Mon. Sep 24th, 2018

साहित्य

लेखक बना ही नही बन गया लेखक संघ का अध्यक्ष यानि आंखे नाहीं चश्मे चांही : बिम्मीशर्मा

बिम्मीशर्मा, बीरगंज, २७ दिसिम्बर | जिसका आंख कमजोर हो वह पावर वाला चश्मा पहनें तो

इन्डो–नेपाल समरसता ऑर्गनाइजेसन द्वारा अभिनंदन कार्यक्रम का आयोजन

काठमांडू, २५ दिसम्बर इन्डो–नेपाल समरसता ऑर्गनाइजेसन (अन्तर्राष्ट्रीय समरसता) मंच द्वारा २५ दिसंबर को एक अभिनंदन

व्यावहारिक हिन्दी पत्रकारिता और हिन्दी के मुहावरे एवं लोकोक्तियां का लोकापर्ण

  विनोदकुमार विश्वकर्मा ‘विमल’, सप्तरी । महेन्द्र विन्देश्वरी बहुमुखी कैंपस राजविराज के उपप्राध्यापक सुरेन्द्र प्रसाद

अहमदाबाद इंटरनेशनल लिट्रेचर फेस्टिवल का भव्य आयोजन, साहित्य की सिनेमा में विशेष भूमिका,

अवनीश, अहमदाबाद, २७ नवम्बर | अहमदाबाद मैनेजमेंट असोसिएशन के विशाल सभागार में अहमदाबाद इंटरनेशनल लिट्रेचर

हिंदुस्तानी भाषा अकादमी दिल्ली द्वारा डा.श्वेता दीप्ति सम्मानित

दिल्ली, संवाददाता, 19 नवम्बर । हिंदुस्तानी भाषा अकादमी दिल्ली द्वारा सम्मान समारोह और सर्व भाषा

मिथिला विश्वविद्यालय हिंदी विभाग द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय संगोष्ठी आयोजित

दरभंगा ,१८ अक्टूबर | यू जी सी संपोषित अन्तर्राष्ट्रीय संगोष्ठी ललितनारायण मिथिला विश्वविद्यालय हिंदी विभाग

पिता

कहते हैं हमारे वज़ूद को इस धरती पर लाने वाली होती हैं माँ जो नौ

‘मैथिली पत्रकारिता सम्मान-2016’’ से सम्मानित हुए मिथिला मिरर के संपादक ललित

हिमालिनी ,२८ सेप्टेम्बर,दिल्ली मिथिला विकास परिषद् कोलकाता द्वारा क्रांतिकारी मैथिली आंदोलनी बाबू साहेब चैधरी के

मेरा गाँव

माना ऊँची ऊँची गगन चुम्बी इमारते नहीं ।पर मेरे गाँव में रौनक आजभी हैं पिज़ा