item-thumbnail

अधिकार प्राप्ति के लिए मधेशियों को नेपाली अंक-गणित जानना होगा : श्याम सुन्दर मण्डल

0 May 25, 2017

श्याम सुन्दर मण्डल, सप्तरी 25 May 2017 । ‘मुल्क’ हम उसी को कह सकते हैं जहाँ हर मुल्कबासी समान हों | मुल्क की हर भुगोल में नागरिकों का सम्म...

item-thumbnail

शेर बहादुर देउबा या तो संशोधन करें या चुनाव स्थगित : प्रशांत झा

0 May 25, 2017

नई दिल्ली, २५ मई | भारत से प्रकाशित होने वाली अंग्रेजी दैनिक द हिंदुस्तान टाइम्स के एसोसिएट एडिटर तथा नेपाल की राजनीति पर नजदिकी नजर रखने वाले विश्लेष...

item-thumbnail

बाबुरामजी का चक्कर छोंड़ें, हमारे साथ आयें : उपेन्द्रजी से बृषेश चन्द्र लाल का आग्रह

0 May 23, 2017

प्रिय मित्रों,  कुछ मित्रों को बहुत ही आक्रोश है कि मैंने उपेन्द्रजी को क्यों जबाब दिया ? कुछ फोरम के मित्रों ने शिक्षा दी है कि मुझे चुप रहना चाहिए थ...

item-thumbnail

टीकापुर जनविद्रोह,प्रहरी द्वारा मधेस आंदोलन पर कियागया का राक्षषी अत्याचार : मुकेश झा

0 May 23, 2017

मुकेश झा,जनकपुर,२३मई | “सौ दोषी भले ही छूटे, एक निर्दोष को सजा नही हो”, यह कथन नेपाल के न्यायालय का है। पर क्या वास्तव में यह कानून के व्य...

item-thumbnail

उपेन्द्र यादव के कथनी और करनी मे फर्क है, मधेशी एकता को कमजोर कररहें हैं : राजेन्द्र महतो

0 May 23, 2017

काठमांडू , २३ मई | हिमालिनी के साथ हुई विशेष बातचीत में रा.ज.पा. अध्यक्ष मंडल के सदस्य रजेन्द्र महतो ने कहा कि उपेन्द्र यादव नें जनकपुर में जो कहा तो ...

item-thumbnail

सन्शय रहित होकर आन्दोलन घोषित किया जाय : देवेश झा

0 May 22, 2017

“दुविधा मे दोनों गए माया मिली न राम” देवेश झा   राजपा के नेतागण यह निर्णय नही ले पा रहे है कि आन्दोलन की घोषणा कब करे । प्रधानमन्त्री...

item-thumbnail

मधेशी जनता को यदि लडना ही है तो प्रदेश के लिए क्यों..? : रोशन झा

0 May 21, 2017

रोशन झा, राजबिराज २१ मई | किसी भी देश में क्रांति की बीज वहाँ की सामाजिक, आर्थिक, राजनीतिक और धार्मिक अवस्था पर निर्भर करता है जो अनुकूल परिस्थिति पाक...

item-thumbnail

कुर्सी और सत्ता के जयचन्दों ने फिर फंसाए मधेसी जनता को : सर्वदेव ओझा

0 May 16, 2017

सर्व देव ओझा, नेपालगंज, २०७४/०२/२ गते | मधेस के अधिकार में संघियता , स्वशासन , और सामाजिक न्याय का कल तक बड़ा बड़ा भाषण और अपने आप को बड़े क्रन्तिकारी प्...

item-thumbnail

सैंकड़ौ आहुति के बाद भी मधेशीयों का अधिकार क्यों नहीं सुनिश्चित हुआ : ई.रामेश्वर प्रसाद

0 May 13, 2017

ई. रामेश्वर प्रसाद सिंह(रमेश), दुर्गापुर-3, सिरहा(मधेश) | मधेश के राजनीतिक ठेकेदारों हमेशा यह कहते हैं कि शासक वर्ग संविधान संसोधन नहीं चाहते हैं। फिर...

item-thumbnail

मोर्चा व गठबंधन से विमर्श किए बगैर उपेन्द्र जी चुनाव में शामिल हुए : नीलम वर्मा

0 May 13, 2017

नीलम वर्मा,काठमांडू , १३ मई | राज्य द्वारा सदियों से शोषण, उत्पीड़न, वंचन एवं विभेदीकरण में रहे मधेशी, जनजाति, दलित, अल्पसंख्यक, मुसलिम मुदायों की चाहत...

item-thumbnail

राजपा नेपाल सवा करोड़ लोगों की आस्था का केन्द्र है : मनिषकुमार सुमन

0 May 11, 2017

पार्टी के नामकरण में ‘मधेश’ शब्द नहीं होने की वजह से अधिकांश लोग गलत ढंग से टीका टिप्पणी करने के लिए चुप नहीं बैठ हैं । मैं उन्हें संस्मरण कराना चाहूं...

item-thumbnail

हर चीज की जननी परिस्थिति है और इसी परिस्थिति का फल है– एकीकरण : केशव झा

0 May 10, 2017

हम हथियार उठा नहीं सकते हैं । हमें मध्यमार्गी राजनीति के जरिये आगे बढ़ना है । क्योंकि मध्यमार्गी राजनीति ही मधेश को सेफलैंडिंग की ओर आगे ले जाएगी केशव ...

item-thumbnail

अख्तियार की अख्तियारी और नेताओं की नेताबारी–दोनों फेल : कैलाश महतो

0 May 8, 2017

कैलाश महतो, परासी,८ मई | नेपाल के राजनीति में कुछ दिन अफरातफरी और भूचाल सी मची रही । कुछ दिनोंतक हर जगह लोकमान, हर तरफ लोकमान रहे । चाहे अनचाहे लोकमान...

item-thumbnail

राजपा नेपाल की मौजुदा दिशा, दशा, रणनीति, कार्यनीति और रोडम्याप : डा. सुरेन्द्र कुमार झा

0 May 6, 2017

डा. सुरेन्द्र कुमार झा (राजपा नेपाल, नेता) | काठमांडू, ६ मई | एकता अपनें आप में अच्छा शब्द हैं । एकता होने से शक्ति मिलती है । एकीकृत होकर सहकार्य करन...

item-thumbnail

नयी विचार धाराओं को अंगीकार करते आगे बढ़ने की आवश्यकता है राजपा को : लीला यादव

0 May 6, 2017

लीला यादव, काठमांडू ,६ मई | मधेशी, जनजाति, पिछड़ावर्ग, अल्पसंख्यक, मुसलिम आदि समुदायों की समस्याओं को लंबे अरसे से वकलात करती आई तराई मधेश लोकतान्त्रिक...

item-thumbnail

संविधान में जो शब्द, खण्ड है ही नहीं उसका संसोधन किसके लिए और क्यों ?: डा.मुकेश झा

0 May 6, 2017

डा.मुकेश झा , जनकपुर ,६ मई | मधेस आंदोलन वैतरणी नदी है और संविधान संसोधन उसका गाय। उस गाय के पूंछ पकड़े बिना कोई भी वैतरणी नदी पार नही कर सकते। चाहे कि...

item-thumbnail

‘मधेश में बसाेवास करनेवाले मुस्लिम ही वास्तविक मधेशी” : अब्दुल खान

0 May 5, 2017

अब्दुल खान, भैरह्बा, ५ मई |  मानव का बसाेवास और जीवन शैली पहचान दर्शाने का काम करती है। मानवों की बसाेवास करनेवाले भू-क्षेत्र ही पहचान निर्धारण करने क...

item-thumbnail

मधेशी जनता की ख्वाहिश है कि मधेश में दो ही पार्टियां हो : महाजन यादव

0 May 5, 2017

महाजन यादव, जनकपुर, ५ मई | संघीय समाजवादी फोरम नेपाल मधेशी, जनजाति, दलित, मुसलिम, अल्पसंख्यक के साथ–साथ हिमाल, पहाड़ के आदिवासी जनजाति, दलित, अल्पसंख्य...

item-thumbnail

राजपा को देश की दूसरी ताकतवर पार्टी के रुप में स्थापित करना होगा : बृजेशकुमार गुप्ता

0 May 5, 2017

आवश्यकता है पार्टी में सामूहिक निर्णय की परंपरा स्थापित हो । क्योंकि निर्णय देना या निर्णय में सहभागी होना सभी का लोकतांत्रिक अधिकार है । यह नहीं कि श...

item-thumbnail

नेपाल मे मधेसी को कर्मचारी बनना भी अभिशाप है : डि. के. सिँह

0 May 4, 2017

डि. के. सिँह, बारा, ४ मई  । सभी का एक चाहना होता है सरकारी नौकरी पाने की पर क्या करे मधेसी विचारे, जी जान लगाकर ताबडतोर मेहनत कर सरकारी नौकरी मिलते ही...

item-thumbnail

कम्बल के निचे घी खाने की आदत कहीं छुट न जाए : कैलाश महतो

0 May 4, 2017

कैलाश महतो, पराशी, ४ मई | प्रकृति अपने आप में एक अदभुत शक्ति होती है । सारी शक्तियाँ प्रकृति से ही आविष्कार और निर्माण होती है । शक्ति की रुप अलग अलग ...

item-thumbnail

राजपा नेपाल को एक ताकतवर पार्टी के रूप में स्थापित करेंगे : डॉ. कौशलेन्द्र मिश्र

0 May 3, 2017

डॉ. कौशलेन्द्र मिश्र,  काठमांडू ,३ मई | वैशाख ७ गते अमृतभोग के सभागार में मधेश केन्द्रित छह दलों के बीच एकीकरण हुआ है । इस एकीकरण से मधेश को ऊर्जा मिल...

item-thumbnail

नेताओं की हरकत देखकर आज शहीद भी शर्मिंदा हो रहे होंगे : डा. मुकेश झा

0 May 2, 2017

डा. मुकेश झा, जनकपुर ,१९गते वैशाख | मधेस आंदोलन से नेपाल की राजनीति में लाये हुए परिवर्तन से देश और जनता की अवस्था मे भले ही परिवर्तन नही हुआ परन्तु न...

item-thumbnail

राजपा नेपाल ही मधेश का भविष्य स्थापित कर सकता है : सी.पी. सिंह

0 May 2, 2017

सी.पी. सिंह, काठमांडू, २ मई | लंबे अरसे से एकीकरण की बात उठ रही थी । खासकर दूसरी संविधान सभा के चुनाव से एकीकरण की बात उठने लगी । एकीकरण के लिए हम लोग...

item-thumbnail

हमारा एक ही मकसद है– वह है ‘समृद्ध मधेश’ : डॉ. डिम्पल झा

0 May 2, 2017

डॉ. डिम्पल झा, काठमांडू , २ मई | पहचान, प्रतिनिधित्व व प्राकृतिक स्रोतों पर अधिकार स्थापनार्थ हम लोग अलग–अलग जगहों से संघर्ष करते आ रहे थे । मधेशी जनत...

item-thumbnail

मर्चवार का वह भयानक दृश्य और हिरासत मे विभेद की चरम पराकाष्ठा : विकासप्र. लोध

0 May 1, 2017

हिरासत का पहला अनुभव : विकास प्रसाद लोध, लुम्विनि , १ मई | मित्रो हिमालिनी के कृपा तले आप लोगों ने मेरा बहुत सारे लेखों को  अध्यन किया और अपने असीम प्...

item-thumbnail

राजपा नेपाल के साथ ढेर सारी चुनौतियां है : रेखा यादव

0 May 1, 2017

  ( हिमालिनी समय सन्दर्भ श्रंखला से ) रेखा यादव, काठमांडू, १ मई | लंबे अरसे से मधेशी जनता की चाहत थी कि मधेश केन्द्रित पार्टियां एक जगह हो और एक ...

item-thumbnail

ईंट का जवाब पत्थर से देने के लिए ही हम एकताबद्ध हुए : राजकिशोर यादव

0 April 28, 2017

काठमांडू,२८ अप्रैल | छह दलों के बीच का एकीकरण सिर्फ दलों का एकीकरण ही नहीं है, बल्कि मधेशियों व थारुओं के द्वारा किया गया विद्रोह की भावना का एकीकरण ह...

item-thumbnail

एकता से रक्त का संचार हुआ है : महेन्द्रराय यादव

0 April 28, 2017

काठमांडू, २८ अप्रैल | आज की लड़ाई मधेश की जनता व उत्पीड़न, शोषण एवं वंचन में पड़े नेपाल की समस्त जनता की आंतरिक उपनिवेशिक लड़ाई है । अर्थात् हमारा आंदोलन ...

item-thumbnail

नेपाल ज्वालामुखी के गड्ढे पर बैठा है : कुमार ज्ञानेन्द्र

0 April 26, 2017

काठमांडू,२६ अप्रैल | वर्तमान में नेपाल का जो राजनीतिक परिवेश है, वह नेपाल के भविष्य के लिए अच्छा नहीं है । जिस प्रकार से नेपाल की सत्ता में बैठे लोग न...

item-thumbnail

मधेस के ठेकेदारो ने ही मधेशियों के वजुद को बेच डाला : डी. के. सिंह,

0 April 25, 2017

डी. के. सिंह, बारा, २५ अप्रैल । इतिहास गवाह है … जिस मधेसी नेता पे हम ने भरोषा किए वह तो छिपकलि के तरह रङ्ग बदलने मे माहिर निकला। अगर पुरानी ईति...

item-thumbnail

लोकतंत्र अब लोभतंत्र हो चूका है और जल्द ही लोपतंत्र भी हो जाएगा : बिम्मी शर्मा

0 April 25, 2017

बिम्मी शर्मा, २५ अप्रैल | (व्यंग्य) लोकतंत्र बबुआ को इस देश में पधारे हुए १० साल हो गए पर यह का खाते हैं कि बढत नाहीं । इस के साथ पैदा हुए बांकी सारे ...

item-thumbnail

देश मांगा नहीं जाता, निर्माण किया जाता है : कैलाश महतो

0 April 24, 2017

गरीबों का कोई देश नहीं होता, भूखों का कोई धर्म नहीं, कुछ मधेशियों में यह भ्रम है कि प्रान्त देने को जब नेपाली राज्य नहीं मान रही है तो देश क्या संभव ह...

item-thumbnail

नई पहचान मिली ….

0 April 22, 2017

गंगेश मिश्र °°°°°°°°°°°°°°°° आख़िर, एक साथ आ ही गए; मधेश के रहनुमा; बधाई तो बनती है, बधाई हो, बधाई। एक साथ, एक मंच पर आने की; जो हिम्मत मधेशवादी नेताओ...

item-thumbnail

संगठन की मजबूती के लिए एकता आवश्यक है : अनिल कुमार झा

0 April 22, 2017

काठमांडू ,२२ अप्रैल | २० अप्रैल को तराई मधेश लोकतांत्रिक पार्टी, सद्भावना पार्टी, राष्ट्रीय मधेश पार्टी, तराई–मधेश लोकतांत्रिक पार्टी नेपाल, मधेशी जनअ...

item-thumbnail

इस एकता से रक्त का संचार हुआ है : महेन्द्र राय यादव

0 April 22, 2017

काठमांडू ,२२ अप्रैल | २० अप्रैल को तराई मधेश लोकतांत्रिक पार्टी, सद्भावना पार्टी, राष्ट्रीय मधेश पार्टी, तराई–मधेश लोकतांत्रिक पार्टी नेपाल, मधेशी जनअ...

item-thumbnail

मधेश की एकता का प्रतीक है यह एकीकरण : राजेन्द्र महतो

0 April 22, 2017

काठमांडू ,२२ अप्रैल | २० अप्रैल को तराई मधेश लोकतांत्रिक पार्टी, सद्भावना पार्टी, राष्ट्रीय मधेश पार्टी, तराई–मधेश लोकतांत्रिक पार्टी नेपाल, मधेशी जनअ...

item-thumbnail

यह एकता मधेश मिशन के लिए है : राजकिशोर यादव

0 April 22, 2017

२२ अप्रैल | २० अप्रैल को तराई मधेश लोकतांत्रिक पार्टी, सद्भावना पार्टी, राष्ट्रीय मधेश पार्टी, तराई–मधेश लोकतांत्रिक पार्टी नेपाल, मधेशी जनअधिकार फोरम...

item-thumbnail

नसली चिन्तन को मुक्का द्वारा प्रहार किया जाएगा : शरद सिंह भंडारी

0 April 22, 2017

काठमांडू, २२ अप्रैल | २० अप्रैल को तराई मधेश लोकतांत्रिक पार्टी, सद्भावना पार्टी, राष्ट्रीय मधेश पार्टी, तराई–मधेश लोकतांत्रिक पार्टी नेपाल, मधेशी जनअ...

item-thumbnail

इस एकता से बल मिला है मधेशी जनता को : महन्थ ठाकुर

0 April 22, 2017

 काठमांडू, २२ अप्रैल | २० अप्रैल को तराई मधेश लोकतांत्रिक पार्टी, सद्भावना पार्टी, राष्ट्रीय मधेश पार्टी, तराई–मधेश लोकतांत्रिक पार्टी नेपाल, मधेशी जन...

item-thumbnail

ज्ञानेन्द्र शैली का चुनाव होने जा रहा है : गंगा श्रेष्ठ

0 April 22, 2017

काठमांडू । २२ अप्रैल | सरकार ने आगामी वैशाख ३१ गते के लिए स्थानीय निर्वाचन घोषणा किया है । हम लोग भी चाहते हैं कि उस निर्वाचन में सहभागी बने । लेकिन स...

item-thumbnail

राज्य की अस्पष्ट नीतियों ने आज मधेस को पराया बना दिया : रोशन झा

0 April 19, 2017

रोशन झा, सप्तर,१९अप्रैल | लोकतान्त्रिक गन्तन्त्रात्मक मूल्क नेपाल मधेसीयों के लिए प्रतिद्वन्दि जैसा बनते जा रहा है । निर्दोष मधेसी जनता को नेपाली पुलि...

item-thumbnail

हम लोग चुनाव के खिलाफ हैं : भगवती यादव

0 April 18, 2017

भगवती यादव, काठमांडू, १८ अप्रैल | देश में चुनाव होना आति आवश्यक है । क्योंकि चुनाव लोकतंत्र की रीढ़ है । चुनाव बिना लोकतंत्र की कल्पना भी नहीं की जा सक...

item-thumbnail

इच्छाशक्ति ही अागे की राह बनाती है

0 April 17, 2017

मन में लगन, इच्छाशक्ति और आगे बढ़ने की चाहत हो, तो किसी भी बाधा को आसानी से पार किया जा सकता है। गंगेश मिश्र अक़्सर बच्चों को पढ़ने-लिखने के लिए बार-ब...

item-thumbnail

मधेश को अलग करने की जुरअत की तो अलगाववादी को बल मिलेगा : राजेन्द्र महतो

0 April 17, 2017

राजेन्द्र महतो, काठमांडू, १६ अप्रैल | विगत में मोर्चा के साथ हुए सारे समझौते को दरकिनार कर कथित तीन बड़ी पार्टियों ने त्रुटिपूर्ण संविधान जारी किया । य...

item-thumbnail

हिन्दी भाषा सिर्फ भारत की ही नहीं वल्कि सभी मधेशी की भाषा है : ई.आर.पी.सिंह

0 April 16, 2017

रामेश्वर प्रसाद सिंह(रमेश), दुर्गापुर-3, सिरहा(मधेश), १६ अप्रैल | हिन्दी भाषा सिर्फ भारत की एकलौटी नहीं बल्कि हिन्द महासागर (Indian Ocean) की क्षेत्र ...

item-thumbnail

राजनितिक अपरिपक्वता मे नेताओं की राजनितिक पदिय तृष्णा : सर्वदेव ओझा

0 April 10, 2017

यहाँ अब कौन गलत है और कौन सही ? यह मूल्यांकन कौन करे ? स्थानिय निर्वाचन के लिए आतुर पदिय स्वार्थी लोग वह कौन है ? आज इसे भी नया शिरा से मूल्यांकन करना...

item-thumbnail

शासक रावण, लंका देश …

0 April 8, 2017

गंगेश मिश्र क्या देते ? ऋषि- मुनियों पास देने को कुछ था नहीं, रावण को; कर के रूप में। तो रावण ने एक युक्ति निकाली कि, क्यों न इनसे एक- एक बूँद ख़ून; क...

item-thumbnail

चुनाव को बहिष्कार ही नहीं, होने भी नहीं देंगेः अशोक यादव

0 April 7, 2017

जैसे, हिमाली क्षेत्रों में १५ हजार, पहाड़ी क्षेत्रों में २३ हजार और मधेश में ५०, ६०, ७० और ७५ हजार जनसंख्या निर्धारण कर बदनीयत ढंग से गांवपालिका बनाया ...

item-thumbnail

मधेशी शासकों का लठैत ही बनते आ रहे हैं : ई. श्याम सुन्दर मण्डल

0 April 7, 2017

ई. श्याम सुन्दर मण्डल, भारदह, 7 अप्रिल | संघीयता और विकेन्द्रीकरण दो भिन्न राजनैतिक व्यवस्था है । इस विषयवस्तु पर चर्चा करने से पहले समाज व्यवस्थापन क...

item-thumbnail

मांगें पूरी होने के बाद ही चुनाव करवाया जाए : भुपनारायण रामदास

0 April 4, 2017

मुफस्सल की आवाज देश अभी बहुत तरल अवस्था से गुजर रहा है । आशय यह है देश में दो–दो बार संविधान सभा का चुनाव हुआ । लेकिन जिनके लिए संविधान बनना चाहिए था ...

item-thumbnail

मधेश अब मातृभूमि की रक्षा के लिए पूकार रहा है : राजहंस मधेशी

0 April 3, 2017

राजहंस मधेशी, सप्तरी, ३ अप्रिल | मधेश का हृदयस्थल सप्तरी जिले में हुई फागुण २३ की घटना दर्साती है की खून से लतपत मधेश अब आजादी के लिए पुकार रहा है । अ...

item-thumbnail

बदलते परिवेश में नेपाली नारी

0 April 1, 2017

नारी शिक्षा का व्यापक प्रसार भले ही हमारे देश में न हुआ हो, गहन अध्ययन के मार्ग अवश्य खुले हैं । शिक्षा ने हमें गहराई से छुआ । महिलाएं हर क्षेत्र में ...

item-thumbnail

मुसलिम महिला के लिए कोटा की व्यवस्था हो :मोहना अंसारी

0 April 1, 2017

मुस्लिम समुदाय देश का तीसरा बड़ा धार्मिक समूह है । मुस्लिम का ज्यादा बसोबास तराई–मधेश में है । सन् २०११ की जनगणना के अनुसार ९७ प्रतिशत तराई–मधेश में ओ...

item-thumbnail

मुस्लिम महिला को उनके समाज ने इन्सान नहीं समझा : सीमा विश्वकर्मा

0 April 1, 2017

मुस्लिम समाज में अनुसंधान के दौरान यह देखा गया कि वे लोग फैमिली प्लानिंग नहीं करते हैं । सन्तानें जितनी हों, उन्हें अल्लाह की देन समझते हैं । इसके फाइ...

item-thumbnail

किसी कार्यालय में मधेशी शहीदों की तस्वीरें क्यूँ नहीं है ? -कैलाश महतो

0 April 1, 2017

शहीद बनने के लिए अपना राष्ट्र होना चाहिए, नेताओं की मुस्कान नहीं, कैलाश महतो,परासी, मधेश के इस रंङ्गीन मौसम को भी रंङ्गहीन और मातममयी होना पडा है । कई...

item-thumbnail

राज्य मधेशी जनता की जनमत की कद्र कर द्वन्द्व होने से रोके : डि. के. सिंह

0 March 31, 2017

डि. के. सिंह, चैत १८, बारा । जिस तरह नेपाल सरकार के उच्च ओहदा के पदाधिकारी लोगों का करामात मधेश में बढ़ता जा रहा है, युवाओं के ऊपर गाली–गलौज के सिलसिला...

item-thumbnail

कथित बड़ी पार्टियां देश को दुर्घटना की ओर ले जा रही हैं : रामबाबू सिंह

0 March 30, 2017

नेपाल में सांस्कृतिक और धार्मिक एकरुपता के साथ–साथ विविधता भी है । तराई–मधेश के लोग उपनिवेशिक जिंदगी जी रहे हैं । पहाड़ के लोग शासकीय रुप में स्थापित ह...

item-thumbnail

मधेशियों की मांगें पूरी करने के बाद ही चुनाव करवाया जाए : सुभेन्द्रकुमार कनौजिया

0 March 29, 2017

(मुफस्सल की आवाज) साल २०७२ में मधेश केन्द्रित पार्टियों की सहमति के बगैर संविधान जारी किया गया । जबकि यह संविधान मधेशी, थारु, जनजाति, दलित, मुसलिम, पि...

item-thumbnail

क्या डा. राउत के शान्तिपूर्ण आन्दोलन का औचित्य समाप्त हो गया है ? ई. दीपक कुमार साह

0 March 28, 2017

ई. दीपक कुमार साह, काठमाण्डौ २८ मार्च २०१७|  मधेश बलिदानी दिवस अर्थात माघ ५ गते लहान में करिब एक लाख जनता को सम्बोधन कर जनकपुर स्थित किराये के घर में ...

item-thumbnail

”हत्या हिंसा की राजनीति कब तक करेगी मोर्चा”? रोशन झा

0 March 28, 2017

    रोशन झा, राजबिराज २८ मार्च 2२०१७ | संयूक्त लोकतान्त्रिक मधेसी मोर्चा द्वारा घोषणा की गई ओली बिरोध कार्यक्रम पाँच निर्दोष मधेसीयों को अपने प्राणो क...

1 2 3 7