Tue. Sep 25th, 2018

खर्च कटौती प्रस्ताव अस्वीकार

काठमांडू, ३० जून । प्रतिनिधिसभा ने आर्थिक वर्ष २०७५–०७६ के लिए प्रस्तुत बजट संबंधी विनियोजन विधेयक पारित किया है । विनियोजन विधेयक पारित होने के बाद अब संघीय सरकार को संचित कोष से रकम खर्च करने की अधिकार है । लेकिन विनियोजन विधेयक पारित होने से पहले प्रस्तुत खर्च कटौती संबंधी प्रस्ताव को सांसदों ने बहुमत से अस्वीकार किया है ।
विधेयक पारित करने से पहले विभिन्न मन्त्रालय में हो रहे अनावश्यक खर्च कटौती लगायत विभिन्न मांग के साथ २२ सांसदों ने प्रस्ताव किया था । लेकिन उन लोगों की सभी प्रस्ताव को संसद् की बहुमत सांसदों ने अस्वीकार किया है । जिसके चलते उक्त प्रस्ताव पारित नहीं हो सका । खर्च कटौती प्रस्ताव करनेवाले सांसद थे– अतहर कमाल मुसलमान, भरतकुमार शाह, दिलेन्द्र प्रसाद बडु, पार्वता डिजी चौधरी, दुर्गा पौडेल, प्रेम सुवाल, प्रमिला राई और प्रकाश रसाइली । इसीतहर मीनेन्द्र रिजाल, मानबहादुर विश्वकर्मा, रामबहादुर विष्ट, लक्ष्मी परियार, संजयकुमार गौतम, मीनबहादुर विश्वकर्मा, मिनाक्षी झा, गगनकुमार थापा, भीमसेनदास प्रधान, मीना पाण्डे, दिव्यमणि राजभण्डारी, देवेन्द्रराज कँडेल और अमरेशकुमार सिंह द्वारा प्रस्तुत प्रस्ताव भी अस्वीकार हुआ है ।
अब राष्ट्रीयसभा से विनियोजन विधेयक पारित होना बांकी है । कानुनतः असार अन्तिम हफ्ता तक दोनों सदन से विधेयक पारित होना जरुरी है । इसीतरह विनियोजन विधेयक परित होते ही प्रतिनिधिसभा में बजट संबंधी अन्य तीन आश्रित विधेयक भी प्रस्तुत हुआ है । अर्थमन्त्री डा. युवराज खतिवडा ने आर्थिक विधेयक, राष्ट्र ऋण वसूल संबंधी विधेयक और ऋण तथा जमानत २२वें संशोधन विधेयक को संसद् में पेश किया है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of