Thu. Sep 20th, 2018

श्वेता दीप्ति

Dr.Shweta Dipti is Editor of Himalini Hindi magazine from Nepal . Dr. Dipti is also former Head of Department of Hindi in Tribhban University at Kirtipur campus, Kathmandu.

नेपाली मिडिया ने कसम खा ली है कि मधेश विरोधी समाचार ही सम्प्रेषित करेगी : श्वेता दीप्ति

श्वेता दीप्ति, काठमांडू, ९ दिसिम्बर | (भिडियो सहित सुषमा स्वराज, डा. करण सिंह, शरद यादव

भारत ने कोई नाकाबन्दी नहीं की है, नेपाल के जारी संविधान में तराई उपेक्षित है : सुषमा स्वराज

श्वेता दीप्ति , ३ डिसेम्बर २०१५ | भारतीय राज्यसभा में नेपाल भारत सम्बन्ध पर ध्यानाकर्षण

लालु के बड़बोलेपन का महत्व भारत में वही है जो ओली का नेपाल में है : श्वेता दीप्ति

श्वेता दीप्ति, काठमांडू,१ दिसम्बर ०१५ \ नेपाल की नीति समझ में नहीं आती है खासकर

वार्ता के नाम पर खिलवाड़, ओलीजी को और भी आहूति की आकांक्षा है : श्वेता दीप्ति

श्वेता दीप्ति, काठमांडू, २६ नोभेम्बर | ओली सरकार अपने दूसरे महीने में भी सिर्फ बयानबाजी

मधेशविहीन संविधानसभा नई सत्ता के लिए सबसे बड़ी अग्निपरीक्षा है : श्वेता दीप्ति

श्वेता दीप्ति , काठमांडू,२० नोभेम्बर | यह राजनीति है, जहाँ सिर्फ कुर्सी, पद और शक्ति

प्रधानमंत्री जी! राष्ट्रवाद के नाम पर भिड़न्त की तैयारी ना करें, मधेश पर दृष्टि डालें : श्वेता दीप्ति

श्वेता दीप्ति, काठमांडू, ११, नोभेम्बर | चाहे जितने भी दावे हमारे सत्ताधारी नेताओं ने किया

वार्ता का ढोंग जारी है, मधेश चाहिए मधेशी नहीं-सत्ताधारियों की सोच : श्वेता दीप्ति

श्वेता दीप्ति, काठमांडू, २५ अक्टूबर | माना जाता है कि गेन्डे की खाल बहुत मोटी

बेहाल जनता और बेखबर शासक के बीच नेपाल का भविष्य हिचकोले खा रहाहै : श्वेता दीप्ति

श्वेता दीप्ति, काठमांडू , २१ अक्टूबर | अभावों और परेशानियों के बीच दशहरा समाप्ति की

पहाड़ पर हावी चीनी सोच ने मधेश की माँग को भारत की माँग बना दी है : श्वेता दीप्ति

श्वेता दीप्ति, काठमांडू , ७ अक्टूबर | आखिर हमारे सर्वमान्य नेतागण क्या चाह रहे हैं

मधेश की जनता चीख चीखकर कह रही है, नाकाबन्दी हमने किया है भारत ने नही : श्वेता दीप्ति

श्वेता दीप्ति, काठमांडू ,३० सेप्टेम्बर | नफरत के बीज इतनी गहराई में मत बोओ कि

भारत को गाली देने वाली जुवान मधेश के दर्द को क्यों नहीं देख रहे ?- श्वेता दीप्ति

श्वेता दीप्ति , काठमांडू , २३, सेप्टेम्बर | नेपाल के नवनिर्मित संविधान के जारी होने

क्या चीन का समर्थन और भारत की उपेक्षा कर ओली नए नेपाल का निर्माण कर पाएँगे ? श्वेता दीप्ति

श्वेता दीप्ति, काठमांडू, १९ सेप्टेम्बर | सेना सशस्त्र प्रहरी और प्रहरियों को बैरेक से निकालकर,

किस किस के सीने को छलनी करोगे ? सावधान ! खूनी संविधान का खेल जारी है : श्वेता दीप्ति

श्वेता दीप्ति ,काठमांडू,२२ भाद्र | सावधान ! खूनी संविधान का खेल जारी है । चाहें

मधेश की संतति के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है : श्वेतादिप्ती

श्वेतादिप्ती ,काठमांडू,२० जुलै२०१५| चार दलों के १६ सूत्रीय समझौते के पश्चात् नेपाली जनता के सामने

मधेशियों से प्रार्थना है कि अब भारत की बेटियाँ ना लाएँ : श्वेता दीप्ति

श्वेता दीप्ति ,काठमांडू, १ जुलाई | महिलाओं के प्रति कुण्ठित मानसिकता के साथ आया संविधान

आज न्यायालय ही कटघरे में खड़ा है क्योंकि न्यायाधीश मधेशी मूल के हैं : श्वेता दीप्ति

काठमांडू, २३ जून  २०१५ | सर्वोच्च अदालत ने आषाढ़ ४ गते एक ऐतिहासिक फैसला लिया