item-thumbnail

आज माता तीर्थ अमावस्या

0 April 26, 2017

१३ वैशाख, काठमाडौं । आज मातातीर्थ औंसी अर्थात् आमा का मुख देखने का दिन है । जन्म देने वाली माँ के लिए आदर व्यक्त करने का और श्रद्धाभाव दर्शाने वाले दि...

item-thumbnail

मृत्यु ही जीवन है अाैर जीवन ही मृत्यु

0 April 25, 2017

दरअसल मन के साथ मस्तिष्क का विशेष संबंध है और शरीर का विनाश हो जाने पर वह नष्ट हो जाता है। आत्मा ही एकमात्र प्रकाशक है। इसलिए उसके हाथ यंत्र के समान ह...

item-thumbnail

माला के 108 मनके हमारे हृदय में स्थित 108 नाड़ियों के प्रतीक हैं

0 April 24, 2017

बैसाख ११ गते माला में 108 दाने होते हैं, जब भी किसी मंत्र का जाप किया जाता है तो वो 108 बार ही किया जाता है। क्या आप जानते हैं माला में 108 दाने क्यों...

item-thumbnail

रविवार व्रत-2017 माहात्म्य : आचार्य राधाकान्त शास्त्री

0 April 23, 2017

काठमांडू, २३ अप्रैल | इस वर्ष सामान्यतः रविवार व्रत 30 अप्रैल 2017 को भी किया जा सकता है । किन्तु 7 मई 2017 वाला रविवार व्रत  सर्वार्थ सिद्धि हेतु सर्...

item-thumbnail

कठोर तप की पूर्णता के पचास वर्ष : ललित गर्ग

0 April 22, 2017

 ललित गर्ग, २२ अप्रैल | आज के भौतिकवादी एवं सुविधावादी युग में जबकि हर व्यक्ति अधिक से अधिक सुख भोगने के प्रयत्न कर रहा है, ऐसे समय में एक जैनसंत जैन ...

item-thumbnail

सखडा में हर्ष और उल्लास के साथ लक्ष्य चण्डी रुद्र महायज्ञ सु-समपन्न

0 April 19, 2017

रोशन झा, सप्तरी वैशाख ६, बुधवार | ”कलौ चण्डी महेश्वर:” राष्ट्र शान्ति एवं मानव कल्याण के लिए नेपाल में पहलीबार चैत २८ गते सोमवार से माता छ...

item-thumbnail

जिंदगी से निराश या हताश हैं तों शिव के पुजा करें, शिव के लिए अक्षम्य ८ पाप

0 April 19, 2017

हिमालिनी डेस्क काठमांडू, १९ अप्रील । शिव को भोलेनाथ कहते हैं । क्योंकि शिव सादगी पसंद ईश्वर हैं । उन्हें कच्चा फल पसंद है । एक लोटा पानी से भी शिव खुश...

item-thumbnail

नेपाल का गुहेश्वरी शक्तिपीठ

0 April 16, 2017

हिन्दू धर्म के पुराणों के अनुसार जहां-जहां सती के अंग के टुकड़े, धारण किए वस्त्र या आभूषण गिरे, वहां-वहां शक्तिपीठ अस्तित्व में आये। ये अत्यंत पावन ती...

item-thumbnail

हनुमान जयन्ती पर नेपालगंज में भब्य कलश शोभा यात्रा

0 April 11, 2017

नेपालगन्ज,(बाके) पवन जायसवाल, २०७३ चैत्र २० गते । हनुमान जयन्ती के उपलक्ष्य में चैत्र २९ गते आज मगलवार को नेपालगंज में भब्य कलश शोभा यात्रा निकाला गया...

item-thumbnail

हनुमान जयंती पर जाने इस मंत्र को जिस के जाप से कटेंगे सारे संकट

0 April 11, 2017

हिमालिनी डेस्क काठमांडू, ११ अप्रील । सुख–सम्पत्ति, यश और संतान प्राप्ति के लिए मंगलवार का व्रत रखना शुभ माना जाता है । अगर आप शत्रुओं से परेशान हैं तो...

item-thumbnail

कल है हनुमान जयंती, १२० साल बाद बन रहा है विशेष योग, जानिये कैसे खुश होंगे बजरंग बली

0 April 10, 2017

हिमालिनी डेस्क काठमांडू, १० अप्रील । हनुमान भक्तों के लिए हनुमान जयंती बेहद खास होती है । इस बार हनुमान जयंती ११ अप्रैल २०१७ को है । इस बार हनुमान जयं...

item-thumbnail

कंकालिनी भगवती मंदिर मे निशुल्क यज्ञोपवित संस्कार सु-सम्पन्न, सहयोगी पाग डोपटा से सम्मानित

0 April 6, 2017

रामायण समिती भारदह एवं समस्त भारदह ग्राम समाज द्वारा चैत 24 गते गुरुवार को नेपाल एवं भारत के मिथिला क्षेत्रीय बरुवाओं का संयुक्त रुप मे निशुल्क यज्ञोप...

item-thumbnail

मर्यादा पुरुषोत्तम राम के ‘रामनवमी’ में जनकपुरधाम बना रमा–रमा

0 April 5, 2017

हिमालिनी डेस्क काठमांडू, ५ अप्रील । चैत्र नवरात्र का आज अंतिम दिन है । पंडितों और ज्योतिषियों के अनुसार इस बार राम नवमी ५ अप्रैल यानी आज मनाई जा रही ह...

item-thumbnail

चैत्र नवरात्र : आज है अष्टमी, जानें कैसे होती हैं महागौरी प्रसन्न

0 April 4, 2017

हिमालिनी डेस्क काठमांडू, ४ अप्रील । आज चैत्र नवरात्र की अष्टमी है । इस दिन मां दुर्गा के आठवें स्वरूप महागौरी के पूजन का विधान है । धर्मिक मान्यताओं क...

item-thumbnail

सशस्त्र प्रहरी द्वारा मंदिर की सरसफाई

0 April 3, 2017

आज सुबह श्री श्र 108 श्री माँ कंकालिनी भगवती मंदिर प्राड़गणमे सशस्त्र प्रहरी बल दन्तकाली गण के टोली द्वारा सरसफाई किया गया है । सशस्त्र प्रहरी सहायक नि...

item-thumbnail

कंकालीनि भगवती मंदिर मे आज निशुल्क सामुहिक यज्ञोपवित संस्कार महायज्ञ

0 March 30, 2017

रोशन झा, सप्तरी २०७३ चैत १७ | पूरव नदी कोश की पश्चमि धार बलान, ग्राम के मध्य माँ कंकालीनि बिराजै धन्य ई भारदहधाम धन्य ई भारदहधाम | मथिलाञ्चल की प्रमुख...

item-thumbnail

श्री श्री १००८ लक्ष्चण्डी रुद्र महायज्ञ छिन्नमस्ता भगवती मंदिर मे बुधवार से शुभारम्भ

0 March 28, 2017

  रोशन झा, १५  चैत सप्तरी । कलौ चण्डी महेश्वर । माता की जय हो । राष्ट्र शान्ति एवं मानव कल्याण के लिए नेपाल में पहलीबार श्री श्री १००८ लक्ष्यचण्डी रुद...

item-thumbnail

घोडे यात्रा आपसी मिलन व एकता का पर्व है : सीमा विश्वकर्मा

0 March 28, 2017

काठमांडू, मार्च २८ ।  काठमांडू, ललितपु व भक्तपुर के नेवार समुदायों ने आज धूमधाम से चतुर्दशी के रूप में घोडेÞ यात्रा मनाया । यह यात्रा तीन दिनों तक धूम...

item-thumbnail

बिनु हरि भजन न जाहि कलेसा

0 March 22, 2017

रवीन्द्र झा ‘शंकर’ शान्ति किसे नहीं चाहिए ? सभी तो अशान्त है, बेचैन है, व्याकुल है, दुखिया हंै । किसी को इस बात का दुख है तो किसी को उस बात का दुख, आज...

item-thumbnail

हर बात को भूलो भले, माँ बाप को मत भूलना…… कलाकार प्रफूल्ल सिंह

0 March 17, 2017

कलाकार प्रफूल्ल सिंह उर्फ फूल सिंह, १४ मार्च |  हर बात को भूलो भले, माँ बाप को मत भूलना, उपकार इनके लाखों हैं, इस बात को मत भूलना भारत और पड़ोसी राष्ट्...

item-thumbnail

कराची का पंचमुखी हनुमानजी मंदिर

0 March 13, 2017

भारत-पाकिस्तान को सरहद ने दो मुल्कों में बाट दिया हो, पर दोनों मुल्कों का साझा इतिहास रहा है। इसका जीवंत उदाहरण कराची का पंचमुखी हनुमानजी मंदिर है। पा...

item-thumbnail

राधा-कृष्ण की निराली होली कथा

0 March 12, 2017

१२ मार्च | होली प्रेम का दायरा बढ़ाती है और सामाजिक बंदिशों को तोड़ती है। यह दिन भेदभाव से परे जाकर सभी के समान होने का दिन है और यह प्रेम से ही संभव ...

item-thumbnail

जानिए कब है 2017 की होली मनाने और होलिकादहन की शुभ मुहूर्त

0 March 11, 2017

११ मार्च ,आचार्य राधाकान्त शास्त्री जानिए कब है 2017 की होली मानाने और होलिकादहन की शुभ मुहूर्त । इस वर्ष २०१७ के होली में फाल्गुन शुक्ल पूर्णिमा रविव...

item-thumbnail

ओशो कहते है किसी स्त्री या पुरुष के साथ जिससे तुमको प्रेम नहीं है, मत जाओ

0 March 6, 2017

ओशो कहते है यदि तुम किसी स्त्री या पुरुष के साथ रहते हो और उसको प्रेम नहीं करते हो, तो तुम पाप में जीते हो। यदि तुम्हारा किसी से विवाह हुआ है और तुम उ...

item-thumbnail

श्रद्धाभक्ति पूर्वक मनाया गया महाशिवरात्री

0 February 25, 2017

हिमालिनी डेस्क,काठमांडू, २४ फरवरी देवादीदेव महादेब भगवान पशुपतिनाथ की श्रद्धाभक्ति पूर्वक पूजा अराधना कर कल महाशिवरात्रि का त्योहार मनाया गया हैं। शुक...

item-thumbnail

महाशिवरात्री में किया हैं विषेश व्यवस्था, साधुसन्तों के लिए निशुल्क भोजन

0 February 23, 2017

हिमालिनी डेस्क,काठमांडू, २३ फरवरी । महाशिवरात्री के पूर्वसन्ध्या में राजधानी के पशुपति क्षेत्र में चहल पहल बढ गया हैं । पशुपति विकास कोष नें स्वदेशी औ...

item-thumbnail

शिवरात्रि भगवान शिव और मां शक्ति के मिलन का महापर्व- कैसे करें महाशिवरात्रि व्रत

0 February 20, 2017

महाशिवरात्रि : आचार्य राधाकान्त शास्त्री, २० फरवरी | शिवरात्रि आदि देव भगवान शिव और मां शक्ति के मिलन का महापर्व है। हिन्दू पंचांग के अनुसार फाल्गुन म...

item-thumbnail

औघरदानी शिव

0 February 19, 2017

कहते हैं भगवान शिव भोले हैं, क्योंकि वे अपने भक्तों की मनोकामना पूर्ण करने वाले हैं। वे अपने भक्तों के समक्ष स्वयं प्रकट होकर उन्हें आशीर्वाद देते हैं...

item-thumbnail

पशुपति मे जोडसोड के साथ महाशिवरात्रि की हो रही तैयारी

0 February 16, 2017

  हिमालिनी डेस्क काठमांडू, १६ फरवरी । पशुपति मे इस साल होने बाली महाशिवरात्रि तयारी के लिए विभिन्न ९ उससमिति गठन किया हैं । पशुपति क्षेत्र विकास कोष अ...

item-thumbnail

बृहस्पति व्रत के लाभ

0 February 16, 2017

गुरुवार के दिन विष्णु भगवान की पूजा की जाती है। कहा जाता है कि विष्णु भगवान की पूजा से देवी लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं। गुरुवार के दिन पीले रंग के कपड़े...

item-thumbnail

देश भर उल्लास के साथ मनाया ‘वसंत पंचमी’

0 February 1, 2017

हिमालिनी डेस्क, काठमांडू, १ फरबरी आज ‘श्रीपञ्चमी’ का त्वहार विद्या की देवी सरस्वती की निष्ठापूर्वक पूजा–आराधना कर मनाया गया । माघ शुक्ल पञ्चमी के दिन ...

item-thumbnail

सरस्वती वाणी की देवी – सरस्वती उत्पत्ति कथा : आचार्य राधाकान्त शास्त्री

0 February 1, 2017

सरस्वती पूजन २०१७, १ फरवरी बुधवार को :- पूजन मुहूर्त :- इस बार पूजन के लिए पर्याप्त समय बन रहा है , जो इस प्रकार है  प्रातः ७:३०से प्रारम्भ होकर अपरान...

item-thumbnail

वसंत पंचमी पर करें ये काम, मिलेगी बुद्धि का वरदान

0 February 1, 2017

हिमालिनी डेस्क, काठमांडू, १ फरवरी । कल १ फरवरी २०१७ को सरस्वती पूजा का दिन है, जो प्रत्येक वर्ष माघ माह की शुक्ल पक्ष की पंचमी को वसंत पंचमी के रूप मे...

item-thumbnail

माघ गुप्त नवरात्र आज से ०६ फरवरी २०१७ तक रहेगी : आचार्य राधाकान्त शास्त्री

0 January 28, 2017

आचार्य राधाकान्त शास्त्री, बेतिया , २८ जनवरी | माघी गुप्त नवरात्री 2017 :-शास्त्रों से नवरात्र में मां दुर्गा की साधना के लिए अति महत्त्वपूर्ण माने जा...

item-thumbnail

भारत की शान, उत्तर प्रदेश की शाम

0 January 27, 2017

विनोदकुमार विश्वकर्मा, काठमांडू, जनवरी २७ | हर वर्ष भारतीय गणतन्त्र दिवस के अवसर पर नेपाल में विविध कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है । इस वर्ष भी ६८व...

item-thumbnail

वीरगंज में भारतीय गणतंत्र दिवस पर मणिपूरी लोक नृत्य और गायन का प्रदर्शन

0 January 25, 2017

बिम्मी शर्मा, वीरगंज,  २५ जनवरी | भारतीय गणतंत्र दिवस के अवसर में मंगलवार को वीरगंज में एक भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया । भारतीय सांस्क...

item-thumbnail

लायन्स कल्व बिराटनगर द्वारा ठंड़ प्रभावित लोगों को राहत सहयोग

0 January 21, 2017

रोशन झा; २१ जनवरी २०१७, राजबिराज । मानवता की सेवा के लिए उठनेवाले हात उतने ही धन्य है; जीतना परमेश्वर की प्राथना के लिए उठनेवाले ओंठ । “सेवा ही ...

item-thumbnail

स्वर्ग से सुंदर स्वर्गद्वारी

0 January 21, 2017

सीमा नेपाल के पश्चिमी पहाड़ी इलाकों के बारे में चर्चा–परिचर्चाएं होते हुए सामान्यतः हम नहीं पाते हैं । लेकिन यहीं कई जगह ऐसे भी है जो ऐतिहासिक और धार्म...

item-thumbnail

कुसंग से होता है व्यक्ति का नाश

0 January 17, 2017

भगवत गीता के इस दृष्टान्त से यह शिक्षा मिलती है कि श्रेष्ठ व्यक्ति भी कुसंगत से पाकर नष्ट हो जाता है । गीता में भगवान् कहते हैं– ‘अपने द्वारा अपना संस...

item-thumbnail

जनवरी 2017 का राशिफल : आचार्य राधाकान्त शास्त्री

0 January 17, 2017

मेष :- इस महीने आप के अंदर नई ऊर्जा का संचार होगा। क्योंकि मंगल आपके ग्याहरवें भाव से गोचर कर रहा है। छठवें भाव से गुरु का गोचर इस बात का संकेत दे रहा...

item-thumbnail

रुद्राक्ष के बिना महादेव का श्रंगार अधूरा

0 January 16, 2017

रुद्राक्ष के बारे में हम सभी जानते हैं। भगवान शिव इसे आभूषण के रूप में पहनते हैं। रुद्राक्ष के बिना महादेव का श्रंगार ही अधूरा माना जाता है। शिवपुराण ...

item-thumbnail

राज्य द्वारा मधेस के धरोहर माता कंकालिनि की पहिचान मिटाने का षड़यन्त्र : रोशन झा

0 January 16, 2017

  रोशन झा, राजबिराज, माघ ३ गते, सप्तरी । सप्तरी भारदह में अवस्थित प्रसिद्ध सक्तिपिठ श्री श्री 108 श्री माता कंकालिनि भगवति लाखौं-लाख भक्तजनों के आस्था...

item-thumbnail

मकर संक्रांति का पर्व अपने रूप और रंग में अनोखा

0 January 15, 2017

विजय पंडित, मेरठ, green care society मकर संक्रांति का पर्व अपने रूप और रंग में अनोखा है। इसमें उल्लास है तो लोकतत्व भी। सकारात्मकता है तो प्रकृति के प...

item-thumbnail

सामाजिक सद्भाव, राष्ट्रीय एंकता का सम्बर्धन थारु जाति की जिम्मेदारी : ओनसरी घर्ती

0 January 14, 2017

विनोदकुमार विश्वकर्मा ‘विमल’ , काठमाण्डू, माघ १ । माघी संक्रान्ति सद्भाव व राष्ट्रीय एकता का पर्व है । इस पर्व को संरक्षण एवं सम्बर्धन करना सरकार एवं ...

item-thumbnail

मकर संक्रांति २०१७ शनिवार को जानें शुभ मूहूर्त

0 January 13, 2017

१३ , जनवरी | मकर संक्रांति का पर्व वर्ष २०१७ में १४ जनवरी शनिवार को मनाया जाएगा। संक्रांति के दिन पुण्य काल में स्नान , दान देना, एवं सूर्योपासना करना...

item-thumbnail

भक्तपुर हनुमानघाट स्थित त्रिवेणी घाट में एक महीने माधवनारायण मेला शुरु

0 January 13, 2017

  भक्तपुर ,पौष २९ , आर एन यादव भक्तपुर नगरपालिका हनुमानघाट स्थित त्रिवेणी घाट में  एक महीने मेला पौष २८ गते से शुरु हुआ हैं | यह मेला पौष शुक्ल पूर्णि...

item-thumbnail

“क्यूँ विशेष है पुसमास की पुर्णिमा में कोशी स्नान” : रोशन झा

0 January 12, 2017

  रोशन झा, राजबिराज २०७३/०९/२८ |  हालाकि साल के सभी महिने में एक पुर्णिमा होता है किन्तु पुसमास की पुर्णिमा को विशेष महत्व के साथ लिया जाता है। आखिर क...

item-thumbnail

चरित्र निर्माण मे स्वराजियों का दायित्व : विकास प्रसाद लोध

0 January 8, 2017

विकास प्रसाद लोध, लुम्बनी , ८ जनवरी | किसी ने कहा है “चरित्र निर्माण वच्चे के जन्म से नही वल्कि उसके जन्म के सौ साल पहले से सुरुवात होता है” मधेश और म...

item-thumbnail

पार्वती जी ने शिवजी के एक अंग पर अमृत मला वहीं से भगवान विष्णु प्रकट हुए

0 January 5, 2017

काठमांडू, ५ जनवरी | जिस माह में सूर्य संक्रांति नहीं होती वह मलमास कहलाता है। इन दिनों में कोई भी मांगलिक कार्य करना वर्जित रहता है। परंतु इस दौरान कि...

item-thumbnail

दाङ के हलवारे आचार्य समाज द्वारा जेष्ठ नागरिकों को सम्मान

0 January 4, 2017

नेपालगन्ज (बाके), पवन जायसवाल , पौष २० गते । हलवारे आचार्य समाज दाङ एक विशेष कार्यक्रम के बीच में हलवारे आचार्य वंश के ८० बसन्त पार कर चुके जेष्ठ नागर...

item-thumbnail

जनकपुर में नया साल पर अबतक का सबसे ज्यादा पर्यटक

0 January 2, 2017

कैलास दास, जनकपुर, २ जनवरी । अग्रेजी का नयाँ वर्ष २०१७ के पहला दिन १ जनवरी को जनकपुर में अभी तक का सबसे ज्यादा पर्यटक आने की जानकारी पर्यटन कार्यालय ज...

item-thumbnail

राज्यमंत्री इन्द्र बानियां द्वारा ‘इन्डो–नेपाल सांस्कृतिक और पर्यटन प्रदर्शनी’ का शुभारंभ

0 December 31, 2016

काठमांडू, दिसंबर ३१ । संस्कृति एवं पर्यटन राज्यमंत्री इन्द्र बानियां ने शुक्रबार को काठमांडू के हृदय स्थल टुंड़िखेल के निकट खुले मैदान में आयोजित हो रह...

item-thumbnail

काठमांडू के हृदय स्थल टुंडिखेल में मनाया तमु ल्होसार

0 December 31, 2016

काठमांडू, दिसंबर ३१ । नेपाल के गुरुङ समुदाय ने काठमांडू के टुंडिखेल में नव वर्ष के रूप में ‘तमु ल्होसार’ पर्व मनाया । गुरुङ समुदाय हर साल पौष १५ (दिसं...

item-thumbnail

इण्डो–नेपाल फ्रेण्डशीप इवेन्ट का उद्घाटन

0 December 30, 2016

काठमांडू, दिसंबर ३० । इण्डो–नेपाल फ्रेण्डशीप इवेन्ट का उद्घाटन आज एक विशिष्ट आयोजन में इस समागम का उद्घाटन सुबह ११ बजे काठमांडू के हृदय स्थली भृकुटी म...

item-thumbnail

जनकपुर में धार्मिक पर्यटन की प्रचूर संभावना : विजेता चौधरी

0 December 29, 2016

विजेता चौधरी, जनकपुरधाम, १४ पुस । मिथिला क्षेत्र कहने भर से ही जनकपरधाम का नाम हर किसी की जूवां पर आ जाता है । बहरहाल मिथिला की गरिमा को अपने में संजो...

item-thumbnail

इस वर्ष जनकपुर में पर्यटकों की संख्या में वृद्धि : कैलास दास

0 December 27, 2016

  जनकपुर, पुस १२ । भारतीय राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी, भारत का चर्चित योग गुरु रामदेव बाबा का जनकपुर दर्शन और गत वर्ष प्रधानमन्त्री मोदी का जनकपुर भ्रमण ...

item-thumbnail

गुरु गोबिन्द सिंह एक महान योद्धा, कवि, भक्त एवं आध्यात्मिक नेता

0 December 23, 2016

२३ दिसम्बर गुरु गोबिन्द सिंह सिखों के दसवें गुरु थे। उनका जन्म 22 दिसम्बर 1666 को बिहार के पटना शहर में हुआ था। उनके पिता गुरू तेग बहादुर की मृत्यु के...

item-thumbnail

अवर्णनीय है राम का नाम और राम महिमा ।

0 December 20, 2016

  अवर्णनीय है राम का नाम और राम महिमा । अपरुप के स्वामी हैं राम । जिनके नाम मात्र के ले लेने से जन्म सकारथ हो जाता है । आकर चारि लाख चौरासी। जाति...

item-thumbnail

एक मुखवाला रुद्राक्ष साक्षात् शिव का स्वरूप है

0 December 19, 2016

रुद्राक्ष अनेक प्रकार के बताये गये हैं। ये भेद भोग और मोक्षरूपी फल देने वाले हैं।   एक मुखी : एक मुखवाला रुद्राक्ष साक्षात् शिव का स्वरूप है। वह ...

item-thumbnail

मेरा जन्म क्यों

0 December 18, 2016

रवीन्द्र झा ‘शंकर’ मनुष्य अपनी ओर नहीं देखता कि मेरा जन्म क्यों हुआ है, मुझे क्या करना चाहिये और मैं क्या कर रहा हूँ ? जब तक वह उसपर ध्यान नहीं देता, ...

item-thumbnail

आरुणीपुत्र बाली और सुग्रीव की जन्मकथा

0 December 18, 2016

बाली और सुग्रीव भाई थे बाली बड़ा तो सुग्रीव छोटा बाली की पत्नी तारा और पुत्र अंगद थे सुग्रीव की पत्नी का नाम रूमा था। बाली राजा था दोनों एक दिन एक राक्...

item-thumbnail

विश्व का कल्याण तभी होगा जब स्त्रियों की स्थिति में पूरी तरह से सुधार हो जाएगा : विवेकानन्द

0 December 17, 2016

आध्यात्मिक गुरु स्वामी विवेकानन्द के बारे में वैसे हम सभी काफी कुछ जानते हैं। लेकिन उनके कुछ विचार ऐसे हैं, जिन्हें बहुत कम जानते हैं। तो आइए जानते है...

item-thumbnail

महर्षि व्यास का जन्म नेपाल में स्थित तानहु जिले के दमौली में हुआ था।

0 December 16, 2016

भगवान् वेदव्यास एक अलौकिक शक्ति सम्पन्न महापुरुष थे | इनके पिता का नाम महर्षि पराशर और माता का नाम सत्यवती था| इनका जन्म एक द्वीप के अन्दर हुआ था और व...

item-thumbnail

गायत्री मंत्र को हिन्दू धर्म में सबसे महेत्वपूर्ण मंत्र माना जाता है.

0 December 15, 2016

यह मंत्र हमें ज्ञान प्रदान करता है| इस मंत्र का मतलब है – हे प्रभु, क्रिपा करके हमारी बुद्धि को उजाला प्रदान कीजिये और हमें धर्म का सही रास्ता द...

1 2 3