Thu. May 23rd, 2019

अदालत की गरिमा बढे, वैसा काम होना चाहिएः मुख्यमंत्री पौडेल

९ मई, हेटौंडा । प्रदेश नं. ३ का मुख्यमन्त्री डोरमणि पौडेल ने कहा कि न्याय देते हुये क्रम में संस्था की गरिमा को संकट में न डालते हुये फैसला करना चाहिये । उन्होंने कहा कि विगत के फैसले से सबक लेकर अदालत की गरिमा के ऊपर किसी प्रकार का आंच नहीं आये वैसा फैसला करना चाहिये ।
प्रदेश ३ के आन्तरिक मामिला तथा कानून मन्त्रालय ने आज गुरुवार ले कानून दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधन करते हुये मुख्यमन्त्री पौडेल ने कहा कि न्यायमूर्ति को चेहरा देखकर नहीं निर्मम ढंग से फैसला करना चाहिये ।
उन्होंने कहा कि न्यायालय में सभी का समान पहुंच होने पर ही सही न्याय मिल सकता है । उन्होंने बताया कि प्रदेश में कानून निर्माण जल्द होने के लिये सरकार को गति बढानी होगी ।
कार्यक्रम में उच्च अदालत पाटन हेटौंडा इजलास का मुख्य न्यायाधीश पुष्पराज कोइराला, हेटौंडा उपमहानगरपालिका की उपमेयर मीनाकुमारी लामा लगायत जनता के न्यायलय में सहज पहुँच के लिये कानून निर्माण पर जोड दिये ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of