Sat. Nov 17th, 2018

गठजाेर से मधेश काे कितना फाईदा है ? : अब्दुल खानं

अब्दुल खानं,बर्दिया । नेपाल मे अभी के राजनीतिक धुर्विकरण अाैर परिस्थिति का जायजा लिया जाय ताे बिभिन पार्टी अाैर संघ- संगठनो के बिच दीर्घकालिन अाैर अल्पकालीन ऐकता बनते दिख रहा है | कमुनिष्ठ विचार के धार काे लेकर जाे राजनीति कर रहे है, अाैर जाे लाेकतान्त्रिक विचार की राजनीति कर रहे है,इन सभी समूहाे के सजातिय विचाराे मे गठबन्धन कायम हाेरहे है, मधेश की भूमिपर राजनीति करने वाली पार्टीयां भी अानेवाले चुनाव मे विजय प्राप्ति हेतु अल्पकालीन ही सही गठजाेर क्र्र्हें हैं इस मिलन काे बहुत लाेगाे ने ऐतिहासिक कदम माना है, कुछेक ने साेसल मिडिया पर धन्यवाद भी दिया है |

इनसारी अाैर म गठजाेर से मधेश काे कितना फाईदा है ? उन मधेश के मुद्दाे का क्या हुआ जिनकाे मधेसी नेता अपने हाथाे से लिखकर मधेसी जनता से वार वार पूरा करने का कसम लिया था ?  जाे पंजाछाप धारी थे, अाज सूरज छाप हाेगऐ, जाे तीर अाैर मशाल छाप थे वह पेंड छाप हाे गऐ | यह सब माैसम के बहाराे के समान बदलकर साबित कर रहे है कि यह दिखावा है। गठबन्धन महा-गठबन्धन बना ले उससे अाम मधेशियाे के लिऐ काेई बदलाव नही अासकता | वह सब सिर्फ बेवकुफ बनाने का जरिया है |  इन सभी गठबन्धनाे से उत्तम स्वतन्त्र मधेश गठबन्धन ही है, उसका जन्म से अाजतक तमाम उतार चडाव के बावजुद भी यह गठबन्धन है | इस मे मधेश का भूत काल, वर्तमान अाैर भविष्य दिख रहा है , इसी गठबन्धन से मधेश की मुक्ति अाैर मधेशियों का मान सम्मान अाैर पहिचान दिख रहा है |

 अभी नेपाल मे जिस प्रकार पाेलाेराईजेशन हाे रहा है यह सब स्थानिय चुनाव से पहले हाेना चाहिये था | अभी हाेने का मतलव दाल मे काला है कबाब मे हड्डी है। मधेश वाद बड रहा है, मधेसी राष्ट्रियता अपनी पुनर जीवन मधेश संजिवनी अभियान द्वारा प्राप्त हाे रहा है, मधेश देश के लिऐ अत्यधिक जनमत हाे रहा है, उसी का रियक्सन है | कमुनिष्ठ ऐक हाेकर मधेश पर अपना शासन, प्रशासन, भेष, भुषा संस्कार लादने का, खासकर नेपाल के मुख्य राजनीतिक दल मधेश पर हावी हाेकर अाजादी अभियान काे कुचलने का नयां सष्यन्त्र है। मधेश के उपर घाेर उपनिवेश लादने का गठबन्धन है। अब ताे हम मे तनिक सी भी स्वार्थ काे छाेड कर मधेश के लिऐ साेचना हाेगा | कलम के मसिहाे अब ताे जरा मधेश के भविष्य के लिऐ कलम के जरिऐ जुबाने खाेलाे, राजनिती के माहिर खेलाडियाे मुह से ताे बाेलाे, ऐकता धारियाे ऐकता के लिऐ हाथ बडाअाे, मधेश को अपने जीवन जिने का हक ताे अदा कराे।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of