Fri. Nov 16th, 2018

गाविस न्यूनतम शर्त तथा कार्य सम्पादन मापन में अनुतिर्ण

IMG_1002नेपालगन्ज÷(बा“के) पवन जायसवाल, २०७२ श्रावण १३ गते ।
न्यूनतम शर्त तथा कार्य सम्पादन मापन २०७०÷२०७१ मे बाके जिला के ८ गाविस अनुतिर्ण होने के बाद वो गाविसवासीयों असन्तुष्ट हुयें है ।
गाविस अध्यक्ष की जिम्मेवारी सम्हाल रहे गाविस सचिव और कुछ राजनीतिक दलों की मिलीभगत में गाविस को न्यूनतम शर्त तथा कार्य सम्पादन मापन में अनुतिर्ण करायें कहते हुयें आक्रोश व्यक्त करने लगे है ।
बा“के जिला के सोनपुर, शम्शेरगञ्ज, लक्ष्मणपुर, कटकुईया, कम्दी, कालाफा“टा, गनापुर, बेलहरी और हाल अभी नेपालगञ्ज उपमहानगरपालिका में गाविए के १० गाविस आ.ब. २०७०÷२०७१ के कार्य सम्पादन के आधार में अनुतिर्ण हुयें थे ।
आज बा“के जिला के शम्शेरगञ्ज गाविस में आयोजित सार्वजनिक सुनुवाई में शम्शेरगञ्जवासीयों ने गाविस अनुतिर्ण हुआ है कहते हुयें गाविस सचिव प्रति आक्रोश व्यक्त कियें है ।
गाविस के आयोजन में और बा“के युनेस्को कलब के प्राविधिक सहयोग में श्रावण १२ गते सम्पन्न सार्वजनिक सुनुवाई में बोलने वाले अधिका“श व्यक्तियों ने गाविस अनुतिर्ण होने की कारण क्या है उस पर जोढदार आवाज उठाया ।
नागरिकों की जिज्ञासा की उत्तर देते हुयें गाविस सचिव अग्नि आचार्य ने सामाजिक सुरक्षा भत्ता बितरण के लियें लिया गया पेश्की समय में फछच्र्याैट नकर पाने से गाविस अनुतिर्ण हुआ है बताया । उन्हों ने अव उप्रान्त गाविस को किसी भी हालत में अनुतिर्ण नही होने देगें प्रण समेत किया ।
सार्वजनिक सुनुवाई के अन्त में ६ बूंदे प्रतिवद्धता व्यक्त किया गया । प्रतिबद्धताओं में न्यूनतम शर्त तथा कार्य सम्पादन मापन में अनुतिर्ण होने नही देना, गाविस में रहा पुराना पेश्की फछच्र्याैट करके पेश्की शून्य में करेंगे, कृषि सेवा केन्द्र कोहलपुर की सेवा प्रभावकारी बनाना, बिकास निर्माण के कार्ये में स्थानीय सहभागिता बढाना, हवलदारपुर से बरगद के पेंड तक की जानेवाली सडक मध्यपश्चिम सडक डिभिजन कार्यालय ने निर्माण करेगी ते भी गाविस से समन्वय नही हुआ और काम अधुरा रहने के कारण से तत्काल सडक डिभिजन कार्यालय को पत्राचार करके लिखित जानकारी मा“ग करना, गाविस में हो रही सभी प्रकार की कार्ये को नियमित अनुगमन करना, गाविस को कर न देकर समन्वय न करके गाविस क्षेत्र के अन्दर कल, कारखाना उद्योग सञ्चालन करनेवाले सञ्चालकों को स्थानीय निकाय की ऐन, नियम अनुसार दायरा में लाने की भी बात है इस को जरुर लाना है ।
बास के कार्यकारी निर्देशक नमस्कार शाह ने सहजीकरण किया था कार्यक्रम में बा“के युनेस्को क्लब की सामाजिक परिचालक बन्दना सुनार ने स्वागत मन्त्व्य व्यक्त की थी ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of