item-thumbnail

प्रसिद्ध बुद्ध मंदिर गंगटाेक

0 December 15, 2017

टसुक ला-खांग मोनेस्ट्री बुद्ध के मानने वालों के लिए गंगटोक काफी महत्‍वपूर्ण धार्मिक स्‍थल है। यह मठ गंगटोक सिटी से लगभग 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है...

item-thumbnail

बाँके बिहारी के दर्शन से हाेते हैं मनाेरथ पूर्ण

0 December 14, 2017

राधा-कृष्‍ण यानी आत्‍मा और परमात्‍मा। राधा ही एक मात्र ऐसा नाम है जो भगवान श्रीकृष्‍ण के नाम से पहले लिया जाता है। राधेकृष्‍ण! राधा के बिना कृष्‍ण अधू...

item-thumbnail

जैसा खाये अन्न, वैसा बने मन

0 December 14, 2017

रवीन्द्र झा ‘शंकर’ छन्दोग्योपनिषद् में कहा गया है– आहार शुद्ध होने से अन्तःकरण शुद्ध होता है । अन्तस्करण शुद्ध हो जाने से परमात्मा में दृढ़ स्मृति हो ...

item-thumbnail

सफला एकादशी का महत्तव

0 December 13, 2017

13 दिसंबर को सफला एकादशी व्रत को करने वाले को प्रात: स्नान करके, भगवान कि आरती करनी चाहिए और भगवान को भोग लगाना चाहिए। इस दिन भगवान श्री नारायण की पूज...

item-thumbnail

प्रथम रामायण है हनुमद रामायण जिसे स्वयं हनुमान ने नष्ट किया अाखिर क्याें ?

0 December 12, 2017

  प्रभु श्री राम के जीवन पर अनेकों रामायण लिखी गई है जिनमे प्रमुख है वाल्मीकि रामायण, श्री राम चरित मानस, कबंद रामायण (कबंद एक राक्षस का नाम था),...

item-thumbnail

शक्‍ति स्‍वरूपा हैं माता करें शुक्रवार को उनकी पूजा

0 December 8, 2017

देवी मां को शक्ति स्वरूपा माना गया है। कहते हैं कि देवी के विभिन्‍न रूपों की आराधना करने से जीवन में आने वाली हर परेशानी से आपका बचाव होता है। शुक्रवा...

item-thumbnail

ॐ परमात्मा की ध्वनि है

0 December 7, 2017

ओमित्येकाक्षरं ब्रह्म व्याहरन्मामनुस्मरन्। य: प्रयाति त्यजन्देहं स याति परमां गतिम्।। गीता 8/13।। अर्थ: जो ॐ इस एक अक्षर ब्रह्म का उच्चारण कर, मेरा स्...

item-thumbnail

बाबा नीम कराैरी काे हनुमान का दूसरा रुप माना जाता है

0 December 5, 2017

श्रद्धा का केंद्र है कैंची धाम नैनीताल से 38 किमी दूर भवाली के रास्ते में कैंची धाम पड़ता है। बाबा नीब करौरी ने इस स्थान पर 1964 में आश्रम बनाया था। इ...

item-thumbnail

रविवार काे करें इन मंत्राें का जाप

0 December 3, 2017

३दिसम्बर रविवार को सूर्य पूजा में इन पांच मंत्रो का जाप करने से आपको सूर्य के तेज का आर्शिवाद मिलेगा और मानसिक शांति और समृद्धि प्राप्‍त होगी। पहला मं...

item-thumbnail

एेसे करें शनिदेव काे प्रसन्न

0 December 2, 2017

२ दिसम्बर शास्‍त्रों के मुताबिक शनिदेव सूर्य देव और देवी छाया के पुत्र हैं। इनका जन्म ज्येष्ठ मास की अमावस्या हुआ था। शुद्ध मन से प्रत्‍येक शनिवार को ...

item-thumbnail

लक्ष्मी काे पसन्द नहीं तुलसी, उनकी पूजा में तुलसी का प्रयाेग कभी ना करें

0 December 1, 2017

शुक्रवार को देवी के किसी भी रूप की पूजा करना शुभ फलदायक है। बस ध्‍यान रखें किसकी पूजा में क्‍या वर्जित है। इस क्रम में आज जाने लक्ष्‍मीजी के बारे में।...

item-thumbnail

मैं हिन्दू राष्ट्र के पक्ष में हूंः प्रधानमन्त्री

0 November 30, 2017

काठमांंडू, ३० नवम्बर । प्रधानमन्त्री शेरबहादुर देउवा ने कहा है कि वह हिन्दू राष्ट्र के पक्ष में हैं । विश्व हिन्दू महासंघ के पदाधिकारियों के साथ बुधबा...

item-thumbnail

तिलक माथे पर क्याें लगाया जाता है ?

0 November 29, 2017

२९नवम्बर माथे पर क्यों लगाया जाता है तिलक, जानें वैज्ञानिक कारण तिलक हमेशा मस्तिष्क के केंद्र पर लगाया जाता है. तिलक को मस्तिक के केंद्र पर लगाने पीछे...

item-thumbnail

अाज है विनायकी गणेश चतुर्थी 

0 November 22, 2017

२२नवम्बर   क्‍या है विनायकी गणेश चतुर्थी  हिंदू पंचाग के अनुसार हर माह पड़ने वाली शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को विनायकी चतुर्थी कहते हैं। पुराणों बतात...

item-thumbnail

इलाहाबाद का प्रसिद्ध हनुमान मंदिर

0 November 21, 2017

 २१ नवम्बर   इलाहाबाद के इस मंदिर में लेटे हुए हैं हनुमान जी इलाहाबाद में बड़े हनुमान जी के नाम से बने प्रसिद्ध मंदिर में लेटे हुए हुए हैं पवनपुत्र। प...

item-thumbnail

सूर्य को अर्ध्‍य देने का है विशेष महत्‍व

0 November 19, 2017

१९नवम्बर मन की छोटी बड़ी सारी इच्छाएं रविवार सूर्य देव के व्रत करने मात्र से पूरी हो सकती हैं। शास्‍त्रों के अनुसार सूर्य देव का व्रत सबसे श्रेष्ठ मान...

item-thumbnail

शुक्रवार है देवी दुर्गा का दिन

0 November 17, 2017

१७ नवम्बर   शक्‍ति का रंग है लाल इसीलिए देवी दुर्गा की आराधना में लाल रंग का बहुत महत्‍व है। दुर्गा जी की पूजा के लिए ब्रह्म मुहूर्त सबसे श्रेष्‍...

item-thumbnail

हनुमान द्वारा स्थापित शनि म‌ंदिर

0 November 11, 2017

कुछ शनि मंदिर अत्यन्त प्रभावशाली हैं वहां की गई पूजा-अर्चना का शुभ फल प्राप्त होता है। ऐसा ही एक मंदिर है शनिश्चरा मंदिर जो ऐंती में स्थित है। ये शनिश...

item-thumbnail

अाज है भैरवअष्टमी कैसे करें पूजा

0 November 10, 2017

    10 नवंबर को है भैरव अष्टमी, मार्गशीर्ष माह में कृष्ण पक्ष की अष्टमी को काल भैरवाष्टमी के रूप में मनाया जाता है। कहते हैं इसी दिन भगवान म...

item-thumbnail

काशी में है बृहस्पति का मंदिर

0 November 9, 2017

महादेव के घर में बृहस्‍पति को स्‍थान      वाराणसी में दशाश्मेध घाट मार्ग और बाबा विश्वनाथ के निकट ही स्‍थित है गुरु मंदिर। बताते हैं कि ये मंदिर ...

item-thumbnail

बुधवार का दिन हाेता है गणपित का

0 November 8, 2017

८नवम्बर बुधवार का दिन श्रीगणेश की सेवा का दिन माना जाता है। मान्‍यता है कि इस दिन गणपति की पूजा से सभी दैहिक और भातिक कष्‍ट दूर होते हैं। गणपति पूजन क...

item-thumbnail

अाज है अंगारकी चतुर्थी करें, गणेश की पूजा

0 November 7, 2017

७ नवम्बर ह‍िंदू धर्म में दो हर माह में दो चतुर्थी मनाई जाती हैं। ज‍िनमें एक अमावस्या के बाद शुक्ल पक्ष में और दूसरी पूर्णिमा के बाद कृष्ण पक्ष में मना...

item-thumbnail

तुलसी पूजन के समय रखे‌ं इन बाताे‌ं का ध्यान

0 November 6, 2017

६ नवम्बर   बात करेंगे तुलसी के पौधे की। उसके औषधीय गुणों के बारे में तो आपने काफी कुछ पढ़ा होगा, आपको बतायेंगे उसके प्रभाव अपके जीवन पर। तुलसी का...

item-thumbnail

गाेरखनाथ बाबा की खिचडी सबसे पहले नेपाल से जाती है

0 November 5, 2017

५ नवम्बर   आजकल खिचड़ी चर्चा का विषय बनी हुई है। नेताओं से लेकर सोशल मीडिया तक में खिचड़ी पर ही बातें हो रही हैं। नेपाल से आती है सबसे पहली खिचड़...

item-thumbnail

दरबार साहिब-सिख धर्मावलंबियों का पावनतम धार्मिक स्थल : प्राची शाह (यात्रा अमृतसर स्वर्णमंदिर की)

0 November 4, 2017

प्राची शाह, काठमांडू | इसबार दशहरे की छुट्टियों में दिल्ली होते हुए अमृतसर जाने का अवसर मिला एक पारिवारिक यात्रा थी यह जिसने पूरा मनोरंजन दिया हमें । ...

item-thumbnail

कार्तिक पूर्णिमा का महत्तव

0 November 4, 2017

  हिंदू धर्म के अनुसार साल में प्रतिमाह एक पूर्णिमा आती है यानि प्रतिवर्ष 12 पूर्णिमाएं होती हैं। इस में कार्तिक मास में आने वाली पूर्णिमा, कार्त...

item-thumbnail

जब नानक साहब मक्का पहुँचे थे अाैर मुस्लिम भी हाे गए थे मुरीद ।

0 November 4, 2017

जब मक्‍का पहुंचे नानक साहब   कहते हैं कि एक बार सिक्‍खों के प्रथम गुरू श्री नानक देव जी यात्रा करते हुए मक्‍का मदीना पहुंच गए। जब वह मक्का पहुंचे...

item-thumbnail

कार्तिक पूर्णिमा का महत्तव

0 November 2, 2017

२ नवम्बर कार्तिक पूर्णिमा या त्रिपुरी पूर्णिमा कहा जाता है। शिव के इस त्‍योहार से जुड़ी कई कथायें हैं। जाने कार्तिकेय का क्‍या है रिश्‍ता। हर माह होती...

item-thumbnail

घर मे‌ं अगर मंदिर है ताे ये सावधानियाँ रखे‌ं

0 November 1, 2017

    गणेश जी की मूर्तियां: घर के मंदिर में गणेश जी की तीन मूर्तियां नहीं रखनी चाहि‍ए। एक से ज्यादा शंख:  घर के मंदिर में एक से ज्यादा शंख नही...

item-thumbnail

हरि प्रबोधिनी (देवउठनी) एकादशी 2017 : आचार्य राधाकान्त शास्त्री

0 October 30, 2017

इस वर्ष यह व्रत मंगलवार दिनांक 31 अक्टूबर 2017 को पूर्वाभाद्रपद नक्षत्र में होने से विशेष रूप से मनाई जाएगी और पारणा 1 अक्टूबर बुधवार को उत्तराभाद्रपद...

item-thumbnail

उगते सूर्य को अर्घ्य देने के साथ संपन्न हुआ महापर्व छठ

0 October 27, 2017

लोक आस्था का महापर्व छठ शुक्रवार की सुबह उदीयमान सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही संपन्न हो गया. छठ पर्व के चौथे और अंतिम दिन व्रती और श्रद्धालु अपने पर...

item-thumbnail

उदीयमान सूर्य काे अर्ध्य देने का सही समय अाैर तरीका

0 October 27, 2017

२७ अक्टुवर उदयीमान सूर्य को अर्घ्‍य  कार्तिक शुक्ल की चतुर्थी को ‘नहाए-खाए’  से छठ पूजा शुरू होती है। पंचमी को खरना और षष्ठी के दि‍न शाम क...

item-thumbnail

छठ व्रत का इतिहास : अंशु झा

0 October 26, 2017

छठ केवल एक पर्व ही नहीं है बल्कि महापर्व है जो कुल चार दिन तक चलता है । नहाय–खाय से लेकर उगते हुए भगवान सूर्य को अघ्र्य देने तक चलने वाले इस पर्व का अ...

item-thumbnail

अस्ताचलगामी सूर्य काे अाज दिया जाएगा संध्या अर्ध्य

0 October 26, 2017

२६ अक्टुवर नहाय खाय के साथ शुरू हुए छठ पर्व के दूसरे दिन खरना हुआ। इसमें दिनभर व्रत रखने के बाद बुधवार रात को व्रतियों ने छठी मैया को प्रसाद अर्पित कर...

item-thumbnail

छठ पर्व 2017, छठ व्रत कथा और विधि : आचार्य राधाकान्त शास्त्री

0 October 25, 2017

छठ पर्व 2017 :- भगवान सूर्यदेव के प्रति भक्तों के अटल आस्था का अनूठा पर्व छठ कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष के चतुर्थी से सप्तमी तिथि तक मनाया जाता है। इस ...

item-thumbnail

छठ की महत्ता जुडी है रामायण अाैर महाभारतकाल से । नहाय खाय के साथअाज से शुरू हाे रहा है महापर्व छठ

0 October 24, 2017

  भगवान श्रीराम ने की थी पूजा इस महापर्व को लेकर मान्‍यता है क‍ि छठ पूजा रामायण काल से होती आ रही है। जब भगवान राम अपना वनवास पूरा कर अयोध्‍या लौ...

item-thumbnail

छठ व्रत का प्रारम्भ मंगलवार होगा नहाय खाय

0 October 23, 2017

२३ अक्टुवर छठ पूजा व्रत चार दिन तक चलता है। मंगलवार को नहाय खाय होगा, जिसके तहत महिलाएं सुबह स्नान करके अरबा चावल, चने की दाल व लौकी की सब्जी खाती हैं...

item-thumbnail

विनायक चतुर्थी की कथा, अाज है विनायक चतुर्थी

0 October 23, 2017

२३अक्टुवर   विनायक चतुर्थी उपवास देवी-देवताओं में सर्वप्रथम पूज्‍यनीय भगवान गणेश की पूजा हमेशा ही होती है लेकिन  विनायक चतुर्थी का दिन ज्‍यादा शु...

item-thumbnail

छठ महापर्व : यह मैसेज देता है कि सूरज किसी एक का नहीं है,यह हम सबका है, हर जाति का है, हर धर्म का है

0 October 22, 2017

लोक आस्था के महापर्व ‘छठ’ का हिंदू धर्म में अलग महत्व है। यह एकमात्र ऐसा पर्व है जिसमें ना केवल उदयाचल सूर्य की पूजा की जाती है बल्कि अस्त...

item-thumbnail

चमत्कारी है हनुमान चालीसा का पाठ

0 October 22, 2017

२२ अक्टुवर     हनुमान चालीसा को महान कवि तुलसीदास जी ने लिखा था। वह भी भगवान राम के बड़े भक्त थे और हनुमान जी को बहुत मानते थे। इसमें 40 छंद...

item-thumbnail

आज भाईटिका, ११ः५४ में शुभ साइत, ८ बजे से पहले लगाया गया टिका अशुभ

0 October 21, 2017

हिमालिनी डेस्क काठमांडू, २१ अक्टूबर । नेपालीयों के दुसरे बड़े त्योहार तिहार अंतर्गत आज भाइ टिका पूजा करेंगें । आज के दिन भाइ बहन के प्रेम के प्रतिक मा...

item-thumbnail

अाज है भैयादूज, बहनें माँगती हैं भाइ के लम्बी उम्र की दुअा

0 October 21, 2017

द‍िवाली के बाद द्वितीया त‍िथ‍ि को भैया दूज का पर्व मनाया जाता है। मान्‍यता है क‍ि इसी द‍िन यमराज लंबे समय से म‍िलने को व्‍याकुल बहन यमुना से म‍िलने पह...

item-thumbnail

तरार्ई मधेश में हर्षोउल्लास के साथ मनाया गोवद्र्धन पूजा

0 October 20, 2017

हिमालिनी डेस्क काठमांडू, २० अक्टूबर । तिहार के चौथे दिन मिथिला समेत तराई मधेश के जिÞलों में भी आज गोवद्र्धन पूजा के साथ हि हुररा हुररी पर्व हर्षोउल्ला...

item-thumbnail

भाई बहन के पवित्र प्रेम का प्रतीक भाई दुज : कैसे मनाएं बहनें भैया दूज ?

0 October 20, 2017

पंच पर्व महोत्सव दीवाली का पांचवां पर्व भैया दूज है जिसे यम द्वितीया भी कहा जाता है। यह भाई बहन के पवित्र प्रेम का प्रतीक है तथा देश भर में बड़े सौहार...

item-thumbnail

क्याें मनाया जाता है गाेवर्धन पूजा ?

0 October 20, 2017

२० अक्टूवर   हर साल कार्तिक माह की प्रतिपदा को मनाया जाने वाला गोर्वधन पूजा का उत्‍सव श्री कृष्‍ण के द्वारा गोवर्धन पर्वत को अपनी छोटी उंगली पर उ...

item-thumbnail

लक्ष्मी की पूजा अराधना कर घर घर में श्रद्धा भक्तिपूर्वक मनाया दिपावली पर्व

0 October 19, 2017

हिमालिनी डेस्क काठमांडू, १९ अक्टूबर । तिहार के तीसरे दिन आज शाम ऐश्वर, धनधान्य और संपन्नता की देवी माँ लक्ष्मी की पूजा अराधना कर घर घर में श्रद्धा भक्...

item-thumbnail

इस तरह करें गणेश लक्ष्मी की पूजा धन धान्य से हाेंगे सम्पन्न

0 October 19, 2017

१९ अक्टुवर   व‍िष्‍णु जी और सरस्‍वती  द‍िवाली के द‍िन सर्वप्रथम पूज्‍यनीय गणेश जी, कुबेर और माता लक्ष्‍मी की वि‍धि‍व‍िधान से पूजा करने से घर में ...

item-thumbnail

सुंदर रंगों से अपने घरों में रंगोली मनाते हैं, जानिए कारण

0 October 19, 2017

१९ अक्टूबर को हिंदुओं के प्रमुख त्योहारों में से एक दिवाली का पर्व है, दिवाली पर अगर लोग दिए जलाते हैं तो वहीं हर घर के आंगन और मुख्य द्वार पर रंगोली ...

item-thumbnail

जानिए लक्ष्मी-गणेश पूजा का मुहूर्त और समय

0 October 18, 2017

 19 अक्टूबर को दिवाली है, जिसके लिए घरों में तैयारियां जोरों पर हैं। लोग बाजारों में जमकर सामान खरीद रहे हैं। ‘दिवाली’ संस्कृत के दो शब्दो...

item-thumbnail

अाज है नरक चतुर्दशी, जानें इसका महत्तव

0 October 18, 2017

१८ अक्टुवर द‍िवाली के एक दिन पहले यानी क‍ि अाज 18 अक्‍टूबर को नरक चतुर्दशी है। इसे नर्क चतुर्दशी, नर्का पूजा और छोटी द‍िवाली के नाम से भी जाना जाता है...

item-thumbnail

धनतेरस पर क्या खरीदें क्या ना खरीदें

0 October 17, 2017

१७ अक्टुवर धनतेरस पर खरीदते हैं ये चीजें धनतेरस देवी लक्ष्‍मी की आराधना होती है जो धन की देवी हैं। इस दिन देवी को प्रसन्‍न करने के लिए नए कपड़ों और जे...

item-thumbnail

धनतेरस के दिन लक्ष्मी गणेश कुबेर के पूजन के साथ साथ मृत्यु के देवता यम के पूजा का भी विधान है

0 October 16, 2017

धनआचार्य राधाकान्त शास्त्री, धतेरस 2017 :- यह पर्व प्रति वर्ष कार्तिक मास के कृष्णपक्ष की त्रयोदशी तिथि को मनाया जाता है । धनतेरस के दिन धन्वन्तरी देव...

item-thumbnail

गाय में तीर्थ,अाज है गोवत्‍स द्वादशी, जानिए इसकी महत्ता

0 October 16, 2017

१६ अक्टूवर   ह‍िंदू धर्म में कार्तिक मास की शुक्ल पक्ष की द्वादशी को गोवत्‍स द्वादशी कहते हैं। इस द‍िन को गोवत्‍स द्वादशी के अलावा बच्छ दुआ और बछ...

item-thumbnail

रमा एकादशी का महत्तव

0 October 15, 2017

१५ अक्टुवर रमा एकादशी एकादशी मनुष्‍यों को कर्मो से मुक्ति देती है। प्रति वर्ष 24 एकादशी आती है। ज‍िस वर्ष अधिक मास होता है उस वर्ष 26 एकादशी होती हैं।...

item-thumbnail

क्याें खरीदा जाता है धनतेरस पर बर्तन ?

0 October 13, 2017

१३ अक्टुबर   कार्तिक कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि के दिन ही भगवान धनवंतरी का जन्म हुआ था, इसलिए इस तिथि को धन त्रयोदशी या धनतेरस के रूप में जाना ज...

item-thumbnail

अाज है अहाेइ अष्टमी व्रत

0 October 12, 2017

१२ अक्टुबर ह‍िंदू धर्म में माताओं द्वारा पुत्रों के ल‍िए अहोई अष्‍टमी का व्रत क‍िया जाता है। यह व्रत अश्‍वि‍न माह की कृष्‍ण पक्ष की अष्‍टमी के द‍िन हो...

item-thumbnail

लक्ष्मी के साथ गणेश की पूजा क्यों होती है ? दीपावली २०१७

0 October 11, 2017

लक्ष्मी की अधिकता होने पर अक्सर लोग विवेक खो देते है और धन का दुरूप्रयोग करने लगते है। धन का सद्पयोग हो, विकास हो, परोपकार हो इसके लिए सद्बुद्धि का हो...

item-thumbnail

बुजुर्गों के प्रति श्रद्धा और सम्मान भाव रखना सबसे बड़ा तर्पण : मधु सिंह

0 October 10, 2017

मधु सिंह हमें सदैव ही अपने बुजुर्गों के प्रति श्रद्धा और सम्मान भाव रखना चाहिए वो भी तब जब वो जीवित हों । और हमारी समझ से एक जिन्दा इंसान जितना आर्शिब...

item-thumbnail

करवा चौथ पूजा का मूर्हूत : आचार्य राधाकान्त शास्त्री

0 October 8, 2017

करवा चौथ मूर्हूत वह सटीक समय होता है जिसके भीतर ही पूजा करनी होती है। 8 अक्टूबर रविवार को करवा चौथ पूजा के लिए पूरी अवधि 1 घंटे और 14 मिनट है। करवा चौ...

item-thumbnail

शरद पूर्णिमा को कोजागरी पूर्णिमा कहने के पीछे भी एक कथा है : आचार्य राधाकान्त शास्त्री

0 October 5, 2017

शरद पूर्णिमा :- शास्त्रों के अनुसार आश्विन मास की पूर्णिमा को शरद पूर्णिमा के नाम से जाना जाता है। इस वर्ष 2017 में शरद पूर्णिमा 05 अक्टूबर गुरुवार को...

item-thumbnail

राप्रपाद्वारा चुनाव के साथ हिन्दु राष्ट्र के बारे में जनमत संग्रह करान की माँग

0 October 4, 2017

हिमालिनी डेस्क काठमांडू, ४ अक्टूबर । राष्ट्रीय प्रजातंत्र पार्टी ने आगामी मार्गशीर्ष के चुनाव के साथ ही हिंदू राष्ट्र के बारे में जनमत संग्रह कराने की...

item-thumbnail

आप भी जानिये भगवान शिव ने तीसरी आंख कहां खोली थी ?

0 October 4, 2017

शास्त्रों के अनुसार भगवान शिव को त्रिदेव माना जाता है। भस्म, नाग, मृग चर्म, रुद्राक्ष आदि भगवान शिव की वेष- भूषा व आभूषण हैं। इन्हें संहार का देव भी म...

1 2 3 6