Sun. Nov 18th, 2018

कंकालिनी मंदिर में ६३२ भैंसा बलि प्रदान, युवाओं ने किया मंदिर सर-सफाई

हिमालिनी डेस्क, सप्तरी ।अक्टूबर २१, रविवार।
सप्तरी भारदह अवस्थित प्रसिद्ध शक्तिपीठ कंकालिनी भगवती मंदिर में दशहरा विशेष पूजा में ६३२ भैंसें का बलि प्रदान हुआ है। दशहरा विशेष पूजा के दौरान प्रत्येक वर्ष महानवमि तिथी को यहाँ पर सैंकड़ों भैंसा बलि प्रदान के लिए भक्तजन लेकर आते हैं। किन्तु इसबार ऐतिहासिक रूप में सैंकड़ों भैंसा की संख्या में बढ़ोतरी हुई हैं।


मान्यता है कि सच्चे मन से भक्तजनों के द्वारा माँ कंकालिनी भगवती से मांगी गई सभी मन्नतें पूरी होती है और तब जाकर भक्तजन भैंसा चढाने के लिए आते हैं।
पिछले साल यहां पर ४३७ भैंसा और ६५०० के करीब खशी छागर बलि प्रदान हुआ था, किन्तु इस बार ६३२ भैंसा और ६७०० से अधिक खशी छागर बलि प्रदान हुआ है। नेपाल और भारत दोनों देशों के लोग यहां पर भैंसा खसी छागर चढ़ाने के लिए आए हुए थे। दशहरा विशेष पूजा २०७५ में मंदिर को २१ लाख के आसपास आमदनी हुई है दशहरे के दौरान माता रानी की दर्शन पूजन के लिए लाखों भक्तजनों की भिड़ मंदिर में लगी हुई थी


दशहरा विशेष पूजा के दौरान हुई गन्दगी को स्थानीय युवाओं ने २० अक्टूबर को निःशुल्क सरसफाई किया । मंदिर विकास समिति के सहयोग सहकार्य में ३ दर्जन से अधिक युवाओं मंदिर परिसर सफाई किया और गन्दगी कुडा कचड़ा को मानव बस्ती में दुर जंगल में विस्थापित किया गया। मंदिर विकास समिति ने सहयोगी सभी ग्रामवासियों स्वयं सेवक प्रहरी प्रशासन लगायत सभी भक्तजनों को दिपावली और छठ पूजा की शुभकामना सहित धन्यवाद अर्पण करते हुए आभार प्रकट किया।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of