Thu. Nov 15th, 2018

अमेरिकन दुतावास व्दारा जनकपुर मे छात्रों को प्रशिक्षण

DSC00843 DSC00848कैलास दास ,जनकपुर, चैत्र २६ । अमेरिका सरकार ने नेपाली छात्रों को विभिन्न विश्वविद्यालय में अध्ययन के लिए प्रवेशाज्ञा दी है । उसी सन्दर्भ में अमेरिकन एम्बेसी द्वारा जनकपुर के गौरी क्याम्पस में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया ।  कार्यक्रम में अमेरिकन दुताबास के भ्याईस कान्सुलर सोनिया लाल ने कहा कि अमेरिका में अध्ययन करने वाले ईच्छुक विद्यार्थी को किस प्रकार की प्रक्रिया अपनाया जाता है उसके बारे मे बुधवार को यहाँ जानकारी दी गयी है ।

उन्होने यह भी कहा कि अमेरिका में जाने के लिए भीसा की मागं करनेवालों मे  दैनिक ५० प्रतिशत व्यक्ति केवल अध्ययन के लिए ही आतें हैं । उन्होने छात्रों को प्रत्यक्ष रुप में खुद से ही फार्म भरने के लिए आग्रह भी कीया है । दलाल संस्था के मार्फत गलत विवरण देने पर कभी भी अमेरिका का भीसा नही दिया जाऐगा । उन्होने डिभी लौट्री के बारे में भी जानकारी कराया । गत वर्ष ३ लाख नेपाली मे से ३ हजार ४ सौ को डिभी पडा था । जिन्हे डिभी पडा उनलोगों को अमेरिका में ठहरने के लिए ग्रीनकार्ड लेने और रोजगारी स्वयं खोजना परेगा । उन्होने यह भी कहा कि उच्च स्तरीय शिक्षा हासिल करने के लिए यहाँ से जो भी विद्यार्थी जाते है वह वहाँ पर काम नही कर सकते है । वैसे ज्यादा से ज्यादा २ घण्टा काम कर सकेत है । अमेरिका में पढने के लिए ज्यादा से ज्यादा अंक लाना होगा । उतनाही नही वहाँ पर मासिक ८ सौ डलर से १४ सौ डलर तक खर्च होता है ।
कान्सुल लाल के अनुसार अमेरिका में रोजागरी के अवसर नेपालीयों के लिए है उन्हे किसी प्रकार की असुरक्षा नही होगी यह उन्होने दावी भी कीया । इसतरह अमेरिका की दिलचस्पी अब तराई पर पड रही है । अमेरिका के नामपर लोग आकर्शित भी हो रहें हैं ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of