Tue. Sep 25th, 2018

काशी में है बृहस्पति का मंदिर

महादेव के घर में बृहस्‍पति को स्‍थान

 

  

वाराणसी में दशाश्मेध घाट मार्ग और बाबा विश्वनाथ के निकट ही स्‍थित है गुरु मंदिर। बताते हैं कि ये मंदिर अति प्राचीन है। इसके महात्‍मय के चलते इस वृहस्पति मंदिर भक्तों का ताता लगा रहता है। काशी शिवशंकर का निवास स्‍थान बताया जाता है और वहीं पर बृहस्‍पति गुरू के मंदिर को भी स्‍थापित किया गया था। ये मंदिर काशी के सभी मंदिरों से सर्वोच्‍च स्‍थान पर स्‍थापित है।

 

स्‍वयं शिव ने दिया स्‍थान 

स्‍थानीय जानकारों की मानें तो पौराणिक कथा है कि जब महादेव ने काशी को अपनी राजधानी बनाया तब अनेक देवता भी यहां वास करने की इच्‍छा जताने लगे। सभी ने महादेव से अपने लिए स्थान का अनुरोध किया। तब भोलेनाथ ने निश्‍चय किया कि वे भगवान वृहस्पति को जो सभी देवों के गुरु है, को अपने निकट स्‍थान देंगे। महादेव ने काशी विश्वनाथ मंदिर से कुछ ही दूर पर उनको स्थान देने का निर्णय करते हुए उन्‍हें देवों में सर्वोच्च मानकर और नौ ग्रहों में सर्वश्रेष्‍ठ होने के चलते उनका मंदिर सभी से ऊंचा बनवाया।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of