Fri. Nov 16th, 2018

आयल निमग मासिक ६० करोड घाटा में

काठमांडू, १८ अगस्त । नेपाल आयल निगम ने कहा है कि निगम मासिक ६० करोड घाटा में पड़ गया है । निगम स्रोत के अनुसार अमेरिकी डॉलर की मूल्य में वृद्धि होने के कारण उल्लेखित घाटा हो रही है । कहा जाता है कि डलर की विनियम दर में एक रुपयां प्रति ड‘ालर वृद्धि होने से भी मासिक १५ करोड अतिरिक्त भार निगम को पड़ जाता है ।
स्मरणीय है, अन्तर्राष्ट्रीय बाजार मूल्य अनुसार निगम मूल्य समायोजन कर रहा है, लेकिन डॉलर की मूल्य में निरन्तर वृद्धि होने के कारण मासिक ६० करोड अतिरिक्त भार निगम को पड़ गया है, यह जानकारी गिनम के प्रवक्ता वीरेन्द्र गोइत ने दी है । पछिले दो महिना में डॉलर की नेपाली विनियमदर ४ डॉलर में वृद्धि हो गई है ।
पिछली बार अमेरिकी डॉलर के तुलना में भारतीय मुद्रा और नेपाली मुद्रा निरन्तर कमजोर होता जा रहा है । डॉलर की मूल्य वृद्धि होने के कारण भारतीय आयल कर्पोरेशन (आईओसी) ने भी मूल्य समायोजन किया है । मूल्य समायोजन के बाद आईओसी से प्राप्त पत्र अनुसार निगम को १५ दिन में २५ करोड़ घाटा हो गई है । प्रवक्ता गोइत के अनुसार डिजल में प्रतिलिटर २ रुपयां ३६ पैसा, एल.पी. ग्यास मे प्रतिसिलिण्डर २८० रुपयां ६४ पैसा घाटा है । हवाई इन्धन में कुछ मुनाफा है । कूल कारोबारों में से ८० प्रतिशत हिंसा डिजेल का है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of