item-thumbnail

राजपा राजनीतिः हृदयेश त्रिपाठी अध्यक्ष मण्डल में चयन, मण्डल, कर्ण और राय को भी शामील करने की तैयारी

0 September 3, 2017

राष्ट्रीय जनता पार्टी (राजाप) नेपाल के वरिष्ठ नेता हृदयेश त्रिपाठी को अध्यक्ष मण्डल में चयन किया गया है । ६ दल मिलकर गठित राजपा में आज तक ६ दल के प्रम...

item-thumbnail

क्या होगा देश का अगला परिदृश्य ?-डॉ. श्वेता दीप्ति

0 August 7, 2017

जिनका खून आज दार्जिलिंग के लिए खौलता है उन्हें अपनी ही मिट्टी की माँग विखण्डनकारी लगती है सबसे महत्तवपूर्ण प्रश्न यह है कि मधेश के मुद्दों को लेकर जो ...

item-thumbnail

लाहान का सरकारी अस्पताल कालाबजारी का कारखाना

0 July 28, 2017

 सिरहा, २८ जुलाई । लाहान का एक मात्र सरकारी अस्पताल मे घोर अनियमितता होने की खबर है । बारम्बार विवाद मे रहे रा. उ. स्मारक अस्पताल के ईन्चार्ज सुनिल कु...

item-thumbnail

दूसरे चरण का चुनाव सम्पन्न : माहोल कहीं खुशी और कहीं गम

0 July 24, 2017

श्वेता दीप्ति, कहीं खुशी, कहीं गम, सम्पादकीय (जुलाई अंक ) बारिश का मौसम इंतजार का मौसम होता है । कृषक इसका इंतजार करते हैं, अच्छी उपज के लिए और आम जन ...

item-thumbnail

साजिश मधेश मुद्दा असफल करने की : कैलाश दास

0 July 23, 2017

मधेश मुद्दा को कमजोर और असफल करने में काँग्रेस, एमाले, माओवादी और संघीय समाजवादी फोरम नेपाल (उपेन्द्र यादव) का सबसे बडा षड़यन्त्र है । निर्वाचन से मधे...

item-thumbnail

राजपा केवल ६ लोगों की पार्टी नहीं इसके पीछे कड़ोरो की जमात है : सुनील रंजन सिंह

0 July 13, 2017

काठमांडू | राजपा पिछले दो चरण के चुनाव में भाग नही ली यह कहाना बिलकुल गलत होगा | दरअसल राजपा को एक बहुत बड़े शर्यन्त्र के तहत भाग नही लेने दिया गया | य...

item-thumbnail

सप्तरी मे बाढ़ की समस्या : देवेश झा

0 July 7, 2017

सप्तरी हर वर्ष की तरह बाढ़ की समस्या से जूझ रहा है । जब बाढ़ आती है तो इस पर जोरशोर से चर्चा भी शुरू हो जाती है ।आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू हो जाता है ...

item-thumbnail

बेलायत कें प्राज्ञिकोंद्वारा खुलासा : ‘मधेश जल्द ही अलग देश बनेगा’(भिडिओ )

0 June 29, 2017

हिमालिनी डेस्क काठमांडू, २९ जून । युनाइटेड किङ्गडम अन्र्तगत के बेलायत मे सम्पन्न हुयें एक प्राज्ञिक बहस में खुलासा किया कि नेपाल से मधेश सन् २०३० में ...

item-thumbnail

बदलते राजनैतिक मूल्य और मधेशमार्गी दल : कुमार सच्चिदानन्द

0 June 25, 2017

विगत कुछ वर्ष राजनैतिक दृष्टि से मधेश के लिए नकारात्मक रहा क्योंकि इस अवधि में इसने अनेक कुरूपताओं को देखा, चरम स्वार्थपरकता देखी, सत्ता और अवसरों का ...

item-thumbnail

देउवा के अच्छे दिन बारह वर्षों बाद आए हैं, नेपाल के अच्छे दिन कब आएँगे ? श्वेता दीप्ति

0 June 16, 2017

किस्तों में बँटी राजनीति, नई किस्त देउवा के नाम – श्वेता दीप्ति वैसे देउवा के अच्छे दिन बारह वर्षों के बाद आए हैं देखना यह है कि नेपाल के अच्छे ...

item-thumbnail

‘सुख’ सम्पन्नता का मोहताज नहीं

0 June 15, 2017

धर्मशास्त्रों में कहा गया है कि मनुष्य शरीर सर्वेश्वर की सर्वोत्कृष्ट कृति है । भगवान ने मनुष्य को दस इन्द्रियां एक मन और बुद्धि देकर सर्वगुण सम्पन्न ...

item-thumbnail

नेपाली समाज–संरचना के परिप्रेक्ष्य में दलित वर्ग

0 May 25, 2017

एक ही प्रकार के अथवा बहुत कुछ मिलते–जुलते या समान धर्मवाले व्यक्तियों का समूह अथवा श्रेणी वर्ग कहलाती है (समाजशास्त्र कोश) । एक वर्ग की सामाजिक–आर्थिक...

item-thumbnail

यूँ ही कोई वेवफा नहीं होता:डा. पुष्पज राय ‘चमन’

0 April 4, 2017

प्रश्न उठता है कि क्या सीके राउत के विचार के सामने राज्य इतना निरीह और निरुत्तर हो गया है कि उसका दमन ही एक मात्र रास्ता सूझा । क्या राज्य के पास इतनी...

item-thumbnail

सप्तरी का संहार : आखिर कौन जिम्मेदार ? – कुमार सच्चिदानन्द

0 March 26, 2017

‘चित्त भी मेरी और पट भी मेरी’ की नीति के तहत आगे बढ़ने से ऐसी दुर्घटनाएँ तो होती ही रहेंगी । राजनीति करने वालों का रंग तो छिपकिली की तरह होता है जो कि...

item-thumbnail

विश्लेषण चुनौती है संक्रमणकालीन न्याय-व्यवस्थापन

0 May 14, 2014

कुमार सच्चिदानन्द :गोरखा, फुजेल के कृष्ण प्रसाद अधिकारी प्रकरण से जुडÞे मामले में यहाँ के प्रमुख दलों के बीच जो राजनैतिक गतिरोध देखा जा रहा है, उसे सं...

item-thumbnail

आसान नहीं हैं रास्ते

0 December 17, 2013

कुमार सच्चिदानन्द:अनके अनिश्चितताआ ंे का े चीरत े हएु द्वितीय संविधानसभा का निर्वाचन सफलता पर्ूवक सम्पन्न हो गया और इसके परिणाम भी आ चकु े ह।ंै इस निव...

item-thumbnail

प्रत्यक्ष उम्मेदवार को उम्मेदवारी दर्ता कार्य सम्पन्न

0 October 4, 2013

कैलास दास:जनकपुर, आश्विन १७ गते । अगहन ४ गते होने वाले संविधान सभा के निर्वाचन के लिए गुरुवार धनुषा सहित देश के विभिन्न जिलों में निर्वाचन आयोग को कार...

item-thumbnail

असमंजस में मधेश की जनता

0 September 11, 2013

कैलास दास:राजनीतिक समस्या राजनीतिक सूझ-बूझ से ही समाधान हो सकता है, हिंसक रूप धारण करना इसका समाधान नहीं है। अगर राजनीतिक गतिविधि को हिंसक बना लें तो ...

item-thumbnail

चुनाव की अनिश्चितता गहराती

0 September 11, 2013

कुमार सच्चिदानन्द:संविधानसभा के निर्वाचन की निर्धारित तिथि ४ गते मार्गशर्ीष्ा है। चुनाव की सम्भावना अनिश्चित, राजनैतिक दलों में खींचातानी की प्रवृत्ति...

item-thumbnail

क्या विश्वगान रचने का वक्त नहीं आया –

0 September 11, 2013

अभय कुमार:विभिन्न देश और समाज में अनेक अवसरों पर गीत गाए जाते हैं। जैसे किसी समारोह में राष्ट्रीय झण्डा फहराते समय, किसी राष्ट्रिय दिवस के अवसर पर, अथ...

item-thumbnail

बिहार (कात्यायनी स्टेशन) में ट्रेन से कटकर 35 लोगों की मौत

0 August 19, 2013

पटना। बिहार के समस्तीपुर रेलवे डिविजन में खगड़िया−सहरसा रूट पर कात्यायनी स्टेशन के पास तेज गति से आ रही राज्यरानी एक्सप्रेस ट्रेन से कटकर 35 लोगों के ...

item-thumbnail

सावधान ! मधेश के लुटेरे !!

0 August 9, 2013

कैलास दास:संविधानसभा का निर्वाचन होगा या नहीं अभी भी अनिश्चित है। परन्तु मधेशी जनता की जो आवाज हमारे कानो तक पडÞी है वह किसी को भी झकझोर देनेवाली बात ...

item-thumbnail

मधुश्रावणी में टेमी’ मैथिल महिलाओं की अग्निपरीक्षा

0 August 9, 2013

करुणा झा:वैदिक काल के प्राचीन जनपदों में से एक राजा जनक की नगरी मिथिला का अतीत स्वणिर्म था। धनबल, जनबल और आत्मबल में मिथिला की ख्याति पूरी दुनियाँ में...

item-thumbnail

मधेश में माओवादीः विगत और वर्तमान

0 August 9, 2013

दिलीप साह:मधेश में एकीकृत नेकपा -माओवादी) की उपस्थिति पहले की अपेक्षा मजबूत होती जा रही है। खासकर पहिचान सहित की संघीयता में दृढ रहनेवाले एमाओवादी अध्...

item-thumbnail

सिर चढ कर बोलता राजतन्त्र का भूत

0 August 9, 2013

कुमार सच्चिदानन्द:आषाढ के घुमडते मेघों के साथ जब पर्ूव महाराज ज्ञानेन्द्र का भक्तिभाव हिलोरें मारता है, और उसके शमन के लिए जब वे देश के विभिन्न स्थानो...

item-thumbnail

जरा इनकी भी सुनें…

0 August 9, 2013

राजनेता बनने का उद्देश्य लेकर मैं राजनीति में क्रियाशील नहीं हूँ। लेकिन अभी नेपाल की राजनीति ऐसी अवस्था में है, जहाँ मैं ही केन्द्र में हूँ। ऐसी अवस्थ...

item-thumbnail

राजा लौटाओ अभियान में महन्थ रामतपेश्वर दास वैष्णव

0 July 26, 2013

कहते हैं- एक लाठी को कोई भी तोड देगा, लेकिन जब सैकडÞो लाठी को एक जगह कर दे तो कोई भी ताकत उन्हे नहीं तोडÞ सकता है। कहने का मतलव सैकडों लाठी से एक गणतन...

item-thumbnail

देवभूमि की दुखद दास्तान

0 July 26, 2013

उत्तराखण्ड साक्षत् देवभूमि हैं। यही गंगा अवतरित हर्ुइ, स्वयं शिव ने केदार में पाण्डवों को दर्शन दिया। स्कन्दपुराण में कहा गया है कि काशी में मरने से म...

item-thumbnail

कमजोर वर्ग और संतुलित विकास के लिए संघीयता

0 December 15, 2012

शंकर लाल चौधरी:कमजोर वर्ग और क्षेत्रका राष्ट्रिय स्तर में संतुलित विकास के लिए आज संघीयता अति आवश्यक एवं अनिवार्य हो गया है। जल्दी विकास और प्रगतिके ल...

item-thumbnail

तारीख पे तारीख

0 December 15, 2012

पंकज दास:पिछले दिनों राष्ट्रपति डा. रामवरण यादव सहमतीय सरकार गठन के लिए तीन बार तक का समय दे चुके हैं । पहले दो बार उन्होंने ७-७ दिनों का समय दिया, जब...

item-thumbnail

३०० करोड डाँलर की लागत से भगवान बुद्ध के लुम्बिनी में चीन का जासूसी अड्डा

0 December 15, 2012

रामाशीष:एक ओर धर्मकर्म विरोधी चीन के हान जाति के शासकों की अमानवीय यातनाओं से जान बचाकर हजारों बुद्धमार्गी तिब्बती अपनी जन्मभूमि छोडÞकर भाग रहे हैं और...

item-thumbnail

जरा इनकी भी सुनें…

0 December 14, 2012

मैं दश वर्षकी उमर में ही अच्छी कविता लिख लेता था । लेकिन मेरे दोस्तों को इस पर विश्वास ही नहीं होता था । इससे मुझे सुख और दुख दोनों होता था । दुःख इस ...

item-thumbnail

300 कुत्तों ने एक साथ किया टूथब्रश

0 December 11, 2012

हांगकांग। 300 से अधिक कुत्तों को एक ही समय में ब्रश करवाकर एक नया विश्व रिकॉर्ड बनाने की कोशिश की गयी है। इस रिकॉर्ड के तहत सभी कुत्तों के दांत एक ही ...

item-thumbnail

पाकिस्तान में हिंदू होने का मतलब ‘असुरक्षित’

0 December 6, 2012

BBC Hindi:कराची में बिल्डरों द्वारा मंदिर को गिराए जाने के मामले ने एक बार फिर दिखा दिया है कि पाकिस्तान में धार्मिक अल्पसंख्यक हिंदू कितने असुरक्षित ...

item-thumbnail

दीपावली : कैसे करें लक्ष्मी-पूजन

0 November 13, 2012

लक्ष्मी अर्थात धन की देवी महालक्ष्मी विष्णु पत्नी का पूजन कार्तिक अमावस्या को सारे भारत के सभी वर्गों में समान रूप से पूजा जाता है। इस बार दीपावली 13 ...

item-thumbnail

दबंग 2 से पहला गीत “दगाबाज़ पुन”( वीडियो)

0 November 12, 2012

उनके रोमांटिक अवतार में चुलबुल पांडे. दबंग 2 से पहला गीत “दगाबाज़ पुन” सलमान खान और सोनाक्षी सिन्हा की विशेषता. गीत राहत फतेह अली खान और श...

item-thumbnail

सेलफोन से गर्भ में बच्चे को नुकसान

0 November 12, 2012

लंदन,सेलफोन का इस्तेमाल करने वाली गर्भवती महिलाओं को सावधान हो जाना चाहिए। एक अध्ययन में पाया गया है कि गर्भावस्था के दौरान सेलफोन से निकले विकिरण बच्...

item-thumbnail

दबंग 2 का ट्रेलर

0 November 12, 2012

‘दबंग 2′ भी रिलीज के लिए तैयार है। दबंग का निर्देशन जहां अभिनव कश्यप ने किया था, वहीं इस बार अरबाज खान ने खुद इसका निर्देशन किया है। फिल्म...

item-thumbnail

सामाजिक कार्य में महानायक हमाल

0 November 10, 2012

हेटौडा। नेपाली फिल्मी जगत के सुप्रसिद्ध नायक राजेश हमाल एक कार्यक्रम में सहभागी होने मकवानपुर जिला के हाँडीखोला पहुँचे। मगर स्थानीयबासियों को यह उम्मी...

item-thumbnail

पुलिस की अवैध असूली, और कमिशन पर स्वास्थ्य सेवा

0 November 10, 2012

जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में सरकार ने ग्रामीण जनता के स्वास्थ्य स्थिति को ठीक रखने के प्रयास स्वरुप स्वास्थ्य चौकी और उपस्वास्थ्य चौकी तो मुहैया की ह...

item-thumbnail

हत्या और अपराध से कराहती जनकपुर की जनता

0 November 10, 2012

घटना वि.सं. २०६७ कार्तिक महिने की है। अंकल-अंकल कहकर पुकारने वाले पाँच वर्षका बालक दीपेश को अपने ही गांव के एक व्यक्ति ने अगवा कर हत्या कर दी। घटस्थाप...

item-thumbnail

लक्ष्मीपूजन -दीपावली और र्सर्य षष्ठी व्रत -छठ

0 November 10, 2012

दीपावली यह पर्व कार्त्तिक की अमावस्या को मनाया जाता है। कुछ रोज पहले से ही लोग अपने घर-द्वार, मकान-दुकान की सफाई में दिलोजान से जुट जाते हैं। आखिर लक्...

item-thumbnail

नई पीढी के लिए गीता की नवीन पुस्तक

0 November 10, 2012

अध्यात्म ज्योति के र्सवस्वीकार्य और अत्यन्त लोकप्रिय ग्रन्थ के रुपमें श्रीमद्भागवत्गीता प्रख्यात है। हिन्दू ही नहीं अपितु बहुत सारे धर्मावलम्वियों ने ...

item-thumbnail

उफ ! ये अकेलापन

0 November 10, 2012

आज के इस भौतिकवादी युग में हमारे सामाजिक मूल्यों व रहन-सहन में अत्यधिक बदलाव आया है। जहाँ पहले इन्सान अपने दिन की शुरुआत बडÞे-बुजर्ुगाें के आशर्ीवाद स...

item-thumbnail

नेपाल के जनमानस पर “राम चरित मानस” का प्रभाव

0 November 10, 2012

नेपाल और भारत हिन्दू बहुल राष्ट्र हैं। यहाँ के अधिसंख्यक लोग हिन्दुत्व में विश्वास रखते हंै। हिन्दुत्व और हिन्दी में नख और मांस जैसा सम्बन्ध रहते आया ...

item-thumbnail

तंत्र-मंत्र-यंत्र की शक्तियां

0 November 10, 2012

तंत्र, मंत्र और यंत्र हिन्दू धर्म की प्राचीन विधायें हैं। तंत्र का पदार्थ विज्ञान, रसायन शास्त्र, आयर्ुर्वेद, ज्योतिष एवं ध्यानयोग आदि विधाओं से गहरा ...

item-thumbnail

विकल्प सामाजिक क्रान्ति

0 November 10, 2012

जनता के अधिकार के नाम पर हुए बारम्बार के आन्दोलन और संर्घष्ा ने जनता के अधिकार को स्थापित नहीं कर सके, इस तथ्य को स्वयं आन्दोलन का इतिहास ही प्रष्ट कर...

item-thumbnail

संविधान की गारेंनटी चुनाव से नहीं

0 November 10, 2012

अभी देश में विघटित संविधानसभा पुनर्स्थापना और नये चुनाव की बहस गरम है। लेकिन दलों के बीच कोई सहमति नहीं बन पा रही है। इसी सर्न्दर्भ को लेकर तर्राई मधे...

item-thumbnail

बजट पर बबाल

0 November 9, 2012

हिमालिनी डेस्क इन दिनों देश में बजट कोलेकर बबाल मचा हुआ है। इस महीने के अन्त तक देश का बजट खत्म होने जा रहा है और विपक्षी दल बजट लाने को लेकर सरकार का...

item-thumbnail

कू की साजिश में शामिल नेता

0 November 9, 2012

माओवादी अध्यक्ष प्रचण्ड के द्वारा राष्ट्रपति के विवादास्पद बयानों को लेकर दिए एक बयान ने राष्ट्रपति के रातों की नींद उडा दी थी। हमेशा राजनीतिक दलों को...

item-thumbnail

“कू” की साजिश रचते राष्ट्रपति

0 November 9, 2012

राष्ट्रपति की कू करने की खतरनाक योजना से एक बात तो साबित हो गई है कि नेपाल में अभी अभी आए लोकतंत्र से खतरे का बादल छंटा नहीं है और इसे बाल्य अवस्था मे...

item-thumbnail

दिग्भ्रमित मधेशी मोर्चा दिशाहीन मेधश यात्रा

0 November 9, 2012

आज मधेशी मोर्चा के नेतागण,- माओवादी, कांग्रेस और एमाले के साथ वार्ताओ में व्यस्त हैं। इन तीनो ने जो खेमा बनाया है, मधेशी शक्ति पूरी तरह इसी में ध्रुवी...

item-thumbnail

मेरी जेल यात्रा राजनीतिक जीवन का अन्त नहीं, नई पारी की शुरुआत

0 November 9, 2012

मेरी गिरफ्तारी पर फूले न समाये उपेन्द्र यादव ने खुशी में लड्डू बांटे, अबीर यात्रा भी की। जब वे एमाले में थे, काठमांडू के खुले मञ्च में, खुली सभा में प...

item-thumbnail

सत्ता के चक्रव्यूह में संविधान

0 November 9, 2012

हिमालिनी डेस्क संविधान सभा के विघटन हुए ५ महीने हो गए लेकिन अभी भी दलों के बीच संविधान सभा पुनर्स्थापना या ताजा जनादेश में जाने को लेकर कोई भी सहमति न...

1 2