Video:ऑपरेशन थियेटरमें डॉक्टर्स आपसी लड़ाई में अपनी इंसानियत ही भूल गए ,मौके पर नवजात की मौत

जोधपुर में उम्मेद हॉस्पिटल में घटना हुई उसने फिर से एक बार मानवता को शर्मसार कर दिया उम्मेद हॉस्पिटल के ऑपरेशन थियेटर की टेबल पर लेटी गर्भवती महिला के बच्चे की पेट में ही मौत हो गई थी, जिसके बाद उसका ऑपरेशन किया जाना था. हालांकि इस बीच थियेटर में गायनेकोलॉजिस्ट और एनेस्थेटिक किसी बात पर झगड़ने लगे. इस दौरान ऑपरेशन टेबल पर बेसुध लेटी महिला का पेट खुला था.jodhpur-doctors-fight-india
जानकार बताते हैं कि मृत शरीर के साथ गर्भवती का लंबे समय तक रहना बेहद खतरनाक होता है, लेकिन गायनी विभाग के डॉक्टर अशोक नेनीवाल और ऐनेस्थेटिक डॉ. एमएल टाक ही इस बात को भूल गए.
वायरल वीडियो से डॉक्टरों की कार्यशैली के साथ ही ऑपरेशन थियेटर की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं. दरअसल जिस तरह से यह वीडिया बना, उससे साफ है कि ऑपरेशन थियेटर में भी खुलेआम मोबाइल ले जाया जा रहा है, जबकि मोबाइल इंफेक्शन और रेडीयेशन का बड़ा सोर्स माना जाता है।
शर्म की बात है कि डॉक्टर्स अपनी आपसी लड़ाई में अपनी इंसानियत ही भूल गए, एक प्रसूता बेसुध थी, एक नवजात की मौत हो गयी फिर भी उनमे इतनी सी भी इंसानियत नही बची।
इस पेशे की गरिमा आज भी है, लोग आज भी चिकित्सक को भगवान का दर्जा देते है, पर ऐसे लोगो की वजह से ये पेशा अपना सम्मान खो रहा है।
इसमे कोई शक नही है कि जनसंख्या के हिसाब से डॉक्टर्स की संख्या बहुत कम है, इस वजह से उन पर काम का बहुत दबाव होता है, पर इसका मतलब ये नही कि वो मरीज की जान से खिलवाड़ कर। उम्मीद है इस वाकये से कड़ा सबक लिया जाएगा और दोषियों को सजा दी जाएगी।
Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz
%d bloggers like this: