मात्र भ्रष्टाचार नहीं है । व्यक्ति के आचरण से जुड़े कृत्यों को भी भ्रष्टाचार कहा जाता है । सा...

item-thumbnail

आज सारी दुनिया को एक जगह लाने में योग का महत्वपूर्ण भूमिका रहा हैः मंजीवसिंह पुरी

0 June 22, 2017

काठमांडू, २२ जून | तृतीय विश्व योग दिवस के अवसर पर भारतीय दूतावास द्वारा आज दूतावास के इंडिया हाउस में एक भव्य समागम के बीच योग शिविर का आयोजन किया गय...

item-thumbnail

नेपाल में पेन्टिंग का अच्छा अवसर है : डॉ. संजीदा खानम

0 June 20, 2017

डॉ. संजीदा खानम भारत के विख्यात आर्टिस्ट हैं । उन्होंने श्रीलंका और भूटान के विभिन्न आर्ट गैलरी में अपनी कला प्रस्तुत कर चुकी हैं । एक हफ्ते पहले काठम...

item-thumbnail

कला के वगैर तो मनुष्य पशु के समान : संजय कुमार साहनी

0 June 12, 2017

संजय कुमार साहनी ललित कला के जाने माने प्रोफेसर हैं . विगत 15 वर्षों से वे बिजनोर में स्थित सार्वजनिक आर्य इन्टर  कालेज  के फ्रोफेसर हैं. उन्होंने एम ...

item-thumbnail

प्रशिक्षण के जरिये सामाजिक कुरीतियों को अंत किया जा सकता है : बीरबहादुर महतो

0 June 4, 2017

बीरबहादुर महतो, काठमांडू , ४ जून | भारतीय मूल निवासी सांस्कृतिक मञ्च भारत की एक प्रतिष्ठित संस्था है । यह संस्था महात्मा कबीर, भगवान बुद्ध व दलित के म...

item-thumbnail

राष्ट्रीय पार्टी बनाने हेतु संघीय लिंबूवान पार्टी से एकीकरण किया गया : मंजारुल अंसारी

0 May 30, 2017

मंजारुल अंसारी, काठमांडू ,३० मई | आदिवासी जनजाति, मधेशी, मुसलिम आदि समुदायों के हक अधिकार सुनिश्चित करवाने हेतु देश में एक बड़ी शक्ति की आवश्यकता थी । ...

item-thumbnail

बेटी–विदाई मिथिलांचल की

0 May 26, 2017

बड़ रे जतन से सियाजी के पोसलों से हो सिया राम लेने जाय ।’ मिथिला की बेटी की विदाई के वक्त यह गम अपनी चरमावस्था में होता है । यह बात अलग है कि शहरों की...

item-thumbnail

नेपाली समाज–संरचना के परिप्रेक्ष्य में दलित वर्ग

0 May 25, 2017

एक ही प्रकार के अथवा बहुत कुछ मिलते–जुलते या समान धर्मवाले व्यक्तियों का समूह अथवा श्रेणी वर्ग कहलाती है (समाजशास्त्र कोश) । एक वर्ग की सामाजिक–आर्थिक...

item-thumbnail

मोर्चा व गठबंधन से विमर्श किए बगैर उपेन्द्र जी चुनाव में शामिल हुए : नीलम वर्मा

0 May 13, 2017

नीलम वर्मा,काठमांडू , १३ मई | राज्य द्वारा सदियों से शोषण, उत्पीड़न, वंचन एवं विभेदीकरण में रहे मधेशी, जनजाति, दलित, अल्पसंख्यक, मुसलिम मुदायों की चाहत...

item-thumbnail

राजपा नेपाल सवा करोड़ लोगों की आस्था का केन्द्र है : मनिषकुमार सुमन

0 May 11, 2017

पार्टी के नामकरण में ‘मधेश’ शब्द नहीं होने की वजह से अधिकांश लोग गलत ढंग से टीका टिप्पणी करने के लिए चुप नहीं बैठ हैं । मैं उन्हें संस्मरण कराना चाहूं...

item-thumbnail

‘दलित’ शब्द की वास्तविकता

0 May 6, 2017

दलित शब्द उन्नीसवीं शताब्दी के सुधारवादी आंदोलन काल की उपज है । विवेकानंद, एनी वेसेंट तथा रानाडे ने इस शब्द का अनेक बार प्रयोग किया है । वैसे ‘दलित’ श...

item-thumbnail

नयी विचार धाराओं को अंगीकार करते आगे बढ़ने की आवश्यकता है राजपा को : लीला यादव

0 May 6, 2017

लीला यादव, काठमांडू ,६ मई | मधेशी, जनजाति, पिछड़ावर्ग, अल्पसंख्यक, मुसलिम आदि समुदायों की समस्याओं को लंबे अरसे से वकलात करती आई तराई मधेश लोकतान्त्रिक...

item-thumbnail

दहेज से अभिशप्त नेपाली नारी

0 May 6, 2017

जब सास भी दहेज नहीं लेना चाहेगी तभी सामाजिक कूरीतियों के रेगिस्तान के स्थान पर आशा का पुष्प खिल सकना संभव हो सकेगा । रूपा लोहनी नेपाली समाज के कार्य प...

item-thumbnail

मधेशी जनता की ख्वाहिश है कि मधेश में दो ही पार्टियां हो : महाजन यादव

0 May 5, 2017

महाजन यादव, जनकपुर, ५ मई | संघीय समाजवादी फोरम नेपाल मधेशी, जनजाति, दलित, मुसलिम, अल्पसंख्यक के साथ–साथ हिमाल, पहाड़ के आदिवासी जनजाति, दलित, अल्पसंख्य...

item-thumbnail

राजपा को देश की दूसरी ताकतवर पार्टी के रुप में स्थापित करना होगा : बृजेशकुमार गुप्ता

0 May 5, 2017

आवश्यकता है पार्टी में सामूहिक निर्णय की परंपरा स्थापित हो । क्योंकि निर्णय देना या निर्णय में सहभागी होना सभी का लोकतांत्रिक अधिकार है । यह नहीं कि श...

item-thumbnail

राजपा नेपाल ही मधेश का भविष्य स्थापित कर सकता है : सी.पी. सिंह

0 May 2, 2017

सी.पी. सिंह, काठमांडू, २ मई | लंबे अरसे से एकीकरण की बात उठ रही थी । खासकर दूसरी संविधान सभा के चुनाव से एकीकरण की बात उठने लगी । एकीकरण के लिए हम लोग...

item-thumbnail

हमारा एक ही मकसद है– वह है ‘समृद्ध मधेश’ : डॉ. डिम्पल झा

0 May 2, 2017

डॉ. डिम्पल झा, काठमांडू , २ मई | पहचान, प्रतिनिधित्व व प्राकृतिक स्रोतों पर अधिकार स्थापनार्थ हम लोग अलग–अलग जगहों से संघर्ष करते आ रहे थे । मधेशी जनत...

item-thumbnail

भारतीय राजदूत मंजीव सिंह पुरी द्वारा वेहिकल्स हस्तांतरण

0 May 1, 2017

  काठमांडू, मई १ । नेपाल में चिरप्रतीक्षित स्थानीय निकाय के चुनावों को मद्देनजर रखते हुए भारत ने नेपाल को विभिन्न वेहिकल्स सहयोग प्रदान किया है । निर्...

item-thumbnail

राजपा नेपाल के साथ ढेर सारी चुनौतियां है : रेखा यादव

0 May 1, 2017

  ( हिमालिनी समय सन्दर्भ श्रंखला से ) रेखा यादव, काठमांडू, १ मई | लंबे अरसे से मधेशी जनता की चाहत थी कि मधेश केन्द्रित पार्टियां एक जगह हो और एक ...

item-thumbnail

ईंट का जवाब पत्थर से देने के लिए ही हम एकताबद्ध हुए : राजकिशोर यादव

0 April 28, 2017

काठमांडू,२८ अप्रैल | छह दलों के बीच का एकीकरण सिर्फ दलों का एकीकरण ही नहीं है, बल्कि मधेशियों व थारुओं के द्वारा किया गया विद्रोह की भावना का एकीकरण ह...

item-thumbnail

एकता से रक्त का संचार हुआ है : महेन्द्रराय यादव

0 April 28, 2017

काठमांडू, २८ अप्रैल | आज की लड़ाई मधेश की जनता व उत्पीड़न, शोषण एवं वंचन में पड़े नेपाल की समस्त जनता की आंतरिक उपनिवेशिक लड़ाई है । अर्थात् हमारा आंदोलन ...

item-thumbnail

नेपाल ज्वालामुखी के गड्ढे पर बैठा है : कुमार ज्ञानेन्द्र

0 April 26, 2017

काठमांडू,२६ अप्रैल | वर्तमान में नेपाल का जो राजनीतिक परिवेश है, वह नेपाल के भविष्य के लिए अच्छा नहीं है । जिस प्रकार से नेपाल की सत्ता में बैठे लोग न...

item-thumbnail

संगठन की मजबूती के लिए एकता आवश्यक है : अनिल कुमार झा

0 April 22, 2017

काठमांडू ,२२ अप्रैल | २० अप्रैल को तराई मधेश लोकतांत्रिक पार्टी, सद्भावना पार्टी, राष्ट्रीय मधेश पार्टी, तराई–मधेश लोकतांत्रिक पार्टी नेपाल, मधेशी जनअ...

item-thumbnail

इस एकता से रक्त का संचार हुआ है : महेन्द्र राय यादव

0 April 22, 2017

काठमांडू ,२२ अप्रैल | २० अप्रैल को तराई मधेश लोकतांत्रिक पार्टी, सद्भावना पार्टी, राष्ट्रीय मधेश पार्टी, तराई–मधेश लोकतांत्रिक पार्टी नेपाल, मधेशी जनअ...

item-thumbnail

मधेश की एकता का प्रतीक है यह एकीकरण : राजेन्द्र महतो

0 April 22, 2017

काठमांडू ,२२ अप्रैल | २० अप्रैल को तराई मधेश लोकतांत्रिक पार्टी, सद्भावना पार्टी, राष्ट्रीय मधेश पार्टी, तराई–मधेश लोकतांत्रिक पार्टी नेपाल, मधेशी जनअ...

item-thumbnail

यह एकता मधेश मिशन के लिए है : राजकिशोर यादव

0 April 22, 2017

२२ अप्रैल | २० अप्रैल को तराई मधेश लोकतांत्रिक पार्टी, सद्भावना पार्टी, राष्ट्रीय मधेश पार्टी, तराई–मधेश लोकतांत्रिक पार्टी नेपाल, मधेशी जनअधिकार फोरम...

item-thumbnail

नसली चिन्तन को मुक्का द्वारा प्रहार किया जाएगा : शरद सिंह भंडारी

0 April 22, 2017

काठमांडू, २२ अप्रैल | २० अप्रैल को तराई मधेश लोकतांत्रिक पार्टी, सद्भावना पार्टी, राष्ट्रीय मधेश पार्टी, तराई–मधेश लोकतांत्रिक पार्टी नेपाल, मधेशी जनअ...

item-thumbnail

इस एकता से बल मिला है मधेशी जनता को : महन्थ ठाकुर

0 April 22, 2017

 काठमांडू, २२ अप्रैल | २० अप्रैल को तराई मधेश लोकतांत्रिक पार्टी, सद्भावना पार्टी, राष्ट्रीय मधेश पार्टी, तराई–मधेश लोकतांत्रिक पार्टी नेपाल, मधेशी जन...

item-thumbnail

महंथ,राजेन्द्र ,महेन्द्र,शरद,अनिल,राजकिशोर का एक ही मंच से गर्जन, किसने क्या कहा..?

0 April 21, 2017

इस एकता से बल मिला है मधेशी जनता को – महन्थ ठाकुर, मधेश की एकता का प्रतीक है यह एकीकरण — राजेन्द्र महतो, नसली चिन्तन को मुक्का द्वारा प्रहार किया जाएग...

item-thumbnail

सिटिजन्स बैंक का १० वां वार्षिकोत्सव सम्पन्न

0 April 21, 2017

काठमांडू, हिमालिनी सम्वाददाता,२० अप्रैल। सिटिजन्स बैंक का १० वां वार्षिकोत्सव बृहस्पतिवार को एक भव्य समारोह के बीच सम्पन्न हुआ । बैंक के अध्यक्ष डॉ. श...

item-thumbnail

संविधान संशोधन किए बगैर निकाय चुनाव नामुमकिन है : अनिल कुमार झा

0 April 19, 2017

काठमांडू, वनकाली, १८ अप्रैल | एकता ही बल है । संगठन एवं पार्टी को मजवूत बनाने हेतु एकता की आवश्यकता होती है । देश की सबसे पुरानी नेपाल सद्भावना पार्टी...

item-thumbnail

हम लोग चुनाव के खिलाफ हैं : भगवती यादव

0 April 18, 2017

भगवती यादव, काठमांडू, १८ अप्रैल | देश में चुनाव होना आति आवश्यक है । क्योंकि चुनाव लोकतंत्र की रीढ़ है । चुनाव बिना लोकतंत्र की कल्पना भी नहीं की जा सक...

item-thumbnail

मधेश को अलग करने की जुरअत की तो अलगाववादी को बल मिलेगा : राजेन्द्र महतो

0 April 17, 2017

राजेन्द्र महतो, काठमांडू, १६ अप्रैल | विगत में मोर्चा के साथ हुए सारे समझौते को दरकिनार कर कथित तीन बड़ी पार्टियों ने त्रुटिपूर्ण संविधान जारी किया । य...

item-thumbnail

चुनाव को बहिष्कार ही नहीं, होने भी नहीं देंगेः अशोक यादव

0 April 7, 2017

जैसे, हिमाली क्षेत्रों में १५ हजार, पहाड़ी क्षेत्रों में २३ हजार और मधेश में ५०, ६०, ७० और ७५ हजार जनसंख्या निर्धारण कर बदनीयत ढंग से गांवपालिका बनाया ...

item-thumbnail

मांगें पूरी होने के बाद ही चुनाव करवाया जाए : भुपनारायण रामदास

0 April 4, 2017

मुफस्सल की आवाज देश अभी बहुत तरल अवस्था से गुजर रहा है । आशय यह है देश में दो–दो बार संविधान सभा का चुनाव हुआ । लेकिन जिनके लिए संविधान बनना चाहिए था ...

item-thumbnail

नारी की नाजुक अवस्था – संगीता ठाकुर

0 April 4, 2017

हम पीडि़त हंै, घर पीडि़त है, जग पीडि़त है । जब तक हम पीडि़त हैं, तब तक एक राष्ट्र ही नहीं संपूर्ण विश्व पीडि़त है और रहेगा । कभी–कभी हमारे अन्दर अनेक ...

item-thumbnail

राष्ट्रीय महिला आयोग राजधानी तक ही सीमित हैं : डॉ.रिना यादव

0 April 1, 2017

हमे पूर्ण विश्वास है कि देश में सामान्य लोकतंत्र स्थापित हो जाने के बाद राजधानी में रहने वाली शिक्षित, सम्पन्न, सशक्त मुस्लिम महिलाओं की भांति तराई की...

item-thumbnail

बदलते परिवेश में नेपाली नारी

0 April 1, 2017

नारी शिक्षा का व्यापक प्रसार भले ही हमारे देश में न हुआ हो, गहन अध्ययन के मार्ग अवश्य खुले हैं । शिक्षा ने हमें गहराई से छुआ । महिलाएं हर क्षेत्र में ...

item-thumbnail

मुसलिम महिला के लिए कोटा की व्यवस्था हो :मोहना अंसारी

0 April 1, 2017

मुस्लिम समुदाय देश का तीसरा बड़ा धार्मिक समूह है । मुस्लिम का ज्यादा बसोबास तराई–मधेश में है । सन् २०११ की जनगणना के अनुसार ९७ प्रतिशत तराई–मधेश में ओ...

item-thumbnail

राजनीति में आरक्षण की व्यवस्था हो : सरवत आरा खानम

0 April 1, 2017

मुस्लिम महिलाओं की अनेक समस्याएं हैं । लोकतन्त्र के पश्चात् तो इन समस्याओं ने नये आयाम धारण कर लिए हैं । खासकर आर्थिक, राजनीतिक और सामाजिक क्षेत्रों म...

item-thumbnail

नेपाल में मुस्लिम महिला की अवस्था : साधना यादव ‘विराजी’

0 April 1, 2017

नेपाल के सन्दर्भ में अगर बात की जाय तो मुस्लिम धर्मावलम्बी की जनसंख्या वि.सं. २०६८ की जनगणना के अनुसार ११,६४२५५ है । इसे प्रतिशत में परिणन करना हो तो ...

item-thumbnail

कन्या विद्यालयों की व्यवस्था हो – सीमा खान

0 April 1, 2017

इक्कीसवीं सदी के नेपाली समाज में मुस्लिम महिलाएं हर क्षेत्रों में पिछड़ी हुई है । हां, नीति निर्माण के क्षेत्रों में किसी–किसी की पहुँच हो गई है, जिसे...

item-thumbnail

तालीम की रोशनी ज्यादा से ज्यादा फैलाई जाए रेखा शाह

0 April 1, 2017

मुस्लिम महिला, कुल मिलाकर दूसरे समाज की महिलाओं से बहुत पीछे हैं । इसका कारण यह है कि नेपाली मुसलमानों का एक बहुत बड़ा वर्ग अनपढ़ है । अब भी बहुत से ख...

item-thumbnail

सामाजिक रीति–रिवाज महिलाओं के अधिकारों को अप्रभावी बना देते हैं – मो. जाहित परवेज

0 April 1, 2017

महिलाओं की हीन, स्थिति की दृष्टि से जब हम मुस्लिम समुदाय पर दृष्टिपात करते हैं तो हमें गोरखा और कपिलवस्तु जिला अचानक अपनी ओर खींच लेता है । कहने का आश...

item-thumbnail

मुस्लिम महिला लोकतांत्रिक अधिकार चाहती है – चुन्नी खातुन ‘सोनिया’

0 April 1, 2017

वर्तमान परिवेश में मधेशी, दलित, जनजाति तथा हिमाल, पहाड़ की जनजाति एवं दलित महिलाएं सदियों से उत्पीडि़त, उपेक्षित एवं शोषित हैं । उनकी सामाजिक, आर्थिक ...

item-thumbnail

मुस्लिम महिलाएँ क्यों पिछड़ी हुई है ? क्या हो सकता है इसका समाधान ?

0 April 1, 2017

मुस्लिम महिलाओं ने पढ़ना–लिखना प्रारम्भ कर दिया है । यद्यपि शिक्षा की गति बहुत धीमी है, तथापि महिलाओं ने शिक्षा के महत्व को अनुभव कर लिया है । कुछ महि...

item-thumbnail

मुस्लिम महिला को उनके समाज ने इन्सान नहीं समझा : सीमा विश्वकर्मा

0 April 1, 2017

मुस्लिम समाज में अनुसंधान के दौरान यह देखा गया कि वे लोग फैमिली प्लानिंग नहीं करते हैं । सन्तानें जितनी हों, उन्हें अल्लाह की देन समझते हैं । इसके फाइ...

item-thumbnail

नारी गौरव है : अंशु झा

0 April 1, 2017

विडम्बना तो देखिये ! इतने दायित्वों को जो नारियां एक साथ निभाती उस परिवार में घुल–मिल कर रहती है और उसी नारी को अगर मां बनने में थोड़ा सा समय लग गया अ...

item-thumbnail

कथित बड़ी पार्टियां देश को दुर्घटना की ओर ले जा रही हैं : रामबाबू सिंह

0 March 30, 2017

नेपाल में सांस्कृतिक और धार्मिक एकरुपता के साथ–साथ विविधता भी है । तराई–मधेश के लोग उपनिवेशिक जिंदगी जी रहे हैं । पहाड़ के लोग शासकीय रुप में स्थापित ह...

item-thumbnail

मधेशियों की मांगें पूरी करने के बाद ही चुनाव करवाया जाए : सुभेन्द्रकुमार कनौजिया

0 March 29, 2017

(मुफस्सल की आवाज) साल २०७२ में मधेश केन्द्रित पार्टियों की सहमति के बगैर संविधान जारी किया गया । जबकि यह संविधान मधेशी, थारु, जनजाति, दलित, मुसलिम, पि...

item-thumbnail

काठमांडू में पोयमांडू का आयोजन

0 March 28, 2017

विनोदकुमार विश्वकर्मा, काठमांडू, मार्च २८ । विगत कुछ वर्षों से चली आ रही परंपरा के अनुरूप नेपाल के रचनाकारों के प्रोत्साहन हेतु वीपी कोइराला इंडिया–ने...

item-thumbnail

घोडे यात्रा आपसी मिलन व एकता का पर्व है : सीमा विश्वकर्मा

0 March 28, 2017

काठमांडू, मार्च २८ ।  काठमांडू, ललितपु व भक्तपुर के नेवार समुदायों ने आज धूमधाम से चतुर्दशी के रूप में घोडेÞ यात्रा मनाया । यह यात्रा तीन दिनों तक धूम...

item-thumbnail

मधेश में चुनाव होना मुश्किल है : डॉ. अवध किशोर सिंह (मुफस्सल की आवाज)

0 March 27, 2017

जनता के लिए व देश के लिए चुनाव होना आवश्यक है । लेकिन मौजूदा हालात में चुनाव होना संभव नहीं दिखाई दे रहा है । इसलिए कि मधेशी जनता की मांगों के आधार पर...

item-thumbnail

सरकार देश को युद्ध की ओर धकेलने में जुटी है : अनिल झा

0 March 26, 2017

मधेश आंदोलन का जो आग्रह है, सरकार व कथित बड़ी पार्टियां उसे शीघ्रातिशीघ्र पूरी करे । जब तक यह पूरी नहीं होगी, तब तक देश में राजनीतिक स्थिरता, शांति और ...

item-thumbnail

चुनाव होने का कोई आसार नहीं दिख रहा है : सुरेन्द्र प्रसाद गुप्ता (मुफस्सल की आवाज)

0 March 25, 2017

के राजबिराज, २५ मार्च | लोकतंत्र की मजबूती के लिए चुनाव की आवश्यकता होती है । देश में १९ वर्ष पूर्व स्थानीय तह का चुनाव हुआ था । उसके पश्चात् कर्मचारि...

item-thumbnail

तराई -मधेश में चुनाव होना नामुमकिन है : परमानन्द सिंह थारू (मुफस्सल की आवाज)

0 March 24, 2017

राजविराज , २४ मार्च | लोकतंत्र को व्यापक रूप से संस्थापित करने का तात्पर्य यह है कि देश की शासन व्यवस्था से एक भी नागरिक अपने को अलग महसूस न करे । नाग...

item-thumbnail

संविधान मोदी जी का गुलदस्ता नही बन पाया : राजेन्द्र महतो ने भेजा पैगाम

1 February 27, 2017

  संविधान निर्माण के दौरान भारतीय प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी ने अपने उद्वोधन में कहा था, ‘संविधान को गुलदस्ता बनाओ और ऐसा गुलदस्ता जिसमें सभी फूल खुल...

item-thumbnail

महामहिम रंजीत जी एक कुशल डिप्लोमाटिस्ट हैं : गणेश मंडल

0 February 26, 2017

काठमांडू, २६ फरवरी | भारत से जो भी डिप्लोमाटिस्ट नेपाल आते हैं, वे बड़ी ही सूझबूझ वाले व्यक्ति होते हैं । महामहिम रंजीत राय जी भी एक कुशल प्रशासक और डि...

item-thumbnail

महामहिम रंजीत जी का कार्यकाल सकारात्मक रहाः गोविन्द प्रसाद चौधरी

0 February 25, 2017

  काठमाण्डू,25 फरवरी । भारतीय राजदूत महामहिम रंजीत जी की कार्यक्षमता और विचारधारा के आधार पर मैं कहना चाहूंगा कि उनका कार्यकाल बहुत ही सकारात्मक रहा ।...

item-thumbnail

गजेन्द्रनारायण सिंह प्रतिष्ठान द्वारा महामहिम रंजीत राय जी का विदाई समारोह

0 February 24, 2017

विनोदकुमार विश्वकर्मा,काठडमांडू, फरवरी २४ । भारतीय राजदूत महामहिम रंजीत राय जी एक कुशल प्रशासक व कूटनीतिज्ञ हैं । उनके कार्यकाल में नेपाल में बहुत ही ...

item-thumbnail

रंजीत जी नेपाल में सर्वोत्तम राजदूत के रुप में रहे : प्रेम लस्करी

0 February 24, 2017

काठमंडू, 24 फरवरी । भारतीय राजदूत महामहिम रंजीत राय जी नेपाल आने से पूर्व विदेश मंत्रालय में नेपाल–भुटान डेस्क के प्रमुख में सेवारत थे । इसलिए उन्हें ...

item-thumbnail

महामहिम रंजीत जी एक कुशल कूटनीतिज्ञ हैं : ओम प्रकाश सरावगी

0 February 23, 2017

काठमांडू,23 फरवरी । भारतीय राजदूत महामहिम रंजीत राय जी एक कुशल कूटनीतिज्ञ हैं । नेपाल आने से पूर्व वे भारत के विदेश मन्त्रालय में नेपाल डेस्क–प्रमुख म...

item-thumbnail

रंजीत जी ने एक कुशल कूटनीतिज्ञ की भूमिका निभाई : राजेन्द्र महतो

0 February 22, 2017

काठमांडू, २२ फरवरी | भारतीय राजदूत रंजीत राय जी से मेरी पहली मुलाकाल सन् २००४ में भारत के विदेश मंत्रालय में हुई थी । उस समय वे नेपाल डेस्क के प्रमुख ...

item-thumbnail

जबरन चुनाव हुआ तो आक्रोश की चिंगारी पराकाष्ठा में पहुंचेगी : सुरेन्द्र महतो

0 February 19, 2017

चुनाव बंदूक की नाल पर भी करबाया जा सकता है जैसे राजा ज्ञानेन्द्र के कार्यकाल में हुआ था । उस समय मधेश में वोटिंग हुआ था और वोटिंग का अनुपात भी ज्यादा ...

1 2 3