item-thumbnail

मधेश बनाएँ

0 July 17, 2015

उगे न जहाँ घृणा की फसलें मन मन स्नेह सिंधु लहराएँ ऐसा मधेश  बनाएँ जहाँ तृप्त आयत कुरान की हँस कर वेद मंत्र दुहराएँ आसन पर बैठा गिरिजाघर गुरुवाणी के सब...