Mon. Nov 19th, 2018

आरजेडी अध्यक्ष के पुत्र तेजप्रताप ने कोर्ट में दी पत्नी ऐश्वर्या से तलाक की अर्जी, लालू परिवार में मचा घमासान

फाइल फोटो

{हिमालिनी के लिए मधुरेश प्रियदर्शी की रिपोर्ट} पटना। बिहार में बड़ी खबर राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष व पूर्व सीएम लालू प्रसाद यादव के परिवार से आ रही है. पूर्व सीएम श्री प्रसाद के बड़े पुत्र व सूबे के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव ने पटना सिविल कोर्ट में अपनी पत्नी ऐश्वर्या से तलाक की अर्जी दी है. परिवार न्यायालय के प्रधान न्यायाधीश उमाशंकर द्विवेदी की अदालत में तलाक की अर्जी दायर हुई है.

अदालत में हिंदू मैरिज एक्ट की धारा 13 A के तहत तलाक की अर्जी दाखिल की गई है. इस धारा में पति या पत्नी कोई भी एकतरफा तलाक के लिए आवेदन दे सकता है. अदालत ने इस अर्जी को सूचीबद्ध करते हुए केस नंबर 1208/2018 देते हुए इस मामले की अगली सुनवाई की तारीख 29 नवंबर मुकर्रर की है. दर्ज केस के मुताबिक तेजप्रताप ने अर्जी दी है कि वो अब अपनी पत्नी एेश्वर्या के साथ नहीं रहना चाहते इसलिए तलाक चाहते हैं. हालांकि इस मामले में लालू प्रसाद के परिवार का कोई भी सदस्य कुछ नहीं बोल रहा है. अर्जी दायर करने के बाद तेजप्रताप ने इस संबंध में मीडिया से बातचीत की है.

घुट-घुटकर नहीं जी सकता…….

गया में तेजप्रताप ने संवाददाताओं से बात करते हुए कहा कि मैं तलाक लेना चाहता हूं और ये मेरा निजी फैसला है. ऐश्वर्या हाई सोसाइटी की हैं और हमारा उनका मेल नहीं खाता. तेज ने कहा कि कमान से तीर निकल चुका है तो अंजाम तक पहुंचेगा. ये बात झूठ है कि मैं ऐश्वर्या को बचपन से जानता हूं. तेजप्रताप ने कहा है कि वे ऐश्वर्या राय के साथ नहीं रहना चाहते हैं. हम दोनों में तालमेल नहीं है, ऐसे में कोर्ट तलाक की अनुमति दे. उन्होंने कहा कि इस खबर से किसी तरह की हायतौबा मचाने की जरुरत नहीं है. उन्होंने कहा कि घुट-घुटकर तो जिया नहीं जा सकता है. मैंने अर्जी दी है और इस केस को लड़ूंगा.

राधा नहीं है ऐश्‍वर्या……..

तेजप्रताप ने प्रताड़ना का आरोप लगाया है. उन्‍होंने कहा है कि वह मानसिक रूप से परेशान हैं. उन्‍होंने यहां तक कहा कि वह कृष्‍ण की तरह रहना चाहते हैं, लेकिन ऐश्‍वर्या राधा नहीं बन पाईं. उन्‍होंने यहां तक कहा कि उन्‍हें जिस राधा की तलाश है, वह ऐश्‍वर्या नहीं हैं.

पिता से मिलने रांची गए तेजप्रताप……..

तेज प्रताप गया से शनिवार को रांची के लिए रवाना हो गए हैं. वे रिम्स अस्पताल में भर्ती अपने पिता लालू प्रसाद यादव से मुलाकात करेंगे. कहा जा रहा है कि इन सब खबरों के बाद रातभर लालू ठीक से सो नहीं सके और उनकी तबीयत भी ठीक नहीं है. वे गहरे सदमे में चले गये हैं.

तीन महिने से दोनों के बीच बातचीत थी बंद………

लालू प्रसाद के पारिवारिक सूत्रों के मुताबिक तेजप्रताप और एेश्वर्या राय के बीच पिछले तीन महीने से बातचीत बंद थी और दोनों अलग-अलग रह रहे थे. एेश्वर्या अपने पिता के घर में रह रही थीं तो वहीं तेजप्रताप कभी युवा राजद की रैली तो कभी लोगों के बीच सत्तू पार्टी कर रहे थे. वे मथुरा-वृंदावन घूम रहे थे. इसके बाद ये तलाक की अर्जी तेजप्रताप ने कोर्ट में दाखिल की है.

पेंटिंग प्रदर्शनी का उद्घाटन किया…….

एेश्वर्या ने शुक्रवार को पटना के भारतीय नृत्य कला मंदिर में महिलाओं के जीवन संघर्ष पर आधारित एक पेंटिंग प्रदर्शनी का उद्घाटन किया. इसी दौरान तेजप्रताप द्वारा तलाक की अर्जी कोर्ट में दिए जाने की खबर वायरल होने लगी. इस समारोह में तेज प्रताप यादव को भी आमंत्रित किया गया था. प्रदर्शनी में करीब आधे घंटे तक मौजूद रहीं ऐश्वर्या काफी गुमसुम रहीं. इस दौरान जब लोगों ने एेश्वर्या से बात करने की कोशिश की तो उन्होंने इनकार कर दिया.

इसी साल 12 मई को हुई थी शादी……

आपको बता दें कि तेज प्रताप की शादी इसी साल 12 मई को हुई थी.तेज प्रताप और ऐश्वर्या की शादी पटना के वेटरनरी कॉलेज मैदान में आयोजित की गई थी. ऐश्वर्या सारण की परसा सीट से आरजेडी विधायक व पूर्व मंत्री चंद्रिका राय की बेटी हैं. उनके दादा स्व.दारोगा प्रसाद राय बिहार के मुख्यमंत्री रहे हैं.
लंबे समय से चारा घोटाले में जेल में बंद आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को शादी के अवसर पर परोल के साथ उनके स्वास्थ्य के आधार पर जमानत भी मिली थी. लालू यादव ने शादी से एक दिन पहले मिली जमानत के बाद बहू ऐश्वर्या को फोन कर अपने के लिए भाग्यशाली बताया था.

तेज प्रताप और ऐश्वर्या की शादी में देश के बड़े राजनेताओं ने शिरकत की थी. आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप की शादी में शरीक होने के लिए उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पत्नी डिंपल यादव के साथ पटना पहुंचे थे तो वहीं बिहार के सीएम नीतीश कुमार भी लालू और राबड़ी की बहू को आशीर्वाद देने पहुंचे थे. इस हाईप्रोफाइल शादी में डॉक्टर सीपी ठाकुर और शरद यादव जैसे नेताओं ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज करायी थी.
अब देखना है कि पूर्व मंत्री तेजप्रताप के इस मामले में कोर्ट क्या फैसला देता है और राजद की राजनीति पर इस शादी के टूटने का कितना असर पड़ता है. खैर यह तो आने वाला समय ही बताएगा.

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of