Mon. Sep 24th, 2018

‘गुण्डागर्दी और साईबर अपराध के विरुद्ध सशक्त कारवाही’

काठमांडू, २८ जून । पुलिस महानिरीक्षक (आईजीपी) सर्वेन्द्र खनाल ने कहा है कि गुण्डागर्दी और साईबर अपराध के विरुद्ध सशक्त कारवाही की जाएगी । बिहीबार पुलिस हेडक्वाटर में आयोजित पत्रकार सम्मेलन को सम्बोधन करते हुए आईजीपी खनाल ने कहा– ‘गुण्डागर्दी और साईबर अपराध के विरुद्ध सशक्त कारवाही आगे बढ़या जाएगा, साईबर अपराध के कारण समाज बुरी तरह प्रभावित हो गया है । इसीलिए साईबर अपराध नियन्त्रण के लिए पुलिस के अन्दर एक अलग ही संरचना निर्माण करने की तैयारियां है ।’ उनका यह भी कहना है कि वह १० प्राथमिकता निर्धारण कर काम कर रहे हैं ।
आईजीपी खनाल ने यह भी कहा कि लागू औषध विरुद्ध आक्रामक कार्यक्रम तय करने की तैयारियां भी हो रही है । आईजीपी नियुक्त होने के बाद इस क्षेत्र में की गई महत्वपूर्ण कामों के सम्बन्ध में बात करते हुए आईजीपी खनाल ने कहा– ‘अपराध के विरुद्ध पुलिस निर्मम रुप में प्रस्तुत हो रही है, ऐसी ही क्रम में काठमांडू में दो बार तो गोली प्रहार की घटना हो गई है । फिल्म निर्माण के नाम में नकली नेपाली नोटों की कारोबार करनेवालों को भी कानुनी दायरा में लाया गया है ।’
३३ केजी सुन तस्करी और सनम शाक्य हत्या प्रकरण के संबंध में उन्होंने कहा कि घटना के संबंध में थप अनुसंधान जारी है, इसलिए ज्यादा बोलना ठीक नहीं है । अपराधीकरण को निर्मुलीकरण पर जोर देते हुए आईजीपी खनाल ने कहा– ‘सरकार द्वारा गठित छानबिन समिति और उसके द्वारा की गई कार्यसम्पादन के संबंध में बोलना ठीक नहीं है । कुछ पुलिस अधिकारी के ऊपर जो मुद्दा दर्ज है, उसमें हस्तक्षेप करने की कानुनी अधिकार भी मुझे नहीं है ।’
आईजीपी खनाल ने कहा कि नेपाल पुलिस को भी संघीय संचरना में ले जाने के लिए काम हो रहा है । उन्होंने कहा कि इसके लिए संघीय पुलिस ऐन और प्रादेशिक पुलिस ऐन की ड्राफ्ट निर्माण कार्य हो रहा है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of