Fri. Sep 21st, 2018

घर में सुख शांति लाने के लिए कुछ वास्तु टिप्स

हर व्यक्ति की चाहत होती है कि घर में शांत और खशी का माहौल हो। मगर, कई बार आपने देखा होगा कि सबकुछ अच्छा होते हुए भी घर में मानसिक शांति नहीं मिलती। परिवार के सदस्यों के बीच बिना किसी बात के मन-मुटाव या तनाव हमेशा बना रहा है। अगर, आपको इसका कोई कारण समझ में नहीं आता है, तो हम आपको बता दें कि इसकी वजह वास्तु संबंधी दोष हो सकते हैं।

वास्तु शास्त्र में प्रकृति की पांच प्राथमिक शक्तियों पृथ्वी, अग्नि, वायु, जल और वायु की शक्ति को देखा जाता है। वास्तु शास्त्र का मुख्य मकसद सकारात्मक ऊर्जा को बढ़ाना और मानव जीवन को ऊंचा उठाना है। यदि आप भी इन वास्तु टिप्स को अपनाते हैं, तो आपके घर में भी सकारात्मक ऊर्जा का संचार होगा।

  • उत्तर-पूर्व दिशा के बीच में एक मनी प्लांट या बांस का पेड़ लगाने से न केवल सकारात्मक आभा घर में बनेगी, बल्कि आपको आर्थिक रूप से भी यह मजबूत करेगा।
  • दक्षिणी-पश्चिमी दिशा में लकड़ी के पीले या गोल्डन फ्रेम में परिवार की तस्वीर लगाने से परिवार के लोगों के बीच संबंध अच्छे बने रहते हैं।
  • पूर्व दिशा में उगते हुए सूरज की पेंटिंग रखने से आप अपने सामाजिक संबंधों को बढ़ा सकते हैं।
  • प्रवेश द्वार पर गणेश की मूर्ति या तस्वीर लगाने से सकारात्मक ऊर्जा मिलती है।
  • उत्तर-पूर्व दिशा में सीनरी लगाने से आपको अच्छी योजनाएं बनाने में मदद मिलेगी।
  • घर में दरवाजे और खिड़कियां की संख्या को सम यानी 2, 4, 6, 8… में रखने की कोशिश करें।
  • पढ़ाई-लिखाई में बेहतर प्रदर्शन के लिए पूर्व की दिशा में बच्चों की टेबल रखें।
  • अक्सर लोग चीजों को बिस्तर या गद्दे के नीचे रखते हैं। गैर-जरूरी चीजों को वहां से हटा दें क्योंकि ये आप पर भार बनाती हैं और आगे बढ़ने से रोकती हैं।
  • बेडरूम की दीवारों पर गहरे रंग का इस्तेमाल नहीं करें, कमरे को अच्छी तरह से रोशन रखें।
  • सकारात्मकता लाने के लिए बाथरूम में मोमबत्तियों या हरे पौधों रखें।
  • पत्नी को हमेशा पति के बाईं तरफ सोने चाहिए और बिस्तर पर सिर्फ एक ही गद्दे का उपयोग करें।
  • घर का पूर्वोत्तर कोना पूजा-पाठ करने के लिए सबसे शुभ दिशा है।
आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of