Sat. Oct 20th, 2018

एक ऐसी गांवपालिका, जहां पहुँच कर सेवा प्राप्ती के लिए ३ दिन लगती है

म्याग्दी, २२ अप्रिल । चुनाव के समय में हमारे नेता लोग कहते थे कि ‘गांव–गांव में सिंहदरबार’ । सरकारी सेवा–सुविधा सहज प्राप्ति को दृष्टिगत करते हुए नेताओं ने ऐसी नारा तो आगे लया, लेकिन हकिकत कुछ और ही है । उदाहरण के लिए म्याग्दी जिला स्थित बाबियाचौर अन्नपूर्ण गांवपालिका को ले सकते हैं । जहां गांवपालिका में जाकर सरकारी सेवा सुविधा लेने के लिए तीन दिन लगता है ।
बाबियाचौर अन्नपूर्ण गांवपालिका–८ राम्चे निवासी स्थानीय बासियों को गांवपालिका कार्यलय (केन्द्र) पहुँच कर सेवा लेने के लिए दिक्कत हो रही है । यातायात और सडक सुविधा न होने के कारण स्थानीबासी सरकारी सेवा–सुविधा से बंचित होना पड़ता है । जिसको अनिवार्य लेना है तो कष्टपूर्ण यात्रा के लिए बाध्य हैं । ऐसी ही हालत हैं वडा नं. ६ के पोखरेबगर गांव का भी । यहां के निवासी गांवपालिका कार्यालय पहुँचने के लिए पर्वत जिला स्थित जलजला होकर सदरमुकाम बेनी तक पहुँचते हैं । नागी निवासी जसमाया पुर्जा के अनुसार उसके बाद रघुगंगा गांवपालिका होते हुए पोखरेबगर पहुँच ने के लिए पूरे एक दिन लगता है ।
पुर्जा कहती है कि गांवपालिका पहुँच कर सरकारी सेवा–सुविधा प्राप्ति के लिए भौतिक दुःख–कष्ट तो झेलना ही पड़ता है, आर्थिक रुप में भी दिक्कत हो रही है । नागी सडक मर्मत के लिए उपभोक्ता समिति की पदाधिकारी भी रहे पुर्जा ने कहा कि गांवपालिका पहुँचकर घर वापस होने के लिए पूरे दिन दिन लगता है । बाबियाचौर अन्नपूर्ण गांवपालिका–६ में कूल ४२० घर धूरी है । लेकिन नागी, थावन, राम्चे, काफलडाँडा, धारापानी के अलवा अन्य बस्ती सडक संजाल से जुड़ा नहीं है । राम्चे निवासी फसबहादुर गर्बुजा का कहना है कि गांवपालिका केन्द्र पहुँच कर घर वापस होेने के लिए २०–२५ हजार आवश्यक पड़ता है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of