Wed. Oct 17th, 2018

किसी भी तरह का एकाधिकार सरकार को स्वीकार नहीं होगाः प्रधानमंत्री ओली


हिमालिनी डेस्क
काठमांडू, २१ सेप्टेम्बर ।
प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने कहा – “देश की समृद्धि के लिए निर्माण और उत्पादन को साथ–साथ आगे बढ़ाना है, इसलिए किसी भी तरह का एकाधिकार सरकार को स्वीकार नहीं होगा ।”

काठमांडू में नेपाल निर्माण व्यवसायी महासंघ की २० वीं वार्षिक साधारणसभा का उद्घाटन करते हुए प्रधानमंत्री ओली ने ये बात कही ।

उन्होंने कहा कि काम को समय पर पूरा न करने की ठोस वजह होने पर समझौता सीमा को बढ़ाया जा सकता है मगर क्षमता से ज्यादा काम लेकर समय पर काम न करने वाली कंपनियों के लिए बार समय नहीं बढ़ाया जा सकता ।

सार्क क्षेत्र के किसान संबंधी सम्मेलन में प्रधानमंत्री ओली ने कहा कि किसानों की आय को बढ़ाने के लिए आधुनिक प्रविधि के प्रयोग और उत्पादन पर जोर देना होगा ।

इसीतरह, प्रतिनिधिसभा की बैठक ने शांति विश्वविद्यालय की स्थापना करने संबंधी अंतरराष्ट्रीय समझौता के ऊपर विचार–विमर्श करने के प्रस्ताव को सर्वसम्मति से स्वीकृत किया है ।

ये प्रस्ताव बैठक में परराष्ट्रमंत्री प्रदीप कुमार ज्ञवाली की ओर से गृहमंत्री रामबहादुर थापा ने पेश किया था । बैठक ने प्रतिनिधिसभा और राष्ट्रीय सभा अंतर्गत की संयुक्त समिति के सभापति का निर्वाचन आश्विन ७ गते के लिए निर्धारित किया है ।

इससे पूर्व बैठक में सांसदों ने समसामयिक विषयों में सरकार का ध्यानाकर्षण कराया था । प्रतिनिधिसभा की अगली बैठक आने वाले मंगलवार दोपहर २ बजे के लिए बुलाई गई है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of