वीरगंज का समग्र विकास और चुनौतियां

पूरे देश के लिए वीरगंज एक महत्वपूर्ण शहर है, जिसको आर्थिक नगरी के रूप में जाना जाता है । देश के महत्वपूर्ण उद्योग और उद्योगी यहीं से प्रतिनिधित्व करते हैं । लेकिन यहां के भौतिक पूर्वाधार और सामाजिक विकास को देखें तो लगता है कि पूरे देश में सबसे बुरा हाल यहीं तो नहीं है ? देश प्रादेशिक संरचना में भी विभाजन हो रहा है । इस तरह की पृष्ठभूमि में वीरगंज के व्यवसायी, समाजसेवी तथा सामाजिक प्रतिनिधि वीरगंज के समग्र विकास और चुनौती के संबंध में क्या कहते हैं ? इसी मुद्दा को केन्द्रविन्दु बनाकर उन लोगों के साथ हिमालिनी मासिक ने वीरगंज में एक विचार–विमर्श कार्यक्रम आयोजित किया था । कार्यक्रम में व्यक्त विचारों का संपादित अंश यहां प्रस्तुत है ।

 


ठोडी दो नम्बर प्रदेश का है और रहेगा

लक्ष्मणलाल कर्ण सांसद लक्ष्मण लाल कर्ण ने कहा, ठोड़ी हालात पर्सा के अन्य जगह से भिन्न नही है, वहां भी ...
Read More
Ganesh Lath

भौतिक पूर्वाधार आवश्यक -गणेश लाठ

‘वीरगंज’ का मतलव सिर्फ वीरगंज शहर ही नहीं । वीरगंज तो एक नारा है । उस नारें में हम लोग ...
Read More
Prakash Khandewal

समान शिक्षा की आवश्यकता – प्रकाश खण्डेलवाल

वीरगंज के विकास के लिए इसकी चुनौती क्या है ? सर्वप्रथम इसकी पहचान होनी जरुरी है । उसकेरु बाद ही ...
Read More
Mamesh Kumar Sarabagi

पूँजी, स्रोत और टेक्नोलॉजी -महेशकुमार सराबगी

विकास के लिए तीन चीजें आवश्यक हंै– प्रथम पूँजी, दूसरा साधन–स्रोत और तीसरा टेक्नोलॉजी । इन तीन चीजों का सही ...
Read More
Manoj Kumar Das

व्यवस्थापन सही होनी चाहिए – मनोज कुमार दास

वीरगंज देश का प्रमुख ट्रान्जिट प्वाइन्ट है । काठमांडू से सबसे नजदीक का ट्रान्जिट प्वाइट होने के कारण इस का ...
Read More
Manoj Upadhya

आर्थिक राजधानी होना ठीक रहेगा – मनोज उपाध्याय

आर्थिक दृष्टिकोण से पूरे देश के लिए वीरगंज का जो महत्व और भूमिका है, वह गौरवपूर्ण है । लेकिन इसका ...
Read More
Sunil Kumar Khetan

एक हिन्दी दैनिक की आवश्यकता- सुनिल कुमार खेतान

वीरगंज का समग्र विकास के सन्दर्भ में हम लोगों ने कई बातें कही है । भौतिक, सामाजिक, आर्थिक, औद्योेगिक, शैक्षिक ...
Read More

प्रदेश राजधानी बनाया जाए – प्रदीप कुमार केडिया

वीरगंज का समग्र विकास और चुनौती संबंधी विषय में हम लोग बार–बार बहस करते आ रहे हैं । लेकिन अभी ...
Read More
Hari Gautam

कृषि का आधुनिकीकरण और औद्योगिक शान्ति ही समृद्धि का आधार- हरि गौतम

मुझे लगता है कि हम लोगों को सिर्फ वीरगंज का विकास ही नहीं, समग्र २ नम्बर प्रदेश का विकास कैसे ...
Read More
birgunj should be industrial capital of madhesh says subodh kumar gupta

वीरगंज औद्योगिक राजधानी बने -सुबोध कुमार गुप्ता

हमारी ही नहीं यह सबकी इच्छा है कि वीरगंज का विकास होना चाहिए । कैसे हो और कहाँ से शुरुआत ...
Read More

क्या चाहता है वीरगंज ? कुमार सच्चिदानन्द

वीरगंज २ नंबर प्रदेश का एक मात्र महानगर है और नेपाल का प्रमुख प्रवेश द्वार भी । देश संघीयता में ...
Read More
Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
%d bloggers like this: